तमिलनाडु के थेनी जिले की वरूसनाडु पहाड़ियों से तीन लोगों को गिरफ्तार करके उनके पास से कुछ शस्त्र बरामद किए गए हैं। अधिकारी इस बात का पता लगा रहे हैं कि कहीं उनका संबंध नक्सलवादियों से तो नहीं है। एक वन अधिकारी ने यहां शनिवार को यह जानकारी दी। वन क्षेत्राधिकारी इकबाल ने पीटीआई-भाषा को बताया कि इन तीनों को गश्ती दल द्वारा मेगामलाई वन्य जीव अभयारण्य के उडगंल क्षेत्र में पड़ने वाले उदांगल क्षेत्र में शुक्रवार की रात को देखा गया था।

इन लोगों के पास से दो देसी बंदूकें, एक एयरगन, एक हंसिया और एक बरछी मिली है। यह तत्काल पता नहीं चल सका है कि ये तीनों लोग संरक्षित वन क्षेत्र में क्या कर रहे थे। माना जा रहा है कि ये लोग जंगल में अवैध शिकार के इरादे से आये थे।

इन लोगों से पूछताछ की जा रही है। अधिकारी ने बताया, ‘‘इन तीनों लोगों के बारे में सूचनाएं नक्सल विरोधी पुलिस बलों से साझा की गई हैं और इस बात की तहकीकात की जा रही है कि कहीं उनके संबंध नक्सलियों से तो नहीं है।’’ पश्चिमी घाट में स्थित मेगामलाई वन्य जीव अभ्यारण्य को अपने समृद्ध वनस्पति एवं वन्य जीवन के लिए जाना जाता है।