BREAKING NEWS

बिहार: BJP ने अपनाया 'आक्रामक' रुख, NDA में बढ़ रही रार, जानें क्या नीतीश की कुर्सी तक आ जाएगी बात? ◾दिल्ली : स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बोले- आज राजधानी में संक्रमण के 4-5 हजार कम केस आने की उम्मीद◾UP चुनाव: जिस दल को मिला पूर्वांचल का साथ... उसके सिर सजा जीत का ताज, जानें अब तक कैसा रहा इतिहास ◾SP-RLD को समर्थन के बाद नरेश टिकैत ने लिया यूटर्न, अब बालियान से की मुलाकात, अटकलों का बाजार गर्म ◾योगी को गोरखपुर से टिकट देना दर्शाता है कि BJP कमजोर हुई : नवाब मलिक◾अखिलेश से लोगों को उम्मीदें, जिंदा लोग BJP को नहीं देंगे वोट : संजय राउत ◾भाजपा ने किया दावा- यूपी में 10 फरवरी से ही शुरू हो जाएगा जीत का सफर, अंतिम चरण तक रहेगा कायम◾UP चुनाव : पीएम मोदी कल अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भाजपा के कार्यकर्ताओं से वर्चुअली करेंगे बातचीत ◾गोवा में कांग्रेस और BJP के बीच मुकाबला, AAP-TMC कर रही गैर-भाजपा मतों को 'विभाजित' करने का काम ◾रावत के निष्कासन पर बोले CM धामी-वंशवाद से दूर और विकास के साथ चलने वाली पार्टी है BJP◾कांग्रेस में शामिल हुए बिना भी कांग्रेस के लिए करूंगा काम : हरक सिंह रावत◾Corona Cases in India : पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 2 लाख 58 हजार से अधिक केस दर्ज◾पंजाब में चुनाव टालने की मांग पर आज विचार करेगा निर्वाचन आयोग◾UP विधानसभा चुनाव : निषाद पार्टी ने UP की 15 सीटों पर ठोंका दावा, BJP ने अभी नहीं की पुष्टि ◾PM मोदी आज करेंगे दावोस शिखर सम्मेलन को संबोधित, कोविड समेत कई वैश्विक मुद्दों पर कर सकते हैं बात◾राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में शीतलहर का कहर जारी, जानें कब तक रहेगा ऐसा मौसम◾Covid-19 : विश्वभर में संक्रमण के आंकड़े 32.57 करोड़ से अधिक, अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश◾किसी व्यक्ति की सहमति के बिना जबरन टीकाकरण नहीं कराया जा सकता : SC को केंद्र ने बताया ◾दिग्गज कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हुआ इंतकाल, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांस◾SP-RLD को नहीं दिया समर्थन, लोगों को समझने में हुई गलती: राकेश टिकैत◾

 जल्लीकट्टु पर समर्थन के लिए याद किए गए दवे

चेन्नई:केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता पोन राधाकृष्णन ने वन एवं पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया हैं। श्री राधाकृष्णन ने आज अपने शोक संदेश में कहा कि श्री दवे तमिलनाडु में इस वर्ष हुए परंपरागत जल्लीकट्टु के आयोजन में अहम भूमिका अदा की थी और तमिलों को पूरा समर्थन दिया था।

उन्होंने श्री दवे के निधन को अपूरणीय क्षति बताते हुए कहा कि जल्लीकट्टु के मुद्दे पर वह दिल्ली में एक दिन में तीन बार मुलाकात की थी। उन्होंने श्री दवे को राष्ट्र के लिए समर्पित नेता बताते हुए कहा उनमें पूरी प्रतिबद्धता, समर्पण, गुणवत्ता वाली सोच और समस्याओं की आसान समझ के विशेष गुण थे। उन्होंने श्री दवे के परिवार से हार्दिक संवेदना व्यक्त की है और कहा है कि ईश्वर उन्हें इस महान क्षति को सहन करने की शक्ति प्रदान करें। -वार्ता