तुरा : चुनाव आयोग ने मेघालय की दक्षिण तुरा विधानसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार ग्रिथल्सन एरेंघ को बिना अनुमति चुनाव अभियान शुरू करने और भड़काऊ भाषण देने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया है। आयोग ने श्री एरेंघ को नोटिस का जवाब देने के लिए कल तक का समय दिया है और अगर वह जवाब नहीं दे पाते हैं तो उनके खिलाफ चुनाव आयोग के नियमों के अनुसार कार्रवाई की जायेगी।

नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) ने चुनाव आयोग के समक्ष कांग्रेस के उम्मीदवार के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी थी कि नौ फरवरी को कांग्रेस उम्मीदवार एवं उनके समर्थकों ने तुरा के न्यू वालबाकग्रे में चुनावी सभा में एनपीपी और भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ भड़काऊ भाषण दिये। एनपीपी ने कांग्रेस उम्मीदवार पर लोगों की सांप्रदायिक भावनाओं को उकसाने वाले भाषण देने का आरोप लगाया।

कारण बताओ नोटिस में यह भी कहा गया है कि राज्य में आदर्श आचार संहिता लागू होने के बावजूद कांग्रेस उम्मीदवार ने चुनाव अधिकारी से सभा करने की इजाजत नहीं ली थी। ऐसे समय में बिना इजाजत जनसभा करने से आदर्श आचार संहिता का जानबूझकर उल्लंघन करने की उनकी मंशा जाहिर होती है।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।