BREAKING NEWS

सत्यपाल मलिक बोले- अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर में केवट-शबरी की भी हों मूर्तियां, ट्रस्ट को लिखूंगा चिट्ठी◾झारखंड चुनाव: भाजपा के 'बागी' सरयू राय के बहाने नीतीश ने 'तीर' से साधे कई निशाने◾अयोध्या विवाद पर आए फैसले पर दूसरे देशों से संवाद बहुत सफल रहा : विदेश मंत्रालय◾झारखंड विधानसभा चुनाव : दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर 260 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत◾उद्धव ठाकरे और आदित्य ने मुंबई में शरद पवार से की मुलाकात ◾सोनिया ने शिवसेना संग गठबंधन के लिए सीडब्ल्यूसी का सुरक्षित रास्ता चुना ◾श्रीलंका की नई सरकार के साथ करीब से मिलकर काम करने को तैयार : भारत◾महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे , शुक्रवार को हो सकती है इस बारे में घोषणा◾चुनावी बांड से चुनावी राजनीति में साफ धन आया : भाजपा ◾SPG सुरक्षा हटाए जाने पर बोलीं प्रियंका - यह राजनीति है ◾सेना ने मुख्यमंत्री पद के लिए नए नाम सुझाए, राकांपा ने उद्धव पर दिया जोर◾ED ने कश्मीर में आतंकवादियों से संबंधित छह संपत्तियां जब्त की ◾प्रदूषण पर राज्यसभा में भाजपा और आप में तकरार, केंद्र ने कहा ‘अच्छे’ दिन बढे◾केजरीवाल के दबाव में केंद्र ने अनधिकृत कॉलोनियों के निवासियों को दिया मालिकाना हक : आप◾मोदी की जीत आशाओं तथा अपेक्षाओं की जीत : रविशंकर प्रसाद ◾विकास के कार्य पूरे करने को झारखंड में भाजपा को दें पूर्ण बहुमत : शाह◾राज्यसभा में विपक्षी दलों ने ट्रांसजेन्डर विधेयक को प्रवर समिति में भेजने की मांग की◾शिवसेना सदस्य ने की बिरसा मुंडा, वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग◾TOP 20 NEWS 21 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾महाराष्ट्र : कांग्रेस और NCP के बीच बातचीत पूरी, कल नई सरकार की रुपरेखा पर होगा अंतिम निर्णय◾

अन्य राज्य

गोडसे प्रकरण : भाकपा ने की बीजेपी से प्रज्ञा और हेगड़े को पार्टी से निकालने की मांग

 sadhvi-pragya-and-anant-hegde

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बीजेपी नेताओं के बयानों को भाकपा ने दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा है कि बीजेपी इन बयानों से खुद को अलग कर तब तक अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकती है, जब तक कि इन नेताओं को पार्टी से निष्काषित नहीं किया जाता है।

भाकपा ने शुक्रवार को जारी बयान में भोपाल से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और केन्द्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के बयानों को स्वतंत्रता आंदोलन का अपमान करार दिया। पार्टी ने बीजेपी से इस मामले में देश से माफी मांगने की मांग की। उल्लेखनीय है कि प्रज्ञा ठाकुर ने गुरुवार को कहा था कि महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे सबसे बड़े देशभक्त थे और जो लोग उन्हें आतंकवादी कहते हैं, वे अपनी गिरेबां में झांककर देखें। बाद में, ठाकुर ने माफी मांग कर अपना बयान वापस ले लिया।

\"CPI\"

इसके बाद अनंत कुमार ने भी ट्वीट कर कहा कि गोडसे के प्रति नजरिया बदलने की जरूरत है, माफी मांगने की नहीं। कुछ समय बाद उन्होंने भी अपना ट्वीट हटा दिया। भाकपा ने कहा कि बीजेपी नेताओं के बयान से पार्टी की विचारधारा का पता चलता है। भाकपा ने कहा कि यह ऐतिहासिक तथ्य है कि हिंदू महासभा और आरएसएस की देश के स्वतंत्रता संग्राम में कोई भूमिका नहीं रही, ना ही ये संगठन भारत के धर्मनिरपेक्ष लोकतांत्रिक संविधान से कभी सहमत रहे हैं।

भाकपा ने कहा कि बीजेपी को न सिर्फ देश से माफी मांगनी चाहिये बल्कि गांधी जी के बारे में इस तरह के बयान देने वाले नेताओं को बीजेपी से निष्कासित करना चाहिये। पार्टी ने मध्य प्रदेश सरकार से प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार करने की भी मांग की।