BREAKING NEWS

पीएम मोदी के दो दिवसीय गुजरात दौरे की हुई शुरुआत, पांच लाख पौधे वाले आरोग्य वन का किया लोकार्पण ◾बिहार : दूसरे चरण के चुनाव में आरजेडी,जेडीयू के सामने बड़ी चुनौती, सिवान में कांटे की टक्कर ◾राष्ट्रपति, पीएम सहित कांग्रेस नेताओं ने 'मिलाद-उन-नबी' के मौके पर देशवासियों को दी बधाई◾चीन द्वारा पूर्वी लद्दाख में दोबारा जमीन कब्जाने वाली रिपोर्ट को भारतीय सेना ने फर्जी करार दिया ◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर में 'टीआरएफ' द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की निंदा की◾IPL -13 : राजस्थान रॉयल्स की जीत होगी बेहद जरूरी हार के साथ हो सकती है प्लेऑफ की दौड़ से बाहर ◾PM मोदी ने पूर्व CM केशुभाई को दी श्रद्धांजलि, महेश और नरेश कनोडिया के परिजनों से की मुलाकात◾जम्मू और कश्मीर : BJP नेताओं के घर पसरा मातम, नड्डा बोले-व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान◾मुंगेर घटना को संजय राउत ने बताया हिंदुत्व पर हमला, BJP की चुप्पी पर उठाया सवाल ◾LAC तनाव के बीच चीन की तैयारी, कड़ाके की ठंड से निपटने के लिए अपने सैनिकों को दिए हाई-टेक उपकरण ◾नीस आतंकी हमले पर मलेशिया के पूर्व PM की विवादित टिप्पणी, ‘मुस्लिमों को फ्रांस के लोगों की हत्या करने का हक’◾TOP 5 NEWS 30 OCTOBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾देश में कोरोना मामले 81 लाख के करीब, एक्टिव केस छह लाख से कम◾बिहार चुनाव में CM नीतीश का आरक्षण पर बड़ा दांव, आबादी के हिसाब से मिले लोगों को रिजर्वेशन ◾दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप तेज, वैश्विक स्तर पर संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े 4 करोड़ के करीब ◾आज का राशिफल ( 30 अक्टूबर 2020 )◾आतंकवाद के खिलाफ जंग में भारत फ्रांस के साथ : PM मोदी◾PM मोदी आज से दो दिन के गुजरात दौरे पर, देश की पहली सी-प्लेन सेवा का करेंगे उद्घाटन◾CSK vs KKR ( IPL 2020 ) : रुतुराज और जडेजा ने चेन्नई सुपरकिंग्स को दिलाई जीत, मुंबई प्ले आफ में◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

चेन्नई : कोरोना से जंग हारने वाले डॉक्टर के अंतिम संस्कार का लोगों ने किया विरोध

चेन्नई : चेन्नई में कोरोना वायरस के संक्रमण से आंध्र प्रदेश के एक डॉक्टर की मृत्यु हो गई जिसके बाद डॉक्टर के अंतिम संस्कार के लिए स्थानीय लोगों ने डॉक्टर के शव का अंतिम संस्कार करने पर जमकर विरोध किया जिसके कारण अधिकारियों को डॉक्टर का शव अन्य स्थान पर ले जा कर अंतिम संस्कार करना पड़ा। 

पुलिस के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार एक कॉर्पोरेट अस्पताल में सोमवार को 56 वर्षीय एक डॉक्टर की मौत हो गई थी। डॉक्टर का अंतिम संस्कार करने के लिए डॉक्टर के शव को अम्बत्तूर क्षेत्र में श्मशान घाट ले जाया गया जहां स्थानीय लोगों ने जहां स्थानीय लोगों ने यह कहते हुए इसका विरोध किया कि इससे उनके क्षेत्र में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने की आशंका है।

उन्होंने बताया कि इसके बाद नेल्लोर के रहने वाले व्यक्ति के शव को वापस अस्पताल के मुर्दाघर में ले जाया गया। सरकार के शीर्ष सूत्रों ने बताया कि व्यक्ति का अंतिम संस्कार सोमवार की रात शहर के किसी अन्य क्षेत्र में किया गया।चेन्नई निगम के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस पीड़ितों के लिए तय दिशानिर्देशों के अनुसार अंतिम संस्कार किया गया है।

अंतिम संस्कार का स्थानीय लोगों द्वारा विरोध किये जाने के बारे में पूछे जाने पर राज्य की स्वास्थ्य सचिव बीला राजेश ने बताया कि इसके पीछे समन्वय की कमी एक कारण हो सकता है लेकिन उन्होंने इस संबंध में विस्तृत जानकारी नहीं दी। उन्होंने कहा, ‘‘यह एक बहुत ही संवेदनशील मुद्दा है। सरकार में हर किसी को उन दिशा निर्देशों के बारे में पता है जिनका (एक शव) के अंतिम संस्कार के लिए पालन किया जाता है। हमने निजी अस्पतालों को भी दिशानिर्देश जारी किये हैं। पहले कभी इस तरह के मामले सामने नहीं आये है। समन्वय की थोड़ी कमी रही है।’’

राजेश ने बताया कि सरकार ने पहले ही जिला कलेक्टरों को प्रक्रियाओं का पालन करने के बारे में सूचित कर दिया है।डॉक्टर तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होने वाले कोरोना वायरस से संक्रमित एक व्यक्ति के संपर्क में आ गये थे।डॉक्टर को पहले यहां से लगभग 175 किलोमीटर दूर नेल्लोर में एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था और इसके बाद उन्हें छह अप्रैल को कॉर्पोरेट अस्पताल स्थानांतरित किया गया। वह मधुमेह के रोगी थे और उच्च रक्तचाप से भी पीड़ित थे।

तमिलनाडु में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि सोमवार तक संक्रमित लोगों की कुल संख्या 1,173 थी। इस बीच लगभग 100 लोगों के खून के नमूनों को जांच के लिए ले जाया गया है। ये लोग शहर के उस आरएस पुरम क्षेत्र के निवासी हैं जहां कुछ दिन पहले चार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये थे।