BREAKING NEWS

भारत, यूएई ने जलवायु कार्रवाई के लिए समझौता ज्ञापन पर किए हस्ताक्षर ◾J&K : कश्मीर में टीवी कलाकार की हत्या में शमिल दो आतंकवादी सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में घिरे◾J&K : कुपवाड़ा में सेना ने घुसपैठ का प्रयास किया विफल , तीन आतंकवादी मारे गए, पोर्टर की भी मौत◾PM मोदी ने ‘परिवारवाद’ के कटाक्ष से राव को घेरा, तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने ‘भाषणबाजी’ का लगाया आरोप◾टीएमसी का दावा, दिलीप घोष को बंगाल से बाहर किया जा रहा है, भाजपा का पलटवार◾ मूडीज ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटाया, आसमान छू रही महंगाई पर जताई चिंता◾ Tamil Nadu: चेन्नई पहुंचे PM मोदी ,हुआ जोरदार स्वागत, रोड शो में उमड़ी हजारों की भीड़◾तेलंगाना के CM चंद्रशेखर राव ने एच डी देवेगौड़ा से की मुलाकात, जानें- किन मुद्दों पर हुई चर्चा◾J&K News: सुंजवां हमले में शामिल एक आतंकवादी को NIA ने किया गिरफ्तार, जैश ए मोहम्मद से जुड़े थे तार◾Monkeypox Virus: कनाडा में मंकीपॉक्स ने दी दस्तक! यहां देखें- कितने मामले सामने आए◾यासीन मलिक को उम्रकैद की सजा सुनाने के बाद फेंके थे पत्थर, लेकिन अब पुलिस के सामने पकड़े कान◾सुप्रीम कोर्ट ने वेश्यावृत्ति को माना प्रोफेशन, पुलिस को दी हिदायत... जारी हुए सख्त निर्देश, जानें क्या कहा ◾ गवर्नर की जगह अब CM होंगी स्टेट यूनिवर्सिटी की चांसलर, ममता बनर्जी कैबिनेट की बैठक में हुआ फैसला◾नवजोत सिंह सिद्धू का पटियाला जेल में बज गया बैंड, मिला क्लर्क का काम, जानें कितना होगा वेतन ◾ Gyanvapi Masjid: यहां जानें 2 घंटे चली वाराणसी जिला कोर्ट की बहस में क्या हुआ, अब सोमवार तक टली सुनवाई◾पाकिस्तान को 'मॉडर्न देश' बनाना चाहते हैं जरदारी! भारत और अन्य देशों से जारी संघर्षों पर कही यह बात ◾Bharat Biotech की कोवैक्सीन को जर्मनी ने दी मंजूरी, टूरिस्ट को मिली बड़ी राहत◾ US और चीन को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दिया ये बयान, जानें मोदी सरकार को क्या दी नसीहत◾UP बजट 2022 : मायावती ने बताया घिसा-पिटा, अखिलेश बोले- कुछ बढ़ा नहीं, सब कुछ घटा है◾Navneet Rana News: सांसद नवनीत राणा ने दर्ज करवाई FIR, फोन पर मिल रही थी जान से मारने की धमकी ◾

28 दिसंबर की पूर्व निर्धारित रैली वाली याचिका कांग्रेस नेता ने ली वापस

बीएमसी के चुनाव सिर पर हैं। कांग्रेस इन चुनावों में अकेले लड़ने का दम भर रही है। कांग्रेस की मुंबई इकाई के अध्यक्ष भाई जगताप ने बंबई उच्च न्यायालय में दायर अपनी एक याचिका वापस ले ली है। इस याचिका में उन्होंने 28 दिसंबर को शिवाजी पार्क में कांग्रेस पार्टी की पूर्व निर्धारित रैली की अनुमति देने के लिए महाराष्ट्र सरकार को निर्देश जारी करे। जगपात ने सोमवार को यह याचिका दायर की थी जिस पर न्यायमूर्ति अमजद सैयद और न्यायमूर्ति अभय अहूजा की खंडपीठ को मंगलवार को सुनवाई करनी थी।

हालांकि, जगपात के वकील वी ए थरोट ने सुबह पीठ के समक्ष याचिका का उल्लेख किया और कहा कि उन्हें बिना शर्त इसे वापस लेने के निर्देश दिए गए हैं। इस पर उच्च न्यायालय ने याचिका वापस लेने की इजाज़त दे दी। कांग्रेस नेता के वकील ने याचिका वापस लेने की कोई खास वजह नहीं बताई। जगताप ने अपनी याचिका में कहा था कि राज्य सरकार के पास अक्टूबर 2021 में एक आवेदन जमा किया गया था, जिसमें कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी की रैली के लिए मंजूरी मांगी गई थी। लेकिन अभी तक इस आवेदन पर सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया है। याचिका में उच्च न्यायालय से राज्य सरकार को रैली करने से जुड़े निर्देश देने की अपील की गई थी और इसके साथ ही मैदान के एक हिस्से में अस्थाई स्टेज लगाने की मांग भी की गई थी।

जगताप ने बताया कि पार्टी ने सेंट्रल मुंबई में स्थित शिवाजी पार्क को 22 दिसंबर से 28 दिसंबर तक इस्तेमाल करने की इजाज़त मांगी थी, इसी दौरान भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 137वें स्थापना दिवस के मौके पर रैली का आयोजन भी शामिल था। याचिका में कहा गया कि 28 दिसंबर कांग्रेस के लिए बेहद महत्वपूर्ण दिन है, क्योंकि यह कांग्रेस का स्थापना दिवस होता है।

दरअसल, साल 2010 में उच्च न्यायालय ने दादर में स्थित शिवाजी पार्क इलाके को साइलेंस ज़ोन घोषित कर दिया था। यह निर्णय एक गैर-सरकारी संगठन की ओर से दायर जनहित याचिका के बाद लिया गया था।हालांकि, बाद में राज्य सरकार और बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने साल में 45 दिन निर्धारित किए, जिस दौरान खेल गतिविधियों के अलावा भी इस मैदान में अन्य कार्यक्रम किए जा सकते हैं।