BREAKING NEWS

अक्षर ने शुरूआती दोहरे झटके के बाद इंग्लैंड की आधी टीम लौटी पवेलियन, स्टोक्स 55 रन बनाकर आउट ◾अनुराग कश्यप और तापसी के खिलाफ IT की कार्रवाई को लेकर राहुल का केंद्र पर हमला◾ताजमहल को बम से उड़ाने की अफवाह, पुलिस ने फर्जी कॉल करने वाले को किया गिरफ्तार◾Today's Corona Update : 24 घंटों के दौरान डेथ रेट में कमी, सक्रिय मामलों में बढ़ोतरी◾राम मंदिर परिसर का होगा विस्तार, ट्रस्ट ने खरीदी 7,285 वर्ग फुट जमीन◾ विश्व में कोरोना के मामले 11.51 करोड़ के पार, 25.5 लाख से अधिक लोगों की हुई मौत ◾TOP- 5 NEWS 04 MARCH : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें◾उत्तर प्रदेश : मुख्तार अंसारी गैंग के 2 शूटर मुठभेड़ में ढेर, 50 हजार का था इनाम◾तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप से देर रात तक चली पूछताछ, आज फिर जारी रहेगी कार्यवाही ◾BJP ने RSS पर बयान देने के लिए राहुल को लिया आड़े हाथ : कहा- समझने में लगेगा बहुत समय ◾आज का राशिफल (04 मार्च 2021)◾ब्रह्मोस मिसाइल आपूर्ति : भारत ने ‘रक्षा उपकरण’ की बिक्री के लिए फिलिपीन के साथ समझौते पर किया हस्ताक्षर ◾TMC की शिकायत पर EC का आदेश, 72 घंटे में हटाएं PM मोदी की तस्वीर◾असम में सहयोगी दलों के साथ सीटों के बंटवारे पर हुआ भाजपा का समझौता, घोषणा जल्द ◾जिस सीढ़ी पर चढ़कर ऊंचे मुकाम पर पहुंचे, क्या उसे गिराना सही: खुर्शीद ने समूह-23 के नेताओं से पूछा ◾भारत बायोटेक की COVAXIN का थर्ड फेज ट्रायल का रिजल्ट जारी ◾राजनीति से रहूंगी दूर, जयललिता के स्वर्णयुगीन शासन के लिए प्रार्थना करूंगी : शशिकला ◾ अखिलेश यादव बोले- पश्चिम बंगाल की जनता को भ्रमित कर रहे हैं योगी ◾इमरजेंसी वाले बयान पर जावड़ेकर का पलटवार,कहा- आरएसएस को समझने में बहुत समय लगेगा◾वैक्सीन सर्टिफिकेट पर छपी PM मोदी की फोटो पर TMC ने जताया ऐतराज, EC से की शिकायत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

मोदी के दौरे से पहले, आसु ने सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के लिए असम में मशाल जुलूस निकाला

ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (आसु) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की असम की यात्रा से ठीक पहले अपनी मांगों के समर्थन में शुक्रवार को मशाल जुलूस निकाला। उनकी मांगों में मुख्य रूप से संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) रद्द करना शामिल है। 

आसु पर्यावरण प्रभाव आकलन अधिनियम रद्द करने और असम संधि की धारा छह पर समिति की रिपोर्ट का क्रियान्वयन करने के भी पक्ष में है। यह धारा मूल निवासियों के संवैधानिक अधिकारों का संरक्षण करती है। 

आसु के सलाहकार समुज्ज्ल भट्टाचार्य और अध्यक्ष दीपांक कुमार नाथ को पुलिस अधिकारियों के साथ तीखी बहस करते देखा गया। पुलिस अधिकारियों का कहना था कि मशाल सौंपे जाने पर ही उन्हें आगे बढ़ने की अनुमति दी जाएगी। 

भट्टाचार्य ने कहा, ‘‘हमने मशालें सौंपने से इनकार कर दिया क्योंकि यह हमारे विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम का हिस्सा था और हम इसे नहीं बदलेंगे।’’ 

उन्होंने प्रदर्शन को कुचलने के लिए पुलिस भेजने को लेकर मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल की आलोचना की। 

उल्लेखनीय है कि सोनोवाल उस वक्त आसु के अध्यक्ष थे, जब भट्टाचार्य इसके महासचिव हुआ करते थे। 

भट्टाचार्य ने कहा, ‘‘सोनोवाला स्वाहीद भवन से मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुंचे और अब वह लोकतांत्रिक एवं शांतिपूर्ण प्रदर्शन को रोकने के लिए पुलिस भेज रहे हैं। यह शर्मनाक है और हम इसकी निंदा करते हैं। ’’ 

प्रदर्शनकारियों ने मोदी, शाह और सोनोवाल के खिलाफ नारेबाजी की। 

प्रधानमंत्री शनिवार को शिवसागर जिले में असम सरकार द्वारा एक लाख से भी अधिक निवासियों को भूमि पट्टा वितरित किए जाने के कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। वहीं, शाह के रविवार को राज्य की यात्रा करने का कार्यक्रम है। 

इस बीच, आसु के सदस्य पुलिस के साथ हुई एक झड़प में घायल हो गये। दरअसल, पुलिस ने तेजपुर में उन्हें मशाल जुलूस निकालने से रोकने की कोशिश की थी। 

आसु ने घोषणा की है कि मोदी की शनिवार की यात्रा के दौरान उसके कार्यकर्ता सभी जिलों और अनुमंडलों में काले कपड़े से चेहरे को ढंक कर प्रदर्शन करेंगे। साथ ही, आसु ने 24 जनवरी को शाह की यात्रा के दौरान सीएए की प्रतियां जला कर काला दिवस मनाने की घोषणा की है।