BREAKING NEWS

दिल्ली बॉर्डर सील मामले में SC ने तीनों राज्यों को NCR में आवागमन के लिए कॉमन नीति बनाने के दिए निर्देश◾वर्चुअल समिट में PM मोदी ने ऑस्ट्रेलिया के साथ भारत के संबंधों को मजबूत करने के लिए जाहिर की प्रतिबद्धता ◾राहुल के साथ बातचीत में राजीव बजाज ने कहा- लॉकडाउन से देश की अर्थव्यवस्था तबाह हो गई◾केरल में हथिनी की हत्या पर केंद्र गंभीर, जावड़ेकर बोले-दोषी को दी जाएगी कड़ी सजा◾कांग्रेस को मिल सकता है झटका,पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले AAP का दामन थाम सकते हैं सिद्धू ◾World Corona : दुनियाभर में करीब 4 लाख लोगों ने गंवाई जान, संक्रमितों का आंकड़ा 65 लाख के करीब ◾देश में कोरोना से संक्रमितों की संख्या 2 लाख 17 हजार के करीब, अब तक 6000 से अधिक लोगों की मौत◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन आज वर्चुअल शिखर सम्मेलन में लेंगे हिस्सा◾US में वैश्विक महामारी का कहर जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 18 लाख के पार ◾लद्दाख सीमा पर कम हुआ तनाव, गलवान और चुसूल में दोनों देश की सेनाएं पीछे हटीं◾नोएडा में भूकंप के झटके हुए महसूस , रिक्टर स्केल पर तीव्रता 3.2 मापी गई◾दिल्ली में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, बीते 24 घंटों में 1513 नए मामले आये सामने ◾कोविड-19: अब तक 40 लाख से अधिक नमूनों की जांच की गई , 48.31 फीसदी मरीज स्वस्थ ◾महाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना से 122 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 74,860 हुई◾गृह मंत्रालय ने विदेशी कारोबारियों, स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों और इंजीनियरों को भारत आने की अनुमति दी ◾केंद्रीय मंत्रिमंडल के फैसलों पर पीएम मोदी बोले - किसानों की आय में होगी वृद्धि, बंदिशें हुई खत्म◾गुजरात में फैक्टरी की भट्ठी में भीषण विस्फोट, पांच की मौत, 40 कर्मी झुलसे ◾मुंबई में चक्रवाती तूफान निसर्ग का कहर खत्म, कम हुई हवाओं की रफ्तार◾महाराष्ट्र के रायगढ़ में निसर्ग तूफान ने मचाई तबाही, कई जगह गिरे पेड़ और बिजली के खंभे ◾मोदी कैबिनेट ने किसानों के हित में लिया बड़ा फैसला, वन नेशन-वन मार्केट पर की चर्चा◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

झारखंड में आयोग, निगम को मिलेंगी वित्तीय शक्तियां

रांची : झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज कहा कि राज्य में रह रहे अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़े वर्ग के लोगों को आसानी से रिण उपलब्ध कराने के लिए आयोग और निगम आदि को वित्तीय शक्ति प्रदान की जायेगी। श्री दास ने यहां झारखंड मंत्रालय में ‘ट्रांसफॉर्मेशन ऑफ एसपिरेशनल डिस्ट्रिक्ट इन झारखंड’ विषय पर आयोजित उच्चस्तरीय बैठक में राज्य के वरीय अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में आदिवासी सहकारिता निगम, अनुसूचित जाति आयोग को फंड उपलब्ध कराया जायेगा।

इसके अलावा पिछड़ वर्ग के लिए भी वित्त निगम बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि इससे अनुसूचित जाति-जनजाति और पिछड़े वर्ग के लोगों को छोटे-मोटे उद्योग और व्यवसाय के लिए आसान लोन मिल सकेगा। इन लोगों को अब बैंकों के चक्कर नहीं काटने होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मानव सूचकांक में वृद्धि लाकर ही सच्चे अर्थों में विकास के लक्ष्य को पाया जा सकता है। पिछले तीन साल में राज्य में टीम झारखंड बनाकर काफी अच्छे कार्य किये गये हैं जिसके सकारात्मक परिणाम भी दिखायी दे रहे हैं। स्वास्थ्य और शिक्षा के मामले में जहां झारखंड काफी पीछे था।

आज नीति आयोग के द्वारा तय मानकों में स्वास्थ्य के क्षेत्र में तेजी से सुधार के मामले में नंबर वन राज्य है। श्री दास ने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में शिक्षा के मानकों में भी काफी सुधार आया है। आने वाले दिनों में इनमें और सुधार आयेगा। लोगों को छोटे-छोटे काम से जोड़कर उनकी आमदनी बढ़यी जा सकती है।

राज्य के अति पिछड़ छह जिलों में 30-30 महिलाओं का 10-10 समूह बनाकर उन्हें चप्पल-जूते बनाने का प्रशिक्षण देने के साथ ही उन्हें कच्चा माल उपलब्ध कराया जायेगा। इससे तैयार माल को समूह की महिलायें सीधे बाजार में बेच सकेंगी जबकि जो माल बचेगा उसे सरकार खरीद लेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले वर्षों में दलितों, आदिवासियों तथा अन्य पिछड़ वर्ग में शिक्षा को बढ़ने के लिए विशेष प्रयास करना होगा।

उन्होंने कहा कि राज्य में साक्षरता दर को राष्ट्रीय औसत दर तक लाने के लिए एक क्रैश कार्यक्रम बनाना होगा। इसके साथ ही परंपरागत व्यवसायों को अधिक लाभप्रद बनाया जायेगा। श्री दास ने कहा कि झारखंड में काफी अच्छे कलाकार हैं लेकिन असंगठित हैं। इन्हें संगठित कर इनकी कला को बाजार उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके लिए पर्यटन स्थलों पर हाट बनाये जा रहे हैं।

इनके जरिए इन्हें रोजगार और स्वरोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ऐसा मानती है कि इन कलाकारों की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए राज्यस्तरीय मिशन होना चाहिए जो उन्हें अच्छी ऋण व्यवस्था, अच्छी विपणन व्यवस्था, तकनीक आदि योगदान देकर उनकी आर्थिक गतिविधियों में मदद दे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि टीम झारखंड के रूप में राज्य में काफी तेजी से विकास हो रहा है। आने वाले दिन में और सुधार दिखेगा। राज्य स्तर पर बनी टीम झारखंड के तर्ज पर जिला और प्रखंड स्तर पर भी टीम झारखंड बनाकर काम करें। इससे काम में और तेजी आयेगी। श्री दास ने कहा कि नीति आयोग ने भी झारखण्ड के विकास को सराहा है और इसे देश के दूसरे राज्यों के लिए नजीर बताया है।

उन्होंने बैठक में उपस्थित उपायुक्तों से हर सप्ताह प्राथमिकता वाली योजनाओं की समीक्षा करने को भी कहा। बैठक में मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, पुलिस महानिदेशक डी.के.पाण्डेय, अपर मुख्य सचिव डी.के.तिवारी, अपर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, सभी विभागों के प्रधान सचिव, सचिव समेत अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ