BREAKING NEWS

कर्नाटक में BJP को बड़ा झटका, एनवाई गोपालकृष्ण ने विधायक पद से दिया इस्तीफा ◾नवजोत सिंह सिद्धू पटियाला जेल से 1 अप्रैल को होंगे रिहा ◾इंदौर हदासे के बाद PM मोदी का भोपाल प्रवास का स्वागत कार्यक्रम रद्द ◾हावड़ा में कट्टरपंथियों का बवाल, CM ममता ने बीजेपी और दक्षिणपंथी हिन्दू संगठनों को ठहराया जिम्मेदार ◾दिल्ली में बढ़ा कोरोना का ग्राफ, CM केजरीवाल बोले- हमारी सरकार किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार◾ अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप पर पॉर्न स्टार को पैसे देकर चुप कराने का लगा आरोप, केस हुआ दर्ज ◾गुजरात: PM मोदी विरोधी पोस्टर लगाने के आरोप में AAP के आठ कार्यकर्ता गिरफ्तार◾PM Modi ने की घोषणा, गैस पाइपलाइन परियोजना पर एक समान शुल्क लगाया जाएगा◾Himachal Bridge Collapse: हमीरपुर में निर्माणाधीन पुल ढहा, किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं◾Himachal Weather Update: लाहौल और स्पीति में हल्का हिमपात, कई हिस्सों में बारिश◾पंजाब के CM भगवंत मान की बेटी को US में जान से मारने की मिली धमकी : स्वाति मालीवाल◾केजरीवाल ने दिल्ली की योगशाला क्लासेस बंद करने के लिए उपराज्यपाल और PM मोदी को ठहराया जिम्मेदार ◾RSS प्रमुख मोहन भागवत सिंधी समाज को आज संबोधित करेंगे, CM चौहान भी होंगे शामिल◾दिल्ली महिला आयोग ने Transgenders की स्थिति में सुधार के लिए जारी किए दिशानिर्देश ◾Delhi Fire News: दिल्ली के वजीरपुर की एक फैक्ट्री में लगी भीषण आग, पुलिस कर रही जांच ◾Delhi Fire News: दिल्ली के वजीरपुर की एक फैक्ट्री में लगी भीषण आग, पुलिस कर रही जांच ◾आजम खान के आवास पर अज्ञात व्यक्ति ने तंत्र मंत्र से जुड़ी चीजों की पोटली फेंकी,पत्नी ने सुरक्षा व्यवस्था को लेकर उठाए सवाल ◾गुजरात : रामनवमी के जुलूस पर पथराव, 24 लोगो को हिरासत में लिया, सभी नियमित गतिविधियां सामान्य रूप से जारी◾ राहुल की सदस्यता रद्द पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन, मार्च के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता की पुलिस से झड़प में 4 घालय◾6 राशियों को मिलेंगे मेहनत के उत्तम परिणाम, बरसेगी मां दुर्गा की कृपा, शुक्रवार के दिन करें ये उपाय◾

असम में नहीं दिखा भारत बंद का असर

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ 10 महीनों से दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे किसान संगठनों ने सोमवार को भारत बंद करने का आह्वान किया है। परन्तु कई ऐसे राज्य है। जिनमे भारत बंद का कोई असर नहीं दिखाई दिया|जिनमे से एक राज्य है असम में सोमवार को भारत बंद का असर नहीं दिखाई दिया। सार्वजनिक परिवहन सामान्य रूप से संचालित रहा, बाजार खुले, और कार्यालयों में सामान्य उपस्थिति दर्ज की गई। बंद का समर्थन करने वाली विपक्षी कांग्रेस ने राज्य में कोई विरोध कार्यक्रम आयोजित नहीं किया। गुवाहाटी में, एसयूसीआई (कम्युनिस्ट) के सदस्यों ने सुबह तीन कृषि कानूनों के खिलाफ नारे लगाते हुए एक विरोध रैली निकाली। पुलिस ने उन्हें उलुबारी प्वाइंट के पास से हिरासत में ले लिया। राज्य भर से किसी अन्य विरोध या प्रदर्शन की कोई सूचना नहीं मिली है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेन बोरा ने बंद के समर्थन में लोगों से सड़कों पर उतरने का आग्रह किया, लेकिन पार्टी कार्यकर्ता नदारद रहे। कांग्रेस प्रवक्ता बबीता शर्मा ने कहा कि पार्टी ने लोगों से बंद का स्वत: समर्थन करने की अपील की है। उन्होंने कहा, ''लोगों को खुद महसूस करना चाहिए कि कैसे सरकार मुख्य मुद्दों की अनदेखी कर रही है। हमारे प्रदेश अध्यक्ष की अपील है कि लोग किसानों के मुद्दे का समर्थन करने के लिए खुद आगे आएं।'' रायजोर दल और कृषक मुक्ति संग्राम समिति (केएमएसएस) ने भी बंद को अपना समर्थन दिया। संयुक्त किसान मोर्चा ने तीन कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर 10 घंटे के बंद का आह्वान किया था।