BREAKING NEWS

भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾UP में मुआवजे के लिए किसानों का प्रदर्शन हुआ उग्र ◾भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾अयोध्या फैसले पर बोले यशवंत सिन्हा, कहा- इस फैसले में कुछ खामियां हैं, लेकिन हमें आगे बढ़ने की जरूरत◾UEA के नागरिकों को अब भारत आने पर सीधे मिलेगा वीजा◾महाराष्ट्र सरकार गठन : सोमवार को पवार सोनिया गांधी से करेंगे मुलाकात ◾विपक्ष ने संसद में अपनी संख्या बढ़ाई ◾बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर तेज हुई राजनीति◾PM मोदी ने राजपक्षे को भारत आने का दिया निमंत्रण◾प्रदूषण के मुद्दे पर केंद्र सोमवार को उत्तरी राज्यों के अधिकारियों के साथ करेगा उच्च स्तरीय बैठक ◾कर्नाटक उपचुनावों में उम्मीदवारों को भविष्य के मंत्री के तौर पर पेश कर रही है भाजपा ◾किसानो पर पुलिस बर्बरता शर्मनाक : प्रियंका◾नागरिकता विधेयक से लेकर आर्थिक सुस्ती पर विपक्ष के विरोध से शीतकालीन सत्र के गर्माने की संभावना ◾TOP 20 NEWS 17 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मंत्री स्वाती सिंह के कथित आडियो पर प्रियंका गांधी ने सरकार को घेरा ◾अयोध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड◾उपभोक्ता खर्च के आंकड़े छिपाने के आरोपों में चिदंबरम का केंद्र सरकार पर निशाना◾प्रियंका गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वास्तविक मुद्दों पर फोकस करने का दिया निर्देश ◾सर्वदलीय बैठक में बोले PM मोदी- सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हैं तैयार ◾गोताबेया राजपक्षे ने जीता श्रीलंका के राष्ट्रपति का चुनाव, PM मोदी ने दी बधाई◾

अन्य राज्य

बिहार के पांच विधानसभा क्षेत्र में फिर होंगे चुनाव

पटना : बिहार में इस बार के लोकसभा चुनाव में पांच विधायकों के सांसद बनने से अब पांच विधानसभा क्षेत्र में फिर से चुनाव कराये जायेंगे। बिहार में वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में सांसद बनने के इरादे से 12 विधायक चुनावी मैदान में उतरे, जिनमें से पांच को कामयाबी मिली। 

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दल जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के टिकट पर सिमरी बख्तियारपुर के विधायक दिनेश चंद, यादव मधेपुरा संसदीय सीट से, नाथनगर के विधायक अजय कुमार मंडल भागलपुर से, बेलहर के विधायक गिरधारी यादव बांका से और दरौंधा की विधायक कविता सिंह सीवान से चुनावी रणभूमि में उतरी और उन्हें सांसद बनने का अवसर मिला। वहीं, महागठबंधन की ओर से किशनगंज सीट से किशनगंज के विधायक और कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. मोहम्मद जावेद ने जीत हासिल की और वह संसद पहुंचने में कामयाब रहे। इन सबके साथ ही इस बार के लोकसभा चुनाव में राज्यसभा सासंद और विधान पार्षदों ने भी किस्मत आजमायी, जिनमें रवि शंकर प्रसाद (राज्यसभा सासंद), पशुपति कुमार पारस (विधान पार्षद ) और राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह (विधान पार्षद) लोकसभा सांसद बनने में सफल रहे हैं।

ऐसे में विधानसभा, विधान परिषद और राज्यसभा की बहुत सारी सीटें खाली हो रही हैं, जिन पर अब नए सिरे से चुनाव करवाए जाएंगे। विधायक, राज्यसभा सांसद और विधान पार्षदों को सासंद बनने के बाद अपनी सदस्यता छोड़नी पड़गी और उन्हें त्यागपत्र देना होगा। त्यागपत्र देने के छह महीने के अंदर पांच विधानसभा क्षेत्र सिमरी बख्तियारपुर, नाथनगर, बेलहर, दरौंधा और किशनगंज विधानसभा क्षेत्र में फिर से चुनाव कराये जाएंगे। हाजीपुर (सु) सीट से रामविलास पासवान के भाई और नीतीश कुमार मंत्रिमंडल के मंत्री तथा विधान पार्षद पशुपति कुमार पारस भी चुनाव जीतकर सांसद बन गये है। 

मुंगेर से जदयू के टिकट पर बिहार सरकार में मंत्री और विधान पार्षद राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह भी सांसद बनने में सफल रहे हैं। श्री पारस और श्री सिंह को विधान परिषद, की सदस्यता से त्यागपत्र देना होगा। केन्द्रीय मंत्री और राज्यसभा सांसद रवि शंकर प्रसाद को भी पटनसाहिब सीट से लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद राज्यसभा की सदस्यता छोड़नी होगी, जिससे राज्यसभा में बिहार से एक सीट रिक्त हो जायेगी।