BREAKING NEWS

प्रियंका गांधी बोली- भाजपा सरकार भी डींगें हांकने के लिए डाटा छिपाने में लगी है◾प्रदूषण को लेकर SC ने 4 राज्यों के चीफ सेक्रेटरी को किया तलब, कहा- ऑड-ईवन स्थायी समाधान नहीं◾INX मीडिया : दिल्ली हाई कोर्ट ने खारिज की चिदंबरम की जमानत याचिका ◾राहुल बोले- 'मोदीनॉमिक्स' ने इतना नुकसान कर दिया कि सरकार को अपनी रिपोर्ट छिपानी पड़ रही है◾शरद पवार बोले-शिवसेना, NCP और कांग्रेस की सरकार 5 साल का कार्यकाल पूरा करेगी◾ऑड-ईवन योजना की अवधि बढ़ाए जाने पर सोमवार को होगा फैसला : केजरीवाल◾NCP नेता नवाब मलिक बोले- शिवसेना को किया गया अपमानित, निश्चित रूप से CM उनका ही होगा◾SC ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शिवकुमार की जमानत के खिलाफ ED की याचिका की खारिज◾5 साल की बात क्यों, हम चाहते हैं 25 साल रहे शिवसेना का CM : संजय राउत◾दिल्ली-NCR में आज भी प्रदूषण की स्थिति गंभीर, आसमान में छाई धुंध की चादर◾ऑड-ईवन योजना का अंतिम दिन आज, स्कीम को आगे बढ़ाने पर संशय बरकरार◾तीस हजारी कांड : पथराव करने वाले वकील ही थे, क्या गारंटी?◾INX मीडिया मामला: चिदंबरम की जमानत याचिका पर आज आ सकता है कोर्ट का फैसला◾महाराष्ट्र में शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के गठबंधन के खिलाफ SC में याचिका दायर◾चीन के साथ 1962 के युद्ध ने विश्व मंच पर भारत की स्थिति को काफी नुकसान पहुंचाया : जयशंकर ◾झारखंड में रघुबर दास नहीं, मोदी-शाह करेंगे चुनाव प्रचार का नेतृत्व ◾भारत ने अयोध्या, कश्मीर पर पाकिस्तानी दुष्प्रचार का दिया करारा जवाब◾शी चिनफिंग और मोदी के बीच वार्ता ◾महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना में विलगाव ने कांग्रेस-राकांपा को किया है एकजुट ◾गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार को जायेंगे सीआरपीएफ के मुख्यालय ◾

अन्य राज्य

बाढग़्रस्त राज्यों के दौरे पर गई रक्षामंत्री का गुस्सा कर्नाटक के मंत्री पर फूटा

कर्नाटक के बाढ़ प्रभावित कोडागू जिले के दौरे के दौरान रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और कर्नाटक के मंत्री सा. रा. महेश के बीच यात्रा कार्यक्रम पर बहस हो गयी। जिला आयुक्त कार्यालय में अधिकारियों और मीडिया की मौजूदगी में यह सारा घटनाक्रम हुआ। सीतारमण प्रभावित लोगों के समूह से बात कर रहीं थीं, उसी दौरान जिला प्रभारी मंत्री महेश ने उनसे कहा कि समीक्षा बैठक के लिए अधिकारी उनका इंतजार कर रहे हैं और उन सबको पुनर्वास कार्य के लिए जाना है। कॉन्फ्रेंस में सीतारमण बाढ़ प्रभावित लोगों के समूह से बात कर रहीं थीं, उसी दौरान जिला प्रभारी मंत्री महेश ने उनसे कहा कि समीक्षा बैठक के लिए अधिकारी उनका इंतजार कर रहे हैं और उन सभी को पुनर्वास कार्य के लिए जाना है। उन्होंने कहा कि वह पहले अधिकारियों से बात कर लें, जिसपर सीतारमण राजी भी हो गईं। सीतारमण का कहना है कि 'मैंने प्रभारी मंत्री का अनुसरण किया. यहां केंद्रीय मंत्री, प्रभारी मंत्री का अनुसरण कर रहे हैं। अदभुत! मेरे पास आपके दिए मिनट-टू-मिनट की लिस्ट है और मैं उसके हिसाब से ही चल रही हूं।' इसके बाद उन्होंने दोबारा मंत्री को तब डांट लगाई, जब उनसे कहा गया कि बातचीत की रिकॉडिंग की जा रही है। सीतारमण ने इसपर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, 'होने दो रिकॉडिंग।'
इसके बाद सीतारमण ने जानना चाहा कि कितने अधिकारी बाढ़ पुनर्वास कार्य में लगे हुए हैं और उन्होंने कहा कि वह नहीं चाहतीं कि कामकाज बाधित हो. बाद में महेश ने कहा कि कोडागू के लिए केंद्र से कोष की मांग के कारण सीतारमण ने यह टिप्पणी की। इस घटना के दौरान जिला आयुक्त कार्यालय में अधिकारी और मीडिया भी मौजूद थे।

बता दें कि कर्नाटक के कोडागू जिले में ए‍क हफ्ते में ही भारी बारिश के कारण कम-से-कम 17 लोगों की मौत हो चुकी है। रक्षामंत्री सीतारमण कर्नाटक से मंत्री होने के नाते इलाके के दौरे पर थीं और उन्होंने जिले के लिए एमपीएलएडी(मेंबर ऑफ पार्लियामेंट लोकल एरिया डेवलेवमेंट) से एक करोड़ रुपये की मदद की पेशकश भी की।