गोपालगंज : पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने संविधान बचाओ न्याय यात्रा पर जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने नीतीश कुमार के डीएनए पर सवाल खड़ा कर दिया। तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा ने कहा था कि नीतीश कुमार का डीएनए गड़बड़ है। अब नीतीश उसी भाजपा के साथ हैं। उन्होंने अपना डीएनए साबित कर दिया है। लालू यादव को साजिश के तहत जेल भेजा गया है। ऐसा कोई सगा नहीं जिसको नीतीश चाचा ने ठगा नहीं।

श्री तेजस्वी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी का तोता सीबीआई, ईडी आदि को हमारे पीछे डराने के लिए लगाया गया है। हमारे ऊपर 25 मुकदमा किया गया है। मेरे ऊपर आरोप लगाया गया है कि जब मै नाबालिग था तब रेलवे में बैठकर घोटाला करता था। मेरे पूरे परिवार के ऊपर झूठा मुकदमा किया गया है। तेजस्वी ने भाजपा और आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग देश का संविधान बदलकर नागपुरिया संविधान लागू करना चाहते हैं। तेजस्वी ने कहा कि आज देश का संविधान खतरे में है।

जिसका मतलब गरीबों, शोषितों व वंचितों का आरक्षण भी खतरे में है। इसी को बचाने के लिए मैं जनता की अदालत में आया हूं। अपने पिता के जेल में होने की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार विरोधियों को फंसा रही है। जान-बूझकर सबको जेल भेजा जा रहा है। उनके परिवार को कोर्ट पर पूरा भरोसा है। मेरे पिता शेर हैं मोदी सरकार ने मेरे पिता पर, मां पर, भाई पर, बहन पर, बहन की सास पर और उनके रिश्तेदार पर प्राथमिकी दर्ज कराई है,जो झूठा है।