BREAKING NEWS

दिल्ली बॉर्डर सील मामले में SC ने तीनों राज्यों को NCR में आवागमन के लिए कॉमन नीति बनाने के दिए निर्देश◾वर्चुअल समिट में PM मोदी ने ऑस्ट्रेलिया के साथ भारत के संबंधों को मजबूत करने के लिए जाहिर की प्रतिबद्धता ◾राहुल के साथ बातचीत में राजीव बजाज ने कहा- लॉकडाउन से देश की अर्थव्यवस्था तबाह हो गई◾केरल में हथिनी की हत्या पर केंद्र गंभीर, जावड़ेकर बोले-दोषी को दी जाएगी कड़ी सजा◾कांग्रेस को मिल सकता है झटका,पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले AAP का दामन थाम सकते हैं सिद्धू ◾World Corona : दुनियाभर में करीब 4 लाख लोगों ने गंवाई जान, संक्रमितों का आंकड़ा 65 लाख के करीब ◾देश में कोरोना से संक्रमितों की संख्या 2 लाख 17 हजार के करीब, अब तक 6000 से अधिक लोगों की मौत◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन आज वर्चुअल शिखर सम्मेलन में लेंगे हिस्सा◾US में वैश्विक महामारी का कहर जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 18 लाख के पार ◾लद्दाख सीमा पर कम हुआ तनाव, गलवान और चुसूल में दोनों देश की सेनाएं पीछे हटीं◾नोएडा में भूकंप के झटके हुए महसूस , रिक्टर स्केल पर तीव्रता 3.2 मापी गई◾दिल्ली में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, बीते 24 घंटों में 1513 नए मामले आये सामने ◾कोविड-19: अब तक 40 लाख से अधिक नमूनों की जांच की गई , 48.31 फीसदी मरीज स्वस्थ ◾महाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना से 122 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 74,860 हुई◾गृह मंत्रालय ने विदेशी कारोबारियों, स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों और इंजीनियरों को भारत आने की अनुमति दी ◾केंद्रीय मंत्रिमंडल के फैसलों पर पीएम मोदी बोले - किसानों की आय में होगी वृद्धि, बंदिशें हुई खत्म◾गुजरात में फैक्टरी की भट्ठी में भीषण विस्फोट, पांच की मौत, 40 कर्मी झुलसे ◾मुंबई में चक्रवाती तूफान निसर्ग का कहर खत्म, कम हुई हवाओं की रफ्तार◾महाराष्ट्र के रायगढ़ में निसर्ग तूफान ने मचाई तबाही, कई जगह गिरे पेड़ और बिजली के खंभे ◾मोदी कैबिनेट ने किसानों के हित में लिया बड़ा फैसला, वन नेशन-वन मार्केट पर की चर्चा◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

मुख्यमंत्री बोले - बांस कारीगरों को नई तकनीकों से अवगत कराना है बांस मेले का मुख्य उद्देश्य

झारखंड : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने दुमका में आयोजित दो दिवसीय बांस कारीगर मेले के समापन समारोह में सम्बोधित करते हुए कहा कि बांस मेले का मुख्य उद्देश्य यंहा के कारीगरों को नई तकनीक से वाकिफ कराना है ताकि वह अपना काम तकनीकों की सहायता से और भी बेहतर कर सकें। उन्होंने कहा कि झारखंड संभावनाओं से भरा प्रदेश है। कुटीर उद्योग, लघु और ग्राम उद्योग अर्थव्यवस्था की रीढ़ होते हैं। 

सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुधारने का कार्य कर रही है। यह रेखांकित करते हुए कि ‘‘दुनिया तेजी से तकनीक, ज्ञान और विज्ञान के साथ बढ़ रही है’’ उन्होंने कहा कि प्रदेश के बांस कारीगरों को भी पीछे नहीं रहना चाहिए और नयी तकनीकों से अवगत होकर उनका इस्तेमाल करना चाहिए। दास ने कहा कि उनकी सरकार का प्रयास है कि पूरी दुनिया में झारखंड के बांस उत्पादों की अलग पहचान बने।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे विश्वास है कि भविष्य में देश ही नहीं विदेशी बाजारों में भी झारखंड के हस्तशिल्पकारों के उत्पाद नजर आएंगे। सरकार का लक्ष्य हुनरमंद युवाओं और महिलाओं के अंदर छिपी कला को निखारना, उन्हें अत्याधुनिक तकनीक से अवगत कराना, उनसे बेहतरीन उत्पाद का निर्माण कराना और उनकी कला का सम्मान व उनका मान बढ़ाना है।’’ 

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मुझे यह जानकर खुशी है कि झारखंड में बने बांस के सामान की गुणवत्ता देश में सबसे अच्छी है। झारखंड वन प्रदेश है। झारखंड के कुल भौगोलिक क्षेत्रफल का 33 प्रतिशत वन है। यहां के युवाओं, महिलाओं को हुनरमंद बनाकर हम वनोत्पादों के माध्यम से उनकी आय और रोजगार बढ़ा सकते हैं। इसी सिलसिले में बांस कारीगर मेले का आयोजन किया गया है।’’ 

मुख्यमंत्री ने कहा कि वन विभाग तथा उद्योग विभाग द्वारा 20 करोड़ बांस के पौधे किसानों को उपलब्ध कराए जाएंगे। पांच साल की विकास योजना तैयार की जा रही है। संथाल परगना में ‘अंतरराष्ट्रीय स्तरीय इंटीग्रेटेड बंबू पार्क’ की स्थापना की जाएगी ताकि अंतरराष्ट्रीय मानदंडों पर खरा उतरने वाली सामग्री का उत्पादन हो सके। कोशिश होगी कि भविष्य में हमें बांस उत्पाद में चीन और वियतनाम की बराबरी कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि एक महीने के अंदर सरकार राज्य के 10 बांस कारीगरों को वियतनाम और चीन भेजेगी। उद्योग सचिव के रविकुमार ने कहा कि छह लाख परिवार बांस उद्योग से जुड़े हुए हैं।