BREAKING NEWS

योगी सरकार पर फिर बरसीं मायावती, कहा- भाजपा के शासन में धर्म संबंधी असुरक्षा लगातार बढ़ रही◾गणतंत्र दिवस: समारोह में एंट्री के लिए अहम निर्देशों का करना होगा पालन, जानें सुरक्षा तैयारियों की जानकारी ◾UP चुनाव : कैराना में अमित शाह ने तोड़े कोरोना नियम, EC के पास शिकायत लेकर पहुंची सपा ◾ओमीक्रॉन के आतंक के बीच हुई नए सब-वेरिएंट BA.2 की एंट्री, भारत में भी मौजूद, जानें कितना खतरनाक? ◾उद्धव के बयान पर बोली BJP-हिंदुत्व की नसीहत देने से पहले बाला साहब ठाकरे के विचारों पर करें मंथन◾उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर अमित शाह और जेपी नड्डा ने मांगा जनता का आशीर्वाद, ट्वीट कर दी बधाई◾UP चुनाव : अंतिम 3 चरणों के लिए उम्मीदवारों के नाम को लेकर दिल्ली में BJP का मंथन◾Today's Corona Update : गिरावट के बावजूद देश में 3 लाख से ज्यादा नए केस, 439 मरीजों की मौत◾कोरोना के आतंक के बीच ओमिक्रॉन वैरिएंट से किन लोगों को है मौत का खतरा, WHO ने दी विस्तृत जानकारी ◾World Corona Update: कोरोना के वैश्विक मामलों में इजाफे का सिलसिला जारी, 35.09 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमित ◾यूक्रेन संकट के चलते अमेरिका और रूस में बढ़ी कड़वाहट, लोगों के लिए जारी की गई ट्रैवल एडवाइजरी ◾कड़कड़ाती ठंड का सितम अभी रहेगा जारी, दिल्ली में बारिश ने तोड़ा 122 साल का रिकॉर्ड, पहाड़ों पर भारी बर्फबारी◾नेताजी की प्रतिमा आने वाली पीढ़ियों को साहस, राष्ट्रभक्ति एवं बलिदान के लिए प्रेरित करेगी - अमित शाह ◾PM मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना - महान व्यक्तित्वों के योगदान को मिटाने का हुआ प्रयास , अब देश गलतियों को कर रहा है ठीक◾भारत ने नेताजी की 125वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी, राष्ट्र ने योगदान को किया याद ◾CM योगी ने अखिलेश पर साधा निशाना - सपा ने हज हाउस बनवाया, हमने कैलाश मानसरोवर भवन◾SA vs IND : दक्षिण अफ्रीका ने भारत को चार रन से हराकर सीरीज पर किया कब्जा◾असमः गणतंत्र दिवस पर उल्फा(आई) का बंद नहीं, सीएम सरमा ने किया स्वागत◾पश्चिम बंगाल : सांसद अर्जुन सिंह पर फेंके गए पत्थर, BJP-TMC समर्थकों में जमकर हुई हाथापाई ◾अखिलेश के राज में बिजली ही नहीं आती थी, आज वो फ्री बिजली देने की बात कर रहे हैंः सीएम योगी ◾

HC का मुंबई पुलिस को निर्देश- अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार करने से तीन दिन पहले दें नोटिस

बंबई उच्च न्यायालय ने बुधवार को मुंबई पुलिस को निर्देश दिया कि अगर वह टेलीविजन रेटिंग प्वाइंट (टीआरपी) घोटाला मामले में रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्णब गोस्वामी को गिरफ्तार करना चाहती है तो उन्हें तीन दिन पहले इस संबंध में नोटिस दें।

न्यायमूर्ति एसएस शिंदे और न्यायमूर्ति मनीष पिताले की पीठ ने महाराष्ट्र सरकार के इस बयान को भी स्वीकार किया कि रिपब्लिक टीवी, एआरजी आउटलायर मीडिया के अन्य कर्मचारियों और अन्य टेलीविजन चैनलों के खिलाफ जांच 12 हफ्तों में पूरी हो जाएगी। अदालत गोस्वामी और एआरजी मीडिया की कई याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है जिसमें उन्होंने मामले में कई राहतें मांगी हैं।

याचिकाकर्ताओं ने दावा किया था मुंबई पुलिस की अपराध शाखा के पास उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं है लेकिन वह आरोपपत्र में संदिग्ध के तौर पर उनका नाम लेकर जांच को खींच रही है। सोमवार को हुई सुनवाई में उच्च न्यायालय ने पुलिस से कहा कि वह कोई भी मामले में किसी का भी नाम लिए बगैर महीनों तक जांच नहीं कर सकती।

अदालत ने कहा कि रिकॉर्ड में उपलब्ध तथ्यों पर गौर करते हुए पुलिस के पास मामले में गोस्वामी के खिलाफ कुछ भी ठोस नहीं है। पीठ ने कहा, ‘‘अगर जांच के दौरान आपको कुछ मिलता है और आप याचिकाकर्ता के खिलाफ बलपूर्वक कार्रवाई करना चाहते हैं तो आपको गोस्वामी को 72 घंटे पहले नोटिस देना होगा।’’ अदालत 28 जून को फिर से दलीलों पर सुनवाई करेगी।

उत्तराखंड HC ने CM तीरथ सिंह रावत का फैसला पलटा, अब कुंभ में शामिल होने के लिए RTPCR टेस्ट जरूरी