BREAKING NEWS

पंजाब, हरियाणा के किसान कृषि विधेयकों के खिलाफ 25 सितम्बर को करेंगे विरोध प्रदर्शन◾MP में किसानों के फसल कर्ज माफी पर बोले राहुल - कांग्रेस ने जो कहा, सो किया◾KXIP VS RCB (IPL 2020) : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की करारी हार, किंग्स इलेवन पंजाब ने RCB को 97 रनों से हराया◾भारत-चीन सीमा विवाद : दोनों पक्ष सैनिकों को पीछे हटाने के लिए वार्ता जारी रखेंगे - विदेश मंत्रालय◾ड्रग्स केस: गोवा से मुंबई पहुंचीं दीपिका पादुकोण, शनिवार को NCB करेगी पूछताछ◾ KXIP vs RCB IPL 2020 : पंजाब ने बैंगलोर को दिया 207 रनों का टारगेट, केएल राहुल ने जड़ा शतक◾महाराष्ट्र में कोरोना के 19164 नए केस, 17185 मरीज हुए ठीक◾जाप ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र, बेरोजगारों को रोजगार देने का किया वादा ◾COVID-19 से संक्रमित मनीष सिसोदिया डेंगू से भी पीड़ित हुए, लगातार गिर रही है ब्लड प्लेटलेट्स◾कृषि और श्रम कानून को लेकर राकांपा का केंद्र पर तंज, कहा- ईस्ट इंडिया कंपनी स्थापित कर रही है सरकार ◾महिला अपराध पर सीएम योगी सख्त, छेड़खानी और बलात्कारियों के पोस्टर लगाने का दिया आदेश ◾कांग्रेस का बड़ा आरोप - केंद्र सरकार ने कृषि विधेयकों के जरिए नयी जमींदारी प्रथा का उद्घाटन किया◾IPL 2020 KXIP vs RCB: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का किया फैसला◾कृषि बिल के विरोध पर बोले केंद्रीय मंत्री तोमर, कांग्रेस पहले अपने घोषणापत्र से मुकरने की करे घोषणा◾महीनों के लॉकडाउन के बाद भी नहीं थम रहा है कोरोना, जानिये भारत क्यों चुका रहा है भारी कीमत◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने कहा- विपक्षी दलों की राजनीति हो गई है दिशाहीन ◾ICU में भर्ती डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की हालत स्थिर, अगले कुछ दिनों में फिर होगा कोरोना टेस्ट ◾रेलवे ने जताई चिंता - 'रेल रोको आंदोलन' से जरूरी सामानों और राशन की आवाजाही पर पड़ेगा असर ◾महाराष्ट्र : एकनाथ शिंदे भी कोरोना वायरस से संक्रमित, संपर्क में आए लोगों से जांच करवाने की अपील की ◾कांग्रेस ने अमित शाह की रैली को बताया जनता का अपमान, कोरोना संकट में धनबल की राजनीति का लगाया आरोप◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र 12 जुलाई से शुरू

छत्तीसगढ़ विधानसभा के सचिव चंद्र शेखर गंगराड़े ने आज यहां भाषा को बताया कि विधानसभा का मानसून सत्र इस शुक्रवार 12 जुलाई से 19 जुलाई के मध्य होगा। इस सत्र में कुल छह बैठकें होंगी। गंगराड़े ने बताया कि मानसून सत्र के दौरान सदस्यों के निधन का उल्लेख, प्रश्न उत्तर, वित्तीय और विधायी कार्य होगा। इस दौरान राज्य सरकार अनुपूरक बजट भी पेश करेगी। सचिव ने बताया कि पंचम विधानसभा के इस दूसरे सत्र, मानसून सत्र के लिए विधायकों से अभी तक कुल 946 प्रश्न प्राप्त हुआ है। 

राज्य में वर्ष 2018 में भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली कांग्रेस की सरकार बनने के बाद यह दूसरा विधानसभा सत्र है। इस वर्ष लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद यह पहला मौका है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष और विपक्ष आमने सामने होगा। विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत के बाद लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने जहां 90 में से 68 सीटों पर जीत हासिल की थी वहीं लोकसभा चुनाव में पार्टी को 11 में से केवल दो सीटें ही मिल पाई। जबकि नौ सीटों पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत हासिल की है।

 लोकसभा चुनाव में जीत से उत्साहित भारतीय जनता पार्टी मानसून सत्र के दौरान सरकार को घेरने की कोशिश करेगी। विधानसभा में विपक्ष के नेता धरमलाल कौशिक ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार नक्सल मुद्दे पर विफल रही है। लोकसभा चुनाव के दौरान दंतेवाड़ा क्षेत्र के भाजपा के विधायक भीमा मंडावी की नक्सलियों ने हत्या कर दी थी। इस विषय को भी विधानसभा में उठाया जाएगा। साथ ही राज्य में कथित रूप से बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर भी सरकार से सवाल किया जाएगा। 

कर्नाटक व गोवा घटनाओं को लेकर विपक्ष का संसद के बाहर विरोध प्रदर्शन

कौशिक ने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ में किसानों की स्थिति खराब है, उन्हें खाद, बीज नहीं मिल पा रहा है जिससे राज्य के किसान नाराज हैं। राज्य में विकास के काम ठप है। इन सभी मुद्दों को सदन में उठाया जाएगा। वहीं सत्ता पक्ष का कहना है कि राज्य में नई सरकार के गठन के बाद से लगातार विकास के काम हो रहे हैं तथा किसानों के हित में कई फैसले लिए गए हैं। 

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता शैलेष नितिन त्रिवेदी कहते हैं कि मानसून सत्र में विधायक किसानों के मुद्दे प्रमुख रूप से उठाएंगे। राज्य में नई सरकार के गठन के बाद किसानों का कर्ज माफ किया गया तथा किसानों के हित में कई फैसले लिए गए। वहीं राज्य में शहर और गांवों के विकास के लिए लगातार काम किए जा रहे हैं। त्रिवेदी कहते हैं कि राज्य सरकार राज्य में जल की उपयोगिता के लिए विधेयक विधानसभा में ला सकती है। यह विधेयक भी किसानों के हित में है।