BREAKING NEWS

नागरिकता संशोधन विधेयक भाजपा के घोषणापत्र का हिस्सा रहा, जनता ने इसे मंजूर किया : अमित शाह◾कर्नाटक उपचुनाव : BJP को 12 सीटों पर जीत मिली, विधानसभा में मिला स्पष्ट बहुमत ◾कर्नाटक : सिद्धारमैया ने कांग्रेस विधायक दल के नेता पद से दिया इस्तीफा◾JNU छात्रों ने राष्ट्रपति भवन तक शुरू किया मार्च, पुलिस ने की शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अपील◾रॉबर्ट वाड्रा को कोर्ट से बड़ी राहत, मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए विदेश जाने की मिली अनुमति◾बीजेपी ने छह सीटें जीतने के साथ कर्नाटक विधानसभा में बहुमत किया हासिल ◾झारखंड में बोले राहुल- सत्ता में आने पर लोगों को जल, जंगल और जमीन लौटाया जाएगा◾कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश विभाजन किया जिसके कारण नागरिकता कानून में संशोधन की जरूरत पड़ी : अमित शाह◾अखिलेश यादव ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया भारत और संविधान का अपमान◾झारखंड में बोले PM मोदी- कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी◾गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में पेश किया नागरिकता संशोधन विधेयक◾शिवसेना नागरिकता संशोधन विधेयक का करेगी समर्थन: संजय राउत ◾हैदराबाद एनकाउंटर मामले पर बुधवार को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾कर्नाटक उपचुनाव : कांग्रेस नेता शिवकुमार ने मानी हार, बोले-लोगों ने दलबदलुओं को किया स्वीकार◾विभाजनकारी चालक के साथ कैब की सवारी है ‘कैब’ विधेयक: कपिल सिब्बल ◾शिवसेना ने केंद्र पर लगाया हिंदुओं-मुसलमानों का ‘अदृश्य विभाजन’ करने का आरोप◾कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का जन्मदिन आज, PM मोदी समेत कई नेताओं ने दी बधाई◾दिल्ली: अनाज मंडी में 24 घंटे बाद फिर लगी इमारत में आग, मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियां◾कर्नाटक उपचुनाव : येदियुरप्पा का दावा- भाजपा जीतेगी 15 में से 13 सीटें◾कर्नाटक उपचुनाव : मतगणना जारी, परिणाम तय करेंगे BJP का भविष्य ◾

अन्य राज्य

प्रदेश में रोजगारपरक माहौल बनाने के प्रयास

 harak singh rawat 1

देहरादून : प्रदेश के वन एवं वन्य जीव, श्रम, सेवायोजन, प्रशिक्षण, आयुष एवं आयुष शिक्षा मंत्री डाॅ हरक सिंह रावत की अध्यक्षता में विधानसभा स्थित कार्यालय कक्ष में बैठक हुई। बैठक में कहा गया कि रोजगार मेला को अधिक प्रभावी बनाते हुए धरातल पर लाया जायेगा, केवल खाना-पूर्ति के लिए रोजगार मेला नहीं लगेगा। पिछले वर्षों रोजगार मेला के माध्यम से जिन लोगों को नियोजित किया गया है उनकी मानिटरिंग की जायेगी। 

रोजगार के लिए उपलब्ध धन का शत-प्रतिशत उपयोग किया जायेगा। इसके लिए उन्होंने राज्य में रोजगार परक माहौल तैयार करने पर बल दिया। तकनीकी शिक्षा की समीक्षा करते हुए कहा गया कि स्वीकृत 176 आईटीआई में से 148 संचालित हैं, जिनमें लगभग 14500 छात्रों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इनमें 65 पद प्राचार्य के हैं, शेष पदों पर फोरमैन प्राचार्य का कार्य देख रहे हैं। 

लोक सेवा आयोग द्वारा स्वीकृत 32 पदों में से 16 पद रिक्त हैं, जिसके लिए अधियाचन भेजा जायेगा तथा स्वीकृत 33 पदोन्नति के पद के सापेक्ष खाली 20 पद शीघ्र डीपीसी की जायेगी। प्रयास यह किया जायेगा की प्रत्येक आईटीआई में प्राचार्य का पद उपलब्ध हो। बैठक में निर्देश दिया गया कि निदेशालय स्तर के अधिकारी समय-समय पर आईटीआई का समयबद्ध एवं आकस्मिक निरीक्षण कर रिपोर्ट देंगे। 

यह भी कहा गया कि अनुदेशक अपने क्षेत्र के हाईस्कूल-इण्टर काॅलेज में विजिट करेंगे तथा आईटीआई ट्रेड तथा रोजगार के विषय में जानकारी देंगे। इस अवसर पर सचिव रंजीत सिन्हा, अपर सचिव इकबाल अहमद, निदेशक सेवा योजन जीवन सिंह नगन्याल एव उप निदेशक चन्द्रकान्ता इत्यादि अधिकारी मौजूद थे।

- सुनील तलवाड़