BREAKING NEWS

PM मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से की भेंट ◾ भाजपा के शीर्ष नेताओं ने दिल्ली इकाई के नेताओं के साथ विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा की ◾पुतिन ने मोदी को मई में विजय दिवस समारोह के लिए किया आमंत्रित ◾नगा मुद्दा : मणिपुर के कांग्रेस विधायक सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री से मिलने पहुंचे दिल्ली◾महाराष्ट्र : कांग्रेस, राकांपा ने सीएमपी पर बनाई कमेटी, भाजपा भी नाउम्मीद नहीं ◾अमित शाह ने विपक्ष पर ‘‘कोरी राजनीति’’ करने का लगाया आरोप, कहा- किसी दल के पास बहुमत हो तो कर सकता है दावा ◾अयोध्या पर उच्चतम न्यायालय के फैसले को मुख्यमंत्री योगी ने बताया स्वर्णाक्षरों में लिखे जाने वाला ◾पेट में दर्द की शिकायत के बाद मुलायम पीजीआई में भर्ती ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए शिवसेना और कांग्रेस-NCP के बीच बातचीत जारी◾SC के पैनल ने दिल्ली-NCR में 15 नवंबर तक स्कूल बंद रखने का दिया आदेश◾प्रधानमंत्री मोदी को ब्रिक्स सम्मेलन से आर्थिक, सांस्कृतिक संबंध मजबूत होने की उम्मीद ◾TOP 20 NEWS 11 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾बातचीत सही दिशा में आगे बढ़ रही है : ठाकरे ने कांग्रेस नेताओं से मुलाकात के बाद कहा ◾JNU ने वापस लिया शुल्क बढ़ोतरी का फैसला, आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए योजना की प्रस्तावित ◾सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, RTI के दायरे में आएगा CJI का दफ्तर◾संजय राउत को अस्पताल से मिली छुट्टी, कहा- महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री तो शिवसेना का ही होगा◾कुलभूषण जाधव के लिए पाकिस्तान करेगा अपने आर्मी एक्ट में बदलाव ◾शिवसेना का BJP पर तीखा वार, कहा-सरकार गठन को लेकर जारी गतिरोध का आनंद उठा रही है पार्टी◾कर्नाटक के 17 विधायक अयोग्य, लेकिन लड़ सकते हैं चुनाव : SC◾महाराष्ट्र : राज्यपाल के फैसले को SC में चुनौती देने वाली याचिका का उल्लेख नहीं करेगी शिवसेना◾

अन्य राज्य

CM फड़णवीस ने पाक संबंधी बयान को लेकर शरद पवार पर साधा निशाना, कहा- वोट बैंक की राजनीति

पाकिस्तानी लोगों के संबंध में राकांपा नेता शरद पवार के बयान को लेकर चुनावी प्रदेश महाराष्ट्र में सरगर्मियों तेज हो गयी हैं और मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने इसे वोट बैंक की राजनीति बताया। फड़णवीस ने यह भी कहा कि बड़े नेताओं को यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि क्या उनके बयान से भारत को फायदा हो रहा है या पाकिस्तान का। 

उन्होंने कहा कि भारत पर निशाना साधने के लिए पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की टिप्पणी का इस्तेमाल किया था। इस बीच, पार्टी के वरिष्ठ नेता पर हो रहे हमले के बाद राकांपा ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि वह पवार के बयान को अपने मकसद से तोड़ मरोड़ रहे हैं। 

नितिन गडकरी बोले- सिर्फ आरक्षण से किसी समुदाय का विकास सुनिश्चित नहीं हो सकता

पूर्व केंद्रीय मंत्री पवार ने शनिवार को मुंबई में राकांपा कार्यालय में अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों की एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा था कि वह कई बार पाकिस्तान गए और उनका हमेशा गर्मजोशी से स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने महाजनादेश यात्रा के अंतिम चरण में सोमवार को सतारा जिले के कराड में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पवार एक बड़े नेता हैं और बड़े नेताओं को यह समझना चाहिए कि उनके बयानों से भारत को फायदा होगा या पाकिस्तान को। जब राहुल गांधी कश्मीर गए थे तो उन्होंने इसी तरह के बयान दिए थे।

गांधी के बयान को आधार बनाते हुए पाकिस्तान ने अगले दिन संयुक्त राष्ट्र में कहा था कि गांधी के विचार उनके (पाकिस्तान) समान हैं।’’ पवार के बयानों का राजनीतिक मकसद बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव आते जाते रहेंगे लेकिन वोटों की खातिर ऐसे बयान देना ठीक नहीं है। राज्य में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने हैं। 

योगी सरकार को इलाहाबाद HC से झटका, 17 OBC जातियों को SC में शामिल करने पर रोक

उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि पवार साहब इस बात से अवगत नहीं हैं कि भारतीय मुसलमानों को भारत पर बहुत गर्व है। अगर पवार को लगता है कि अगर वह इस तरह के बयान देते हैं तो मुसलमान उन्हें (राकांपा को) वोट देंगे, तो वह विचार ही मुसलमानों के साथ अन्याय हैं।’’ 

फड़णवीस ने कहा कि पवार का बयान राकांपा की ‘मानसिकता’ को दर्शाता है। फड़णवीस पर निशाना साधते हुए, राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि उन्होंने पवार के बयान के अर्थ को नहीं समझा। मलिक ने स्पष्ट किया कि पवार ने केवल अपने अनुभव को साझा किया था जब वह अतीत में बीसीसीआई अध्यक्ष के रूप में पाकिस्तान गए थे।