BREAKING NEWS

भाई से मिलने जेल में गई 4 साल की मासूम के साथ हुआ भद्दा मजाक, गाल पर लगाई गई मुहर◾Bharat Jodo Yatra: मल्लिकार्जुन खरगे ने किया शाह से पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था का आग्रह ◾दिल्ली में एक बार फिर हुई कंझावला जैसी हैवानियत, बोनट पर फंसे शख्स को 350 मीटर तक घसीटा, मौके पर मौत◾ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करेंगे NCC की वार्षिक रैली को संबोधित◾शनिदेव: इन तीन लोगों को नहीं करते हैं परेशान,ये हैं शनि देव की 3 सबसे प्यारी राशियां◾ पठान विवाद पर दिग्विजय सिंह का PM मोदी पर हमला, कहा- ‘तेंदुआ अपने पंजों के निशान नहीं बदलता’◾अडानी के डूबे 2.30 लाख करोड़ रुपये, अमीरों की लिस्ट में 7वें पायदान पर◾आज का राशिफल (28 जनवरी 2022)◾अगले साल बड़ी ताकत के रूप में उभर सकता है भारत : रिपोर्ट◾G-20 के मेहमान 12 फरवरी को ताजमहल, आगरा किला और एत्माद्दौला के मकबरे का करेंगे दीदार◾सिसोदिया ने लिखा DU के कुलपति को पत्र- अस्थाई गेस्ट शिक्षकों को स्थायी करने की मांग की◾Tripura Elections: माकपा-तृणमूल को झटका, मोबोशर अली और सुबल भौमिक BJP में हुए शामिल ◾राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक का मामला गर्माया, CM गहलोत बोले- गृहमंत्री जांच करवाएं◾UP News: भाजपा सांसद रवींद्र कुशवाहा बोले- स्वामी प्रसाद मौर्य को सपरिवार इस्लाम स्वीकार लेना चाहिए◾सौरभ भारद्वाज का आरोप- भाजपा असंवैधानिक तरीके से MCD पर चाहती है नियंत्रण◾दिल्ली पुलिस ने किया नौकरी धोखाधड़ी रैकेट का भंडाफोड़, तीन आरोपी गिरफ्तार◾नीतीश कुमार बोले- लोकसभा चुनाव के लिए समान विचारधारा वाले दलों की बैठक की प्रतीक्षा◾पंजाब के लोगों को मिली 400 मोहल्ला क्लीनिक की सौगात, सीएम भगवंत मान और मुख्यमंत्री केजरीवाल ने किया उद्घाटन◾पाकिस्तान: फवाद चौधरी की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा ◾भारत ने लिया बड़ा फैसला, 'सिंधु जल संधि में संशोधन को लेकर पाकिस्तान को दिया नोटिस'◾

Coal smuggling case: भ्रष्टाचार पर सीबीआई की बड़ी कार्रवाई! TMC नेता की न्यायिक हिरासत 14 दिन की बढ़ाई

 पश्चिम बंगाल में करोड़ों रुपये के मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने बुधवार को तृणमूल कांग्रेस के नेता अनुब्रत मंडल की न्यायिक हिरासत 14 दिनों के लिए और बढ़ा दी।

तृणमूल कांग्रेस के बीरभूम जिलाध्यक्ष मंडल को 5 अक्टूबर को फिर उसी अदालत में पेश किया जाएगा, जो विजयादशमी का दिन है। इसका मतलब है कि उन्हें दुर्गा पूजा का त्योहारी सीजन सलाखों के पीछे बिताना होगा।

बुधवार को मंडल के वकील ने उनके मुवक्किल को जमानत दिलाने की पूरी कोशिश की। उन्होंने तर्क दिया कि चूंकि पशु तस्करी के मुख्य आरोपी इनामुल हक और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के कमांडेंट सतीश कुमार को जमानत दे दी गई है, इसलिए कोई कारण नहीं है कि मंडल की जमानत अर्जी स्वीकार नहीं की जाएगी।.

Cattle smuggling case: Anubrata's custody extended for 14 days | Cities  News,The Indian Express

उनके वकील ने यह भी बताया कि मंडल के   खिलाफ सीबीआई का मुख्य आरोप यह था कि वह पश्चिम बंगाल में एक जिले से दूसरे जिले में मवेशियों की मुक्त आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार थे। इसलिए, जब सीमा पार मवेशियों की तस्करी के लिए वास्तव में जिम्मेदार लोग जमानत पर बाहर हैं, तो उनके मुवक्किल को जमानत देने से इनकार करने का कोई कारण नहीं था। उन्होंने जमानत देने के आधार के रूप में मंडल की बिगड़ती स्वास्थ्य स्थितियों को भी उजागर किया।

प्रतिवाद में सीबीआई के वकील ने कहा कि मंडल और उसके अंगरक्षक सहगल हुसैन दोनों के नए सबूत और नई संपत्ति हर दिन सामने आ रही है। ऐसे में अगर मंडल को इस समय जमानत दे दी जाती है तो पूरी जांच प्रक्रिया को झटका लग सकता है और एक प्रभावशाली व्यक्ति होने के नाते, मंडल जमानत याचिका का विरोध करते हुए सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश भी कर सकता है। अंतत: दोनों पक्षों को सुनने के बाद सीबीआई की विशेष अदालत के न्यायाधीश ने मंडल की सीबीआई हिरासत को 14 दिनों के लिए और बढ़ा दिया।