रांची : भाजपा ने कहा है कि झारखंड की राजनीति में राष्ट्रीय पार्टी कांग्रेस फुटबॉल की तरह हो गई है जिसे राज्य के क्षेत्रीय दल जब चाहे किक मारकर मैदान से बाहर करते रहते हैं। भाजपा ने कोलेबिरा विधानसभा क्षेत्र में 20 दिसंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए राज्य की विपक्षी पार्टियों में एकजुटता कायम कराने में विफल होने पर कांग्रेस पर यह तंज कसा है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता दीनदयाल बरनवाल ने बृहस्पतिवार को यहां एक वक्तव्य में कहा कि कांग्रेस मैदान में फुटबॉल जैसी हो गई है, झारखंड के क्षेत्रीय दल जब जैसा चाहते हैं किक मारकर उसे मैदान से बाहर करते रहते है।

ज्ञातव्य है कि कोलेबिरा विधानसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में तमाम दावों के बावजूद विपक्ष महागठबंधन नहीं बना सका। मुख्य विपक्षी झारखंड मुक्ति मोर्चा ने कांग्रेस की तमाम कोशिशों के बावजूद कांग्रेसी उम्मीदवार बिक्सेल कोंगाडी को समर्थन नहीं दिया। झारखंड मुक्ति मोर्चा ने हत्या के मामले में सजायाफ्ता होने के कारण विधायक पद खोने वाले विधायक एनोस एक्का की पत्नी एवं झारखंड पार्टी की उम्मीदवार मेनन एक्का को समर्थन देने की घोषणा कर दी है। भाजपा ने इस सीट से स्थानीय आदिवासी बसंत सोरेंग को अपना उम्मीदवार बनाया है। 2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने मनोज नागेशिया को अपना उम्मीदवार बनाया था जो एनोस एक्का से सत्रह हजार मतों से चुनाव हार गये थे।