BREAKING NEWS

'भारत-अमेरिका के बीच सैन्य वार्ता सफल, BECA पर करेंगे साइन◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾तिरंगे पर महबूबा मुफ्ती के बयान से नाखुश पीडीपी के तीन नेताओं ने पार्टी से दिया इस्तीफा, NC ने भी किया किनारा◾स्ट्रीट वेण्डर आत्मनिर्भर निधि योजना के तहत प्रधानमंत्री कल UP के लाभार्थियों से करेंगे बात ◾साक्षी महाराज ने फिर दिया विवादित बयान, कहा- अनुपात के हिसाब से हो कब्रिस्तान और श्मशान◾राजनाथ सिंह ने अमेरिकी रक्षा मंत्री के साथ की वार्ता, रक्षा तथा सामरिक संबंधों पर हुई चर्चा ◾बिहार चुनाव : प्रचार के आखिरी दिन तेजस्वी पहुंचे हसनपुर, तेजप्रताप के लिए मांगे वोट ◾जेपी नड्डा ने चिराग पर साधा निशाना - कुछ लोग NDA में सेंध लगाना चाहते हैं, कर रहे है षड्यंत्र ◾भारत में कोविड-19 संबंधी मृत्युदर 1.50 प्रतिशत, 108 दिन बाद 500 से कम मौत हुई◾CM नीतीश ने महुआ में RJD पर बोला हमला - कुछ लोगों की भ्रमित करने और ठगने की आदत होती है◾दिल्ली की वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब', पराली जलाए जाने से दिल्लीवासियों पर कहर बरपाएगा प्रदूषण◾SC ने कोर्ट की निगरानी में CBI जांच की मांग वाली दिशा सालियान केस की याचिका को किया खारिज◾जेपी नड्डा का RJD पर तंज- नौकरी छीनने वाले आज कर रहे हैं नौकरी देने की बात ◾अनुराग कश्यप पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली अभिनेत्री पायल घोष अठावले की पार्टी में हुईं शामिल ◾IPL-13 : KXIP vs KKR, प्लेऑफ की दौड़ में पंजाब को बने रहने के लिए बनानी होगी जीत में निरंतरता ◾पंजाब में पीएम मोदी का पुतला जलाने पर भड़के नड्डा, कहा- राहुल गांधी निर्देशित है यह ड्रामा◾महबूबा के बयान के खिलाफ लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश, हिरासत में लिए गए BJP कार्यकर्ता◾कृषि बिल पर राहुल गांधी की नसीहत- गुस्साए किसानों की बात सुनें पीएम मोदी◾बिहार चुनाव में आलू और प्याज की एंट्री, 60 घोटालों के आरोप में तेजस्वी ने CM नीतीश को घेरा ◾Bihar Election : एक बार फिर नीतीश के खिलाफ हुए चिराग, बोले- CM हो या कोई अधिकारी, जेल भेजा जाएगा◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सोना तस्करी मामला : NIA की जांच महत्वपूर्ण चरण में, केरल HC ने हस्तक्षेप करने से किया मना

केरल हाईकोर्ट ने बुधवार को सोना तस्करी मामले में हस्तक्षेप करने से मना कर दिया। राष्ट्रीय जांच एजेंसी की जांच अब एक महत्वपूर्ण चरण में प्रवेश कर चुकी है, जिसकी वजह से हाईकोर्ट ने दखल देने से इनकार कर दिया। हाईकोर्ट की खंडपीठ ने यह कहते हुए हस्तक्षेप करने से मना कर दिया कि एनआईए को अपनी जांच आगे बढ़ाने की अनुमति दी जानी चाहिए।

कई लोगों की नजर इस बात पर है कि अगर मामले में राजनीतिक विवाद बढ़ता है तो इसका प्रभाव केरल में पिनरई विजयन सरकार और उनकी सार्वजनिक छवि को भारी नुकसान पहुंचा सकता है। एनआईए की जांच टीम ने मामले में सबूत इकट्ठा करने के लिए राज्य की राजधानी के विभिन्न हिस्सों का दौरा किया, जिसके बाद जांच का पहला चरण मंगलवार को पूरा हुआ। वहीं मामले में आरोपी पी.एस. सारिता, स्वप्ना सुरेश, और संदीप नायर, ये सभी एनआईए की हिरासत में हैं।

मामले में दूसरे चरण की जांच बुधवार से शुरू होने वाली है, जिसमें एनआईए टीम तीन प्रमुख अभियुक्तों के साथ संयुक्त पूछताछ करेगी। यह सत्र भविष्य में जांच की दिशा निर्धारित करने वाला है। अब तक एनआईए ने जाली दस्तावेजों और नकली मुहरों के रूप में सबूत एकत्र कर लिए हैं।

काकरापार परमाणु ऊर्जा संयंत्र-3 के क्रिटिकल होने पर PM मोदी ने दी वैज्ञानिकों को बधाई