BREAKING NEWS

आंग सान सू की को मिली चार साल की जेल, सेना के खिलाफ असंतोष, कोरोना नियमों का उल्लंघन करने का था आरोप ◾शिया बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने अपनाया हिंदू धर्म, परिवर्तन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें नया नाम ◾इशारों में आजाद का राहुल-प्रियंका पर तंज, कांग्रेस नेतृत्व को ना सुनना बर्दाश्त नहीं, सुझाव को समझते हैं विद्रोह ◾सदस्यों का निलंबन वापस लेने के लिए अड़ा विपक्ष, राज्यसभा में किया हंगामा, कार्यवाही स्थगित◾राज्यसभा के 12 सदस्यों का निलंबन के समर्थन में आये थरूर बोले- ‘संसद टीवी’ पर कार्यक्रम की नहीं करूंगा मेजबानी ◾Winter Session: निलंबन के खिलाफ आज भी संसद में प्रदर्शन जारी, खड़गे समेत कई सांसदों ने की नारेबाजी ◾राजनाथ सिंह ने सर्गेई लावरोव से की मुलाकात, जयशंकर बोले- भारत और रूस के संबंध स्थिर एवं मजबूत◾IND vs NZ: भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त देकर रचा इतिहास, दर्ज की सबसे बड़ी टेस्ट जीत ◾विपक्ष ने लोकसभा में उठाया नगालैंड का मुद्दा, घटना ने देश को झकझोर कर रख दिया, बिरला ने कही ये बात ◾UP विधानसभा चुनाव में BSP बनाएगी पूर्ण बहुमत की सरकार, मायावती ने किया दावा ◾दिल्ली में हल्का बढ़ा पारा, 'बहुत खराब' श्रेणी में दर्ज हुई वायु गुणवत्ता, फ्लाइंग स्क्वॉड की कार्रवाई जारी ◾पीएम मोदी ने किया ट्वीट! लोगों से टीकाकरण अभियान की गति बनाए रखने की अपील की◾अमित शाह नगालैंड में गोलीबारी की घटना पर संसद में आज देंगे बयान, 1 जवान समेत 14 लोगों की हुई थी मौत ◾लोकसभा में कई अहम बिल होंगे पेश, साथ ही बहुत से विधेयकों को मिलेगी मंजूरी, जानें क्या हैं संभावित मुद्दे ◾देश में नए वेरिएंट के खतरे के बीच कोरोना के 8 हजार से अधिक संक्रमितों की पुष्टि, इतने मरीजों हुई मौत ◾World Coronavirus: 26.58 करोड़ हुआ संक्रमितों का आंकड़ा, 52.5 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾देश में तेजी से फैल रहा है कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन, जानिए किन राज्यों में मिल चुके हैं संक्रमित मरीज ◾आज भारत पहुंचेंगे रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, पीएम मोदी के साथ होगी शिखर वार्ता, ये होंगे मुद्दे ◾मथुरा में पुलिस का चप्पे-चप्पे पर पहरा, ड्रोन और सीसीटीवी से रखी जा रही नजर, अयोध्या में भी हाई अलर्ट ◾पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने आप नेता के अवैध खनन के आरोप को किया खारिज◾

झारखण्ड में बोले रक्षामंत्री- केंद्र सरकार नागरिकता संशोधन कानून उत्पीड़न से बचाने के लिए ले कर आयी है

लिट्टीपाड़ा : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान तथा बांग्लादेश में रहने वाले धार्मिक अल्पसंख्यकों को धार्मिक उत्पीड़न से बचाने के लिए ही केन्द्र सरकार अपने वादे के अनुरूप नागरिकता संशोधन कानून लेकर आयी है। झारखंड विधानसभा चुनावों में चौथे और पांचवें दौर के चुनाव प्रचार के लिए यहां पहुंचे रक्षा मंत्री ने यह बात कही। 

सिंह ने कहा कि भाजपा जो भी वादे करती है, उसे हर हाल में पूरा करती है। पार्टी ने अपने संकल्प पत्र में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने और उनके हितों की रक्षा की बात कही थी, जिसे संसद में कानून पारित कर पूरा किया गया। सिंह ने कहा, ‘‘अब जल्द ही सरकार पूरे देश में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) भी लागू करेगी।’’ सिंह ने एयर स्ट्राइक से लेकर ‘सीएबी’ लागू करने तक अपनी सरकार की कई उपलब्धिया गिनाईं। 

उन्होंने आरोप लगाया कि जिन्ना के दबाव में कांग्रेस ने मजहब के आधार पर देश का विभाजन कराया और हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, ईसाई एवं पारसी अल्पसंख्यकों को भगवान भरोसे छोड़ दिया। सिंह ने कहा कि पिछले 70 वर्ष से किसी ने उनकी तकलीफ को दूर करने की कोशिश नहीं की। हमारी सरकार ने आज ऐसे लाखों अल्पसंख्यकों के साथ न्याय करने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि तत्कालीन भारतीय जनसंघ पार्टी के समय लोग हमारे एक विधान, एक प्रधान व एक निशान के नारे का मजाक उड़ाते थे। लेकिन, पूर्ण बहुमत में आते ही जम्मू और कश्मीर में हमने इसे लागू कर साबित कर दिया कि हम जो कहते हैं वो करते भी हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी ही सरकार ने राम जन्मभूमि विवाद समाप्त कराया। अब अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनने से कोई रोक नहीं सकता।’’ उन्होंने कहा कि हमारी कथनी और करनी एक है। रक्षा मंत्री ने कहा कि देश में वाजपेयी जी से लेकर नरेन्द्र मोदी की सरकार हो या रघुबर दास की सरकार आज तक किसी भी सरकार के दामन पर भ्रष्टाचार के एक भी दाग नहीं लगे हैं। जबकि कांग्रेस सहित अन्य दलों की सरकारों ने तो भ्रष्टाचार का रिकार्ड ही बनाया है। उन्होंने कहा कि सरकार तो वो होती है जो जनता की बुनियादी सुविधाओं को पूरा करे। जैसा कि मोदी जी व रघुबर दास की सरकारों ने किया है। मोदी जी ने आते ही देश के गरीबों के लिए प्रधानमंत्री आवास, शौचालय, गैस चूल्हा-सिलिंडर के साथ ही बिजली, आयुष्मान भारत जैसी योजनाओं के जरिए आम जनता की बुनियादी जरूरतों को पूरा किया।