BREAKING NEWS

कूचबिहार फायरिंग मामला : ममता ने आत्मरक्षा वाली दलील पर जताया संदेह, कहा- सरकार कराएगी सीआईडी जांच◾UP के इटावा में भीषण सड़क हादसा, श्रद्धालुओं से भरी गाड़ी पलटी, 11 लोगों की मौत◾जावड़ेकर बोले- महाराष्ट्र को टीके की 1.10 करोड़ खुराकें मिल चुकी, 1121 वेंटिलेटर दिए जाएंगे ◾चुनाव में हार सुनिश्चित देख हिंसा के पुराने खेल पर उतर आई हैं ममता: PM मोदी ◾MP: कोरोना के बढ़ते केसों के चलते कई शहरों में लॉकडाउन, कुछ जगहों पर बढ़ाई गई अवधि ◾कर्नाटक में कोरोना का कहर : बेंगलुरु सहित कर्नाटक के 7 जिलों में आज से नाइट कर्फ्यू लागू ◾राहुल गांधी ने देश में कोविड की दूसरी लहर पर गहरी चिंता व्यक्त की◾देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों में से 72 % से अधिक महज पांच राज्यों में : स्वास्थ्य मंत्रालय◾कूचबिहार हिंसा मामले में ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री का मांगा इस्तीफा, कहा- लोगों की मौत के पीछे अमित शाह ◾CISF की गोलीबारी में चार लोगों की मौत के बाद EC ने सीतलकूची के मतदान केंद्र पर बंद कराई वोटिंग◾कूचबिहार हिंसा के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करे EC, ‘दीदी’ और उनके गुंडों में हार की है बौखलाहट : PM मोदी◾सोनिया का आरोप- कोरोना महामारी में मोदी सरकार ने किया कुप्रबंधन, टीके की देश में होने दी कमी ◾दिल्ली में नहीं होगा लॉकडाउन, जल्द लगाए जाएंगे नए प्रतिबंध : CM केजरीवाल◾बंगाल चुनाव में स्थानीय लोगों के हमले के बाद केंद्रीय बलों ने की फायरिंग, चार लोगों की मौत◾मोदी हैं सर्वश्रेष्ठ, लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए TMC से जुड़े प्रशांत किशोर : लॉकेट चटर्जी◾विफल नीतियों के चलते दोबारा पलायन को मजबूर हैं प्रवासी, सरकार को अच्छे सुझावों से ‘एलर्जी’ : राहुल गांधी ◾वायरल हुई प्रशांत किशोर की ऑडियो, अमित मालवीय बोले- TMC ने भी माना बंगाल में है मोदी लहर ◾हुगली में BJP नेता लॉकेट चटर्जी के काफिले पर हमला, मीडिया वाहनों में हुई तोड़फोड़◾पश्चिम बंगाल : चौथे चरण में अब तक 16.65 फीसदी मतदान, 44 सीटों पर तेजी से चल रही है वोटिंग ◾किसानों ने केएमपी एक्सप्रेस वे को किया बंद, ट्रॉली और चारपाई लेकर हाइवे पर बैठे प्रदर्शनकारी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

चित्रकूट धाम में पांच दिवसीय दिवाली त्योहार के पहले दिन धनतेरस पर नहीं रही रौनक

भगवान राम से जुड़े पवित्र स्थल चित्रकूट धाम में कोविड-19 के चलते इस साल बृहस्पतिवार से चल रहे पांच दिवसीय दिवाली त्योहार में पहले दिन धनतेरस के दिन रौनक नहीं रही। 

हिंदू पुजारियों ने कहा कि पिछले साल पांच दिवसीय दिवाली त्योहार के पहले दिन चित्रकूट धाम स्थित मंदाकिनी नदी के तट पर 35 लाख से अधिक भक्त ‘दीप दान’ करने के लिए आये थे। लेकिन इस बार आज शाम ‘दीप दान’ करने के लिए कम भक्त ही आये। 

लोगों में यह मान्यता है कि भगवान श्रीराम, देवी सीता और छोटे भाई लक्ष्मण चित्रकूट के घने जंगलों में 14 वर्ष के वनवास के दौरान लंबे समय तक ठहरे थे और भगवान राम ने चित्रकूट में ‘दीप दान’ किया था। पौराणिक कथाओं के अनुसार दिवाली के दिन भगवान राम अपने चौदह वर्ष के वनवास के पश्चात अयोध्या लौटे थे। 

उत्तरप्रदेश के चित्रकूट जिले के प्रसिद्ध हनुमान सिद्धपीठ तुलसी गुफा के महंत मोहित दास ने फोन पर ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘इस बार चित्रकूट धाम में रौनक गायब है। धनतेरस के दिन कम भक्त ‘दीप दान’ करने आये।’’ 

रामचरितमानस पर पीएचडी करने वाले महंत ने कहा, ‘‘यह वह पवित्र जगह है जहां भगवान राम ने 11 साल, छह महीने और 18 दिन बिताए। हमारे प्रभु ने अयोध्या के लिए प्रस्थान करने से पहले पवित्र मंदाकिनी नदी में ‘दीप दान’ भी किया था।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने इस तरह की बेरौनक वाला दिवाली त्योहार अपने जीवन में कभी नहीं देखा है, जितना कि इस साल देख रहा हूं। चित्रकूट तक आजकल ट्रेनें भी नहीं चल रही हैं। इसके अलावा, कोविड-19 के लिए लगाये गये लॉकडाउन ने कई लोगों को बेरोजगार कर दिया है, जिससे लोगों के पास पैसे की तंगी है।’’ 

एक अन्य पुजारी सत्यप्रकाश दास ने कहा कि चित्रकूट में दिवाली के त्योहारी की खुशी, हर्षोल्लास एवं उत्साह इस बार गायब दिख रहा है। 

सतना के जिलाधिकारी अजय कटेसरिया ने ‘पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘इस बार पिछले साल के मुकाबले करीब 15 प्रतिशत कम श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है।’’ 

चित्रकूट धाम उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश में आता है। मंदाकिनी नदी के किनारे पर बसा यह चित्रकूट प्राचीनकाल से ही हमारे देश का सबसे प्रसिद्ध धार्मिक सांस्कृतिक स्थल रहा है।