BREAKING NEWS

राहुल ने केंद्र पर रेलवे का निजीकरण करने का लगाया आरोप, बोले- रेल को भी गरीबों से छीन रही है सरकार◾रविशंकर प्रसाद बोले-अगर कोई बुरी नजर डालता है तो भारत मुंहतोड़ जवाब देगा◾दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए शाह ने आज योगी,केजरीवाल और खट्टर की बुलाई बैठक ◾ जम्मू-कश्मीर के पुंछ में पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन ◾देश के पहले 'प्लाज्मा बैंक' का CM केजरीवाल ने किया उद्घाटन, जाने कैसे डोनेट कर सकते हैं प्लाज्मा◾मध्यप्रदेश : शिवराज चौहान के मंत्रिमंडल का हुआ विस्तार, 20 कैबिनेट और 8 राज्यमंत्री ने ली शपथ ◾देश में कोरोना का आंकड़ा 6 लाख के पार, पिछले 20 दिनों के अंदर 3 लाख से अधिक केस आए सामने ◾दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 6 लाख के पार, अब तक 5 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾असम में बाढ़ से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 33 हुई, 15 लाख लोग हुए प्रभावित◾प्रियंका गांधी का मकान खाली कराने का कदम PM मोदी और CM योगी की बेचैनी दिखाता है : कांग्रेस◾रेलवे ने दी निजी यात्री ट्रेने शुरू करने को हरी झंडी, 30,000 करोड़ रुपये का होगा निवेश◾भारत के साथ सैन्य कमांडरों की बातचीत में प्रगति का चीन ने किया स्वागत, कहा - तनाव जल्द कम होगा ◾चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाने के फैसले पर भारत के साथ खड़ा हुआ अमेरिका, कहा - सुरक्षा के लिए जरूरी ◾दिल्ली में 2,442 नए मामले सामने आने के बाद कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 89 हजार के पार ◾UAPA कानून के तहत गृह मंत्रालय ने खालिस्तानी समूहों से जुड़े नौ लोगों को आतंकवादी घोषित किया ◾ 5,537 नए मामलों के साथ महाराष्ट्र में कोरोना मीटर पहुंचा 1,80,298, अबतक 8,053 मरीजों की मौत ◾59 चीनी ऐप बैन करने के बाद पीएम मोदी ने चीनी सोशल मीडिया प्लेटफार्म वीबो को कहा अलविदा ◾कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से एक महीने में सरकारी बंगला खाली करने का आदेश◾चीन की दादागिरी पर अमेरिका सख्त,कहा - अगर हांगकांग को “निगलने” की कोशिश की हम चुप नहीं बैठेंगे ◾कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई में 15 जुलाई तक लगाई गई धारा 144◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कोरोना संकट के बीच असम-मेघालय में बाढ़ का कहर जारी, करीब 2 लाख लोग हुए प्रभावित

कोरोना संकट के बीच पूर्वोत्तर के तीन राज्यों असम, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय में लगातार हो रही बारिश से कई इलाके बाढ़ग्रस्त हो गए हैं। असम में सात जिलों के 230 गांवों के करीब दो लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल की टीमों को उपकरणों के साथ 40 स्थानों पर पहले ही तैनात किया जा चुका है। 

असम में बाढ़ से हालात बिगड़ते ही जा रहे है और ब्रह्मपुत्र नदी समेत अन्य प्रमुख नदियों के उफान पर आने से राज्य में करीब दो लाख लोग लाख प्रभावित हो गए हैं। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के एक आधिकारिक बयान जारी कर बताया कि राज्य के सात जिले बाढ़ से प्रभावित हैं। बयान के अनुसार राज्य में आधिकारिक तौर पर करीब 1,94,916 लोग बाढ़ से प्रभावित हुए है जिसमें से गोलपारा जिले में अकेले एक लाख साठ हजार से अधिक लोग प्रभावित हैं।

राज्य में ब्रह्मपुत्र समेत दो अन्य नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बाढ़ के कारण गोलपारा और तिनसुकिया जिले में करीब नौ हजार लोगों को राहत शिविरों में स्थांतरित किया गया हैं। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की सहायता से स्थानीय प्रशासन द्वारा बचाव और राहत कार्य चलाया जा रहा है। मेघालय में लगातार बारिश और चक्रवाती तूफान ने पहाड़ी राज्य के कुछ हिस्से प्रभावित हुए है।  मेघालय के राजस्व और आपदा प्रबंधन मंत्री किर्मन शायला ने कहा कि पांच जिले प्रभावित हुए हैं। 

इस बीच, जल शक्ति मंत्रालय के केंद्रीय जल आयोग (सीडब्ल्यूसी) ने मंगलवार को असम की ब्रह्मपुत्र नदी के लिए बाढ़ अलर्ट जारी किया। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने इससे पहले, मंगलवार को भी असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में अत्यधिक भारी वर्षा की चेतावनी दी थी। असम और पड़ोसी राज्यों के कई हिस्सों में पिछले सप्ताह जब चक्रवात अम्फान आया था, तब से भारी बारिश हो रही है।