BREAKING NEWS

कनाडा की सीमा पर चार भारतीयों की मौत पर PM ट्रूडो बोले- बेहद दुखद मामला, सख्त कार्रवाई करूंगा◾EC ने रैली-रोड शो पर लगी पाबंदी को 31 जनवरी तक बढ़ाया, दूसरे तरीकों से प्रचार करने पर दी गई ढील ◾गृहमंत्री शाह ने कैराना में मांगे घर-घर BJP के लिए वोट, पलायन कराने वालों पर साधा निशाना ◾ चन्नी और सिद्धू दोनों पंजाब के लिए निकम्मे हैं, कांग्रेस के अंदर की लड़ाई ही उनको चुनाव में सबक सिखाएगीः कैप्टन◾निर्वाचन आयोग : चुनाव वाले राज्यों के शीर्ष अधिकारियों से करेगा मुलाकात, कोविड की स्तिथि का लेंगे जायजा ◾ दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल पुलिस ने दर्ज की FIR , पूर्व सीएम बोले- हमने कोई अपराध नहीं किया◾पंजाब में नफरत का माहौल पैदा कर रही है कांग्रेस, गजेंद्र सिंह शेखावत ने EC से किया कार्रवाई का आग्रह◾बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी के साथ गठबंधन करेंगे ओवैसी, UP की सत्ता में आने के बाद बनाएंगे 2 CM◾ पिता मुलायम सिंह यादव की कर्मभूमि से लड़ेंगे अखिलेश चुनाव, सपा का आधिकारिक ऐलान◾जम्मू-कश्मीर : शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू, सेना ने रास्ते को किया सील ◾यदि BJP पणजी से किसी अच्छे उम्मीदवार को खड़ा करती है, तो चुनाव नहीं लड़ूंगा: उत्पल पर्रिकर ◾गोवा में BJP के लिए सिरदर्द बनेगा नेताओं का दर्द-ए-टिकट! अब पूर्व CM पार्सेकर छोड़ेंगे पार्टी◾ BSP ने जारी की दूसरे चरण के मतदान क्षेत्रों वाले 51 प्रत्याशियों की सूची, इन नामों पर लगी मोहर◾DM के साथ बैठक में बोले PM मोदी-आजादी के 75 साल बाद भी पीछे रह गए कई जिले◾पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा हुए कोरोना से संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी ◾यूपी : गृहमंत्री शाह कैराना में करेंगे चुनाव प्रचार, काफी सुर्खियों में था यहां पलायन का मुद्दा ◾उत्तराखंड : टिकट नहीं मिलने से नाराज BJP नेताओं में असंतोष, पार्टी की एकजुटता तोड़ने की दी धमकी ◾मुंबई की 20 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 7 की मौत, 15 लोग घायल ◾UP में CM कैंडिडेट वाले बयान पर बोलीं प्रियंका-मैं चिढ़ गई थी, क्योंकि.....◾Today's Corona Update : 24 घंटे में 3.37 लाख से ज्यादा नए केस, 488 मरीजों की मौत ◾

झारखंड में युवा साध्वी के साथ सामूहिक दुष्कर्म, साध्वी ने कहा - अब जीवन का कोई अर्थ नहीं बचा

गोड्डा जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के रानीडीह पंचायत में, फूदन टोला स्थित महर्षि मेंही संतसेवी आश्रम में सोमवार एवं मंगलवार की मध्य रात्रि को पांच लोगों ने प्रवचन के लिए बाहर से आयी एक युवा साध्वी के साथ कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म किया । घटना से व्यथित साध्वी ने जीवन त्यागने की बात कही है। 

गोड्डा के पुलिस अधीक्षक वाई एस रमेश ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है और इस सिलसिले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है लेकिन मुख्य आरोपी फरार है। पीड़िता साध्वी ने मीडिया को बताया कि बीती रात लगभग ढाई बजे आश्रम की दीवार को फांद कर आरोपियों ने आश्रम में प्रवेश किया। आश्रम में उस समय एक पुरुष साधू और चार महिलाएं थीं। 

साध्वी ने बताया कि इन लोगों ने सभी के साथ मारपीट की और हथियार के बल पर सभी को अलग-अलग कमरे में बंद कर दिया और उसके बाद साध्वी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। व्यथित साध्वी ने कहा, ‘‘इस तरह के कुकृत्य के बाद अब मेरे जीने का कोई अर्थ ही नहीं रह गया है।’’ 

आश्रम में मौजूद पंकज बाबा ने बताया कि रात के वक्त आरोपियों ने जब आश्रम में प्रवेश किया तो उनके साथ आये पथवाड़ा के रहने वाले दीपक राणा को वह पहले से जानते थे। उन्होंने उससे सबको छोड़ देने की विनती की लेकिन किसी ने कुछ नहीं सुना और सभी को बम से उड़ा देने की धमकी दी। 

बाबा ने बताया कि बंद कमरे से ही उन्होंने पड़ोस के लोगों को मोबाइल से सूचना दी लेकिन जब तक लोग वहां पहुंचते तब तक अपराधी घटना को अंजाम देकर वहां से फरार हो चुके थे। बाबा ने बताया कि साध्वी फरवरी माह में प्रवचन के लिए आश्रम आईं थीं लेकिन लॉकडाउन के कारण वह कहीं अन्यत्र जा नहीं सकीं। 

पुलिस अधीक्षक वाईएस रमेश ने कहा कि पीड़िता को चिकित्सकीय जांच के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि अपराधियों की धरपकड़ के लिए एक टीम का गठन किया गया है और साथ ही कुछ संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है लेकिन अभी नामजद मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। 

पुलिस प्रशासन ने पीड़िता को आश्वस्त किया है कि अपराधियों को शीघ्र पकड़ लिया जायेगा। भाजपा ने इस घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि हेमंत सोरेन की सरकार में कानून नाम की कोई चीज ही नहीं रह गयी है और साधू सन्तों का तो यहां रहना ही मुहाल हो गया है। 

भाजपा के सह मीडिया प्रभारी रमेश पुष्कर ने कहा, ‘‘सोमवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत् प्रकाश नड्डा ने स्वयं कहा था कि झारखंड में कानून व्यवस्था की स्थिति बुरी तरह चरमरा गयी है और आज ही यह एक बार फिर साबित हो गया है।’

जलपाईगुड़ी में गैंगरेप के बाद आदिवासी बहनों ने खाया जहर, एक की मौत, दूसरी की हालत गंभीर