BREAKING NEWS

देश में कोरोना के मामलों में 15 फरवरी तक आएगी कमी, कुछ राज्यों और मेट्रो शहरों में कम हुए कोविड केस◾UP चुनाव: BJP के साथ गठबंधन नहीं होने के जिम्मेदार हैं आरसीपी, JDU अध्यक्ष बोले- हमने किया था भरोसा.. ◾फडणवीस का उद्धव ठाकरे को जवाब, बोले- 'जब शिवसेना का जन्म भी नहीं हुआ था तब से BJP...'◾BJP ने जारी की पांचवी सूची, महज एक उम्मीदवार के नाम की हुई घोषणा, UP कोर ग्रुप की बैठक में मंथन जारी ◾राष्ट्रीय बाल पुरस्कार: PM मोदी ने बच्चों से "वोकल फॉर लोकल’’ अभियान को आगे बढ़ाने का किया आग्रह◾गोवा चुनाव: TMC ने उठाए BJP की मंशा पर सवाल, कहा- 'डबल इंजन सरकार' का नारा तानाशाही का संकेत ◾राहुल गांधी ने केंद्र को घेरा, कहा- गरीब और मध्य वर्ग के लोग सरकार की ‘आर्थिक महामारी’ के शिकार हुए◾विधानसभा चुनावः दिल्लीवासियों से केजरीवाल ने चार राज्यों में प्रचार के लिए मांगी मदद ◾MP में नए 'स्टील्थ ओमीक्रॉन' ने दी दस्तक, इंदौर में 21 मामले आए सामने, फेफड़ों पर हो रहा संक्रमण का असर ◾राकेश टिकैत ने हिंदू-मुस्लिम और जिन्ना को बताया सरकारी मेहमान, बोले-सरकार के प्रवचन में नहीं आना◾भगवा खेमे का अभेद्य किला बनी हुई है 'गोरखपुर सीट', अखिलेश ने शिवप्रताप को दिया खुला ऑफर, जानें रणनीति ◾अखिलेश के बयान पर भाजपा ने घेरा, पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानने का लगाया आरोप ◾अल्पसंख्यक समुदाय के साथ की आस में BJP, RSS की मुस्लिम शाखा ने चलाया अभियान, धर्म संसद पर कहा... ◾UP चुनाव: सियासी मझधार में सपा और सहयोगी दलों का गठबंधन, सीट बंटवारे को लेकर कशमकश की स्थिति ◾BJP गठबंधन वाले दलों को हड़पकर उन्हें खत्म कर देती है : नवाब मलिक◾योगी सरकार पर फिर बरसीं मायावती, कहा- भाजपा के शासन में धर्म संबंधी असुरक्षा लगातार बढ़ रही◾गणतंत्र दिवस: समारोह में एंट्री के लिए अहम निर्देशों का करना होगा पालन, जानें सुरक्षा तैयारियों की जानकारी ◾UP चुनाव : कैराना में अमित शाह ने तोड़े कोरोना नियम, EC के पास शिकायत लेकर पहुंची सपा ◾ओमीक्रॉन के आतंक के बीच हुई नए सब-वेरिएंट BA.2 की एंट्री, भारत में भी मौजूद, जानें कितना खतरनाक? ◾उद्धव के बयान पर बोली BJP-हिंदुत्व की नसीहत देने से पहले बाला साहब ठाकरे के विचारों पर करें मंथन◾

Cruise Drug Case: आर्यन खान का बेल ऑर्डर हुआ पब्लिश, HC ने कहा-आरोपी के खिलाफ नहीं मिला साजिश का सबूत

आर्यन खान को मुंबई क्रूज ड्रग केस में मिली जमानत के ऑर्डर की डिटेल भरी कॉपी बॉम्बे हाई कोर्ट ने जारी कर दी है।  इसमें हाई कोर्ट ने कहा है कि आर्यन खान . के पास किसी भी तरह का पदार्थ नहीं मिला था।  साथ ही आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा के खिलाफ किसी भी तरह की साजिश का सबूत नहीं मिला है। 

क्या है आदेश

बता दें कि बेल ऑर्डर के साथ कोर्ट ने 14 पन्नों के आदेश में बताया कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के पास आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा के खिलाफ कोई सबूत नहीं है। बॉम्बे हाईकोर्ट ने आदेश में कहा, 'कोर्ट के सामने ये साबित करने के लिए कोई ऑन-रिकॉर्ड पॉजिटिव सबूत पेश नहीं किए गए हैं कि सभी आरोपी व्यक्ति सामान्य इरादे से गैरकानूनी कार्य करने के लिए सहमत हुए।'

एक ही क्रूज में होना, साजिश के आरोप का आधार नहीं

बॉम्बे हाई कोर्ट ने आदेश में आगे कहा, 'अदालत इस बात के प्रति संवेदनशील है कि सबूत के रूप में ठोस सामग्री होनी चाहिए, जिससे आवेदकों के खिलाफ साजिश के मामले को साबित किया जा सके। सिर्फ इसलिए कि आर्यन और उनके दोस्त अरबाज मर्चेंट, मुनमुन धमेचा एक ही क्रूज में थे, ये अपने आप में उनके खिलाफ साजिश के आरोप का आधार नहीं हो सकता है।'

NCB दफ्तर हाजिरी लगाने पहुंचे आर्यन

ड्रग्स मामले में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान शुक्रवार को एनसीबी दफ्तर में हाजिरी लगाने पहुंचे।  1.30 बजे आर्यन दफ्तर पहुंचे और हाजिरी लगाई।  10 मिनट बाद वह यहां से चले गए।  मुनमुन धमीचा भी इस मामले में हाजिरी के लिए पहुंचीं। 

देश से बाहर नहीं जा सकते आर्यन

आर्यन खान हाईकोर्ट के आदेश से बंधे होने के कारण देश से बाहर बिना इजाजत नहीं जा सकते।  अगर उन्हें विदेश जाना भी है तो इसके लिए अदालत से इजाजत लेनी होगी।  अर्बाज मर्चेंट समेत किसी भी अन्य आरोपी से वह बात नहीं करेंगे और न ही इस बारे में वह माडिया में जाएंगे। आर्यन अगर कोर्ट की किसी भी शर्त का उल्लंघन करते हैं तो एनसीबी को अधिकार होगा कि वह आर्यन की जमानत रद्द करने की अपील करे।