BREAKING NEWS

CBI छापेमारी को लेकर सिसोदिया के आवास के बाहर ‘आप’ समर्थकों का प्रदर्शन, हिरासत में लिए गए कई◾‘हर घर जल उत्सव’ : PM मोदी बोले-देश बनाने लिए वर्तमान और भविष्य की चुनौतियों का लगातार समाधान कर रही सरकार ◾नई एक्साइज पॉलिसी से केजरीवाल और AAP के लिए पैसा बनाते हैं सिसोदिया : मनोज तिवारी◾केंद्र सरकार पर केजरीवाल का आरोप, कहा- अच्छे काम करने वालों को रोका जा रहा ◾अमित शाह ने सभी राज्यों से राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों को प्राथमिकता देने का किया आग्रह◾जांच एजेंसियों के दुरुपयोग से भ्रष्टाचारियों को बचने में मदद मिलती है : पवन खेड़ा ◾पूर्व NCB अधिकारी समीर वानखेड़े को मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस ◾सिसोदिया के खिलाफ CBI रेड पर कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित का बड़ा बयान◾सिसोदिया के घर पर CBI का छापा, केजरीवाल ने कहा- मिल रहा अच्छे प्रदर्शन का इनाम ◾भ्रष्ट व्यक्ति खुद को कितना भी बेकसूर साबित कर ले, वह भ्रष्ट ही रहेगा : अनुराग ठाकुर◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटो में 15,754 नए मामले सामने आए, संक्रमण दर 3.47 प्रतिशत दर्ज◾Uttar Pradesh: श्रीकांत त्यागी को मिला बीकेयू का समर्थन, रिहाई की मांग की ◾मनीष सिसोदिया के घर पहुंची CBI, केजरीवाल बोले-इस बार भी कुछ सामने नहीं आएगा◾भारत के साथ शांतिपूर्ण संबंध और कश्मीर मुद्दे का समाधान चाहता है पाकिस्तान : शहबाज शरीफ◾देशभर में जन्माष्टमी की धूम, PM मोदी बोले-सुख, समृद्धि और सौभाग्य लेकर आए यह उत्सव◾गोवा में ‘हर घर जल उत्सव’ को डिजिटल माध्यम से संबोधित करेंगे PM मोदी◾आज का राशिफल (19 अगस्त 2022)◾राजू श्रीवास्तव की हालत स्थिर, डॉक्टर उनका बेहतर इलाज कर रहे हैं : शिखा श्रीवास्तव◾कोलकाता में ममता से मिले पूर्व भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी◾महाराष्ट्र : रायगढ़ तट से मिली संदिग्ध नाव, AK-47 समेत कई हथियार बरामद ◾

CM शिंदे ने उद्धव ठाकरे पर ली चुटकी, कहा-ऑटोरिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ दिया

महाराष्ट्र की सत्ता में परिवर्तन के साथ उद्धव सरकार 'Out' और शिंदे-बीजेपी सरकार 'इन' हो चुकी है। उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को विधानसभा में एकनाथ शिंदे पर कटाक्ष किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को ऑटो चालक कहते हुए कहा कि उनका ब्रेक फेल हो गया है क्योंकि वह बहुत तेज दौड़ रहा था। उद्धव के इस बयान पर चुटकी लेते हुए एकनाथ शिंदे ने कहा कि ऑटोरिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ दिया है।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बुधवार को कहा, मैंने कहा है कि उस रिक्शा ने मर्सिडीज को पीछे छोड़ दिया क्योंकि ये सरकार  सर्वसामान्य लोगों के लिए सरकार है, ये समाज के हर घटक को न्याय दिलाने वाली सरकार है। उन्होंने कहा कि बालासाहेब ठाकरे का हिन्दुत्व का जो मुद्दा है, हिन्दुत्व के जो विचार हैं, उनकी जो भूमिका है, उसे आगे ले जाने का फैसला हम लोगों ने किया है। हमारे लगभग 50 विधायक अगर एक साथ ऐसी भूमिका लेते हैं तो इसका कोई बड़ा कारण होगा। इसपर विचार करने की आवश्यकता थी। 

बीजेपी का एजेंडा हिन्दुत्व और विकास

सीएम शिंदे ने कहा, जनता को लगा था कि बीजेपी सत्ता के लिए कुछ भी करती है लेकिन उन्होंने सभी देशवासियों को बता दिया है कि इन 50 लोगों ने एक हिन्दुत्व की भूमिका ली है, इनका एजेंडा हिन्दुत्व का है, विकास का है, इनका समर्थन करना चाहिए। उन्होंने हमें समर्थन किया। 

उन्होंने कहा, देवेंद्र फडणवीस बड़े दिल से उपमुख्यमंत्री बन गए। लेकिन जब पार्टी का आदेश आता है तो पार्टी का आदेश मानते हैं वो और मेरे जैसे बालासाहेब के कार्यकर्ता को मुख्यमंत्री पद पर बैठा दिया। मैं PM मोदी का, केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी अध्यक्ष को धन्यवाद करता हूं। 

एकनाथ शिंदे ने कहा कि मैंने कई बार चर्चा की कि महा विकास अघाडी में जो हम बैठे हैं इससे हमें फायदा नहीं हैं, नुकसान है। हमारे विधायक चिंतित हैं कि कल चुनाव कैसे लड़ें। हमारी पार्टी के सीएम के बावजूद, हम नगर पंचायत (चुनाव) में नंबर 4 पर आए ... हमने उन्हें समझाने की काफी कोशिश की लेकिन हम सफल नहीं हुए। मतलब सरकार का फायदा शिवसेना को नहीं हो रहा।

हमारा निर्णय कानूनी

मुख्यमंत्री शिंदे ने कहा, "हम कुछ भी अवैध नहीं कर रहे हैं। नियम, कानून और संविधान हैं और हमें उनके अनुसार काम करना है। आज, हमारे पास 2/3 से अधिक बहुमत है, इसलिए हमारा निर्णय कानूनी है। स्पीकर ने हमें भी पहचाना। सुप्रीम कोर्ट ने हमारे खिलाफ जाने वालों की खिंचाई की .., ।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने मुझे राज्य को विकास के पथ पर आगे ले जाने के लिए कहा और यह भी कहा कि वह, केंद्र सरकार के साथ, हमारे साथ खड़े हैं। बड़ी बात है। हमने कुछ भी अवैध नहीं किया है क्योंकि हमारा उनके साथ चुनाव पूर्व गठबंधन था। 2019 में, हमने बीजेपी के साथ चुनाव लड़ा, लेकिन कांग्रेस, एनसीपी के साथ सरकार बनी और उसके कारण जब हिंदुत्व, सावरकर, मुंबई बम विस्फोट, दाऊद इब्राहिम और अन्य जैसे मुद्दे आए, तो हम कोई निर्णय नहीं ले पाए।

...इसलिए विधायकों ने की बगावत

विधायकों के बागी होने पर शिंदे ने कहा, हमारे विधायकों को अपने निर्वाचन क्षेत्रों में काम करने में कठिनाई का सामना करना पड़ा क्योंकि सहयोगी उन लोगों को सशक्त बनाने की कोशिश कर रहे थे जो उनसे हार गए थे। धन की कमी के कारण हमारे विधायक विकास कार्य नहीं कर पा रहे थे...हमने वरिष्ठों से बात की लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। तो हमारे 40-50 विधायकों ने ऐसा किया।