BREAKING NEWS

महामारी के बीच चुनाव आयोग ने ‘अपने भरोसे के दम’ पर बिहार चुनाव कराया : EC◾भारत ने फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों पर व्यक्तिगत हमलों की कड़ी निंदा की ◾MI vs RCB : मुंबई इंडियंस ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 5 विकेट से हराया◾ED ने सोना तस्करी मामले में निलंबित IAS शिवशंकर को किया गिरफ्तार◾PM का पुतला जलाये जाने वाले बयान पर भाजपा ने बताया राहुल की 'राजनीतिक औकात' ◾केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को हुआ कोरोना, ट्वीट कर दी जानकारी◾महबूबा मुफ्ती को एक और बड़ा झटका, पीडीपी नेता रमजान हुसैन भाजपा में हुए शामिल ◾बिहार विधानसभा चुनाव - पहला चरण में 71 सीटों पर मतदान संपन्न, शाम पांच बजे तक 51.91 प्रतिशत मतदान ◾कमल नाथ का तीखा तंज - भाजपा ने सिंधिया को 'दूल्हा' तो बना दिया, 'दामाद' नहीं बनने देगी ◾चीन ने भारत के साथ सीमा गतिरोध को द्विपक्षीय मुद्दा बताया, अमेरिकी रणनीति की निंदा की◾राष्ट्रपति कोविंद ने दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति को किया निलंबित◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾बगहा रैली में राहुल गांधी का पीएम पर वार - 'झूठ बोलने में नरेंद्र मोदी का कोई मुकाबला नहीं'◾पटना रैली में मोदी का प्रहार - 'जिनका प्रशिक्षण कमीशनखोरी का हो, वो बिहार का विकास नहीं सोच सकते'◾लद्दाख को चीन के भूभाग के हिस्से में दिखाने पर ट्विटर का जवाब पर्याप्त नहीं : संसदीय पैनल ◾बिहार विधानसभा चुनाव : दोपहर एक बजे तक पहले चरण में 71 सीटों पर 33.10 प्रतिशत मतदान ◾Bihar Election : कृषि मंत्री कमल निशान वाला मास्क पहन वोट डालने पहुंचे, दर्ज होगा मामला ◾पीएम मोदी ने मुजफ्फरपुर रैली में RJD पर बोला तीखा हमला, तेजस्वी को बताया जंगलराज का युवराज◾दरभंगा रैली में बोले PM मोदी, पूर्व की सरकारों का मंत्र रहा, पैसा हज़म-परियोजना खत्म◾बिहार चुनाव : 11 बजे तक 18.48 फीसदी मतदान,जानिए कहां कितने प्रतिशत हुई वोटिंग◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

राम जन्मभूमि मंदिर ‘भूमि पूजन' में सीएम उद्धव ठाकरे के शामिल होने की संभावना नहीं

अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए पांच अगस्त को होने वाले भूमि पूजन के लिए तैयारिया जोर-शोर से तैयारियां चल रही है। इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन कार्यक्रम में कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर शामिल नहीं होंगे। राउत ने भूमि पूजन समारोह की शुभकामनाएं देते हुए कहा, ‘‘यह महत्वपूर्ण है कि प्रधानमंत्री वहां जा रहे हैं। मुख्यमंत्री (ठाकरे) कभी भी जा सकते हैं।’’ 

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश के अयोध्या में बुधवार को भूमि पूजन का कार्यक्रम प्रस्तावित है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इसमें शामिल होने का कार्यक्रम है। राउत ने राम मंदिर निर्माण के आंदोलन में शिवसेना के योगदान को दोहराया है और कहा कि पार्टी ने एक करोड़ रुपये का दान राम मंदिर के निर्माण के लिए दिया है। 

उन्होंने कहा, ‘‘अयोध्या और आसपास के इलाके में कोरोना वायरस की महामारी चिंता का विषय है...उत्तर प्रदेश की मंत्री कमल रानी वरुण की कोविड-19 बीमारी की वजह से मौत हो गई जबकि तीन और मंत्री संक्रमित हैं।’’ राउत ने कहा, ‘‘ मेरा मानना है कि जहां समारोह हो रहा है वहां कम से कम लोगों को जाना चाहिए। यह अहम है कि प्रधानमंत्री वहां जा रहे हैं। मुख्यमंत्री (ठाकरे) किसी भी समय वहां जा सकते हैं।’’ 

यह पूछे जाने पर क्या कि ठाकरे को समारोह के लिए आमंत्रित नहीं किया गया है? राउत ने कहा, कोई भी निमंत्रण का इंतजार नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि मंदिर के पुजारी और सुरक्षा कर्मियों को पृथक-वास में भेजा गया है। राज्यसभा सदस्य राउत ने कहा कि शिवसेना इस मुद्दे (पार्टी के नेता को आमंत्रित नहीं करने को) राजनीतिक रंग नहीं देना चाहती। उन्होंने कहा, ‘‘अयोध्या में स्थिति गंभीर है और वहां चिकित्सा आपातकाल जैसी स्थिति उत्पन्न हो रही है।’’ राउत ने कहा, ‘‘ और आप (मीडिया) सवाल कर रहे हैं कौन वहां जा रहा है। वहां यथासंभव कम से कम लोगों को जाना चाहिए...हम बाद में वहां जाएंगे।’’ 

उन्होंने कहा कि यहां तक कि भाजपा के वयोवृद्ध नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जिन्होंने राम मंदिर आंदोलन में अहम भूमिका निभाई, वे भी संभवतः कोविड-19 की वजह से नहीं जा रहे हैं। राउत ने कहा कि शिवसेना ने राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखी। उन्होंने कहा कि अगर बाबरी ढांचे को नहीं गिराया जाता तो मंदिर का निर्माण संभव नहीं होता। 

उन्होंने कहा, भारतीय जनता पार्टी, विश्व हिंदू परिषद और राष्ट्रीय स्वयं सेवक ने स्वीकार किया कि वे शिव सैनिक (शिवसेना कार्यकर्ता) थे जिन्होंने विवादित ढांचे को गिराया था। राउत ने कहा, ‘‘ अत: वो हम थे जिन्होंने मंदिर निर्माण का रास्ता साफ किया। हम खुश हैं कि मंदिर का निर्माण हो रहा है और आपने देखा कि उद्धव ठाकरे जी व हमारी शिवसेना ने एक करोड़ रुपये इसके लिए दिए हैं।’’ इस बीच, राउत ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। 

उन्होंने कहा, ‘‘मुंबई पुलिस सक्षम है। अगर वह मामले की जांच कर रही है तो उसपर भरोसा रखना चाहिए। पुलिस जगत में मुंबई पुलिस के प्रति आस्था है। ’’ उल्लेखनीय है कि राजपूत 14 जून को ब्रांदा स्थित अपने अपार्टमेंट में मृत मिले थे और उनकी मौत की जांच मुंबई पुलिस के साथ पटना पुलिस भी कर रही है।