BREAKING NEWS

स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी में देशभक्ति का जोश◾बिहार में कैबिनेट विस्तार आज, करीब 30 मंत्री होंगे शामिल ◾Bilkis Bano case : उम्रकैद की सजा पाए सभी 11 दोषी गुजरात सरकार की क्षमा नीति के तहत रिहा◾Independence Day 2022 : पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस की बधाई देने वाले वैश्विक नेताओं का किया आभार व्यक्त ◾Independence Day 2022 : सीमा पर तैनात भारत और पाकिस्तान के सैनिकों ने मिठाइयों का किया आदान प्रदान ◾Independence Day 2022 : विश्व नेताओं ने स्वतंत्रता के 75 वर्षों में भारत की उपलब्धियों की सराहना की◾Independence Day 2022 : लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने दिया 'जय अनुसंधान' का नारा,नवोन्मेष को मिलेगा बढ़ावा◾स्वतंत्रता दिवस पर गहलोत ने फहराया झंडा! CM ने कहा- देश के स्वर्णिम इतिहास से प्रेरणा ले युवा ◾क्रूर तालिबान का सत्ता में एक साल पूरा : कितना बदला अफगानिस्तान, गरीबी का बढ़ा दायरा ◾नगालैंड : स्वतंत्रता दिवस पर उग्रवादियों के मंसूबे नाकाम, मुठभेड़ में असम राइफल्स के दो जवान घायल◾शशि थरूर के टी जलील की विवादित टिप्पणी पर भड़के, कहा- देश से ‘तत्काल' माफी मांगनी चाहिए◾विपक्ष का मोदी पर तीखा वार, कहा- महिलाओं के प्रति अपनी पार्टी का रवैया देखें प्रधानमंत्री◾स्वतंत्रता दिवस की 76 वी वर्षगांठ पर सीएम ने किया 75 ‘आम आदमी क्लीनिक’ का उद्घाटन ◾Bihar: 76वें स्वतंत्रता दिवस पर बोले नीतीश- कई चुनौतियों के बावजूद बिहार प्रगति के पथ पर अग्रसर ◾मध्यप्रदेश : आपसी झगड़े के बीच बम का धमाका, एक की मौत , 15 घायल◾बेटा ही बना पिता व बहनों की जान का दुश्मन, संपत्ति विवाद के चलते की धारदार हथियार से हत्या ◾स्वतंत्रता दिवस पर मोदी की गूंज! पीएम ने कहा- हर घर तिरंगा’ अभियान को मिली प्रतिक्रिया...... पुनर्जागरण का संकेत◾उधोगपति मुकेश अंबानी के परिवार को जान से मारने की धमकी, जांच शुरू◾स्वतंत्रता दिवस पर बोले केजरीवाल- 130 करोड़ लोगों को मिलकर नए भारत की नीव रखनी है, मुफ्तखोरी को लेकर कही यह बात ◾Independence Day 2022 : देश में सहकारी प्रतिस्पर्धी संघवाद की जरूरत : पीएम मोदी ◾

स्वामी श्रद्धानंद के लिए मांगा भारत रत्न

हरिद्वार : गुरुकुल कांगड़ी विद्यालय में अमर हुतात्मा स्वामी श्रद्धानंद के लिए भारत रत्न की मांग उठाई गई। विद्यालय में शिक्षकों की एक बैठक आहूत की गयी। बैठक की अध्यक्षता करते हुए विद्यालय के मुख्य अधिष्ठाता व् शिक्षाविद डा. दीनानाथ शर्मा ने कहा कि स्वामी श्रद्घानंद महाराज ने 1902 में गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय की स्थापना कांगड़ी गांव में की थी। स्वामी की पहली प्रयोगशाला गुरुकुल कांगड़ी है जहां पर वैदिक संस्कारों से मानव को मानव बनाया जाता है।

उस कालांतर में न सुविधाएं, सड़क और शिक्षा देने की व्यवस्था थी, जिधर भी आंख पसार देखते थे। उधर अंग्रेजो की सल्तनत चलती थी, उस समय स्वामी श्रद्धानंद महाराज ने अंगेजों से लोहा लिया था। उन्होंने देश की आजादी में अपना घर बहार त्याग कर अपना बलिदान दिया है। आर्य समाज के पुरोधा स्वामी श्रद्धानंद को भारत रत्न मिलना चाहिये। स्वामी श्रद्धानंद महाराज को भारत रत्न जैसा पुरस्कार अवश्य मिलना चाहिए।

इस अवसर पर बैठक में अशोक कुमार, डा हुकुम सिंह, डा. ब्रजेश कुमार, वेद पाल सिंह, विजय कुमार, अमित कुमार, राज कमल सैनी, दीप कमल लोकेश, जीतेन्द्र कुमार वर्मा, अश्वनी कुमार, टीकम सिंह, सज्जन कुमार, अशोक कुमार गौरव कुमार आदि शिक्षक उपसिथत थे। बैठक का संचालन डा. योगेश शास्त्री ने किया। वहीं हिंदू रक्षा सेना के मंडल संयोजक मयंक चौहान ने भी कुलपति के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया।

आर्य समाज के साधकों ने आजादी दिलाने में खून बहाया गुरुकुल कांगड़ी विद्यालय के प्रधानाचार्य डा. विजेंद्र शास्त्री ने कहा कि देश की आजादी में स्वामी श्रद्धानंद महाराज अहम् भूमिका रही है। देश की आजादी में आर्य समाज द्वारा चलाया गया स्वतंत्रता आन्दोलन किसी से छिपा नहीं है। इतिहास के पन्नों को पलटकर देखों आजादी दिलाने में खून की नदियां आर्य समाज के साधको द्वारा बहाई गयी है। आर्य समाज के प्रमुख प्रचारक स्वामी श्रद्धानंद महाराज है इसलिए श्रद्धानंद महाराज को भारत रत्न मिलना चाहिए।

बैठक में गुरुकुल कांगड़ी विद्यालय के शिक्षक डा. योगेश शास्त्री ने कहा कि स्वामी श्रद्धानंद महाराज को बहुत पहले ही भारत रत्न मिल जाना चाहिए। देश के नाम सर्वस्व न्यौछावर करने वाला आर्य समाज के पहले संत है, जिन्होंने समाज के उत्थान, शिक्षा तथा हिंदुत्व की रक्षा के लिए लाल किले पर अपनी जान की आहुति दे दी थी।

- संजय चौहान