BREAKING NEWS

बिहार के कांग्रेस नेताओं से बोले राहुल-आने वाला है बड़ा तूफान◾राम मंदिर के निर्माण पर PAK की टिप्पणी को भारत ने बताया निंदनीय, कहा-साम्प्रदायिकता भड़काने से बचे पड़ोसी देश◾TV एक्टर और मॉडल समीर शर्मा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी◾RBI ने मौद्रिक नीति का किया ऐलान, नीतिगत ब्याज दर में नहीं हुआ कोई बदलाव◾इमाम एसोसिएशन के अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा-मस्जिद बनाने के लिए ध्वस्त किया जा सकता है मंदिर◾राहुल गांधी ने PM से पूछा-चीनी घुसपैठ को लेकर झूठ बोलने की वजह बतायें मोदी ◾देश में कोरोना संक्रमण के 56,282 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों का आंकड़ा 19 लाख 64 हजार के पार ◾भारी बारिश के कारण जलमग्न हुई मुंबई, महाराष्ट्र में NDRF की 16 टीमों को किया गया तैनात◾अहमदाबाद के कोविड अस्पताल में आग लगी, 8 कोरोना मरीजों की मौत, CM रूपानी ने जांच के दिए आदेश◾भाजपा नेता मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उप राज्यपाल, शुक्रवार को लेंगे शपथ◾World Corona : विश्व में महामारी का कहर बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 87 लाख से अधिक◾आंध्र प्रदेश में कोरोना के 10 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, 77 की मौत◾लाखों दीपों से जगमगा उठी रामनगरी, पुष्पों से सजा शहर◾जम्मू कश्मीर पर बड़बोली टिप्पणी करने को लेकर भारत ने चीन को दी सख्त नसीहत◾महाराष्ट्र : मुंबई में तेज हवा के साथ भारी बारिश, कई इलाकों में रेड अलर्ट◾महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटे में 334 लोगों की मौत, 10309 नए मामले◾प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रिया चक्रवर्ती को भेजा सम्मन, सात अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया ◾एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच करेगी सीबीआई, केंद्र ने जारी की अधिसूचना ◾चीन का बड़बोलापन : जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाना अवैध और अमान्य, एकतरफा बदलाव अस्वीकार्य◾भूमि पूजन के बाद भावविभोर हुए योगी, बोले : 'रामराज्य' और 'नए भारत निर्माण' के युग का प्रारंभ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आदिवासीऔर अल्पसंख्यक युवाओं का विकास सरकार का लक्ष्य : रघुवर

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य आदिवासी, दलित, जनजाति और अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं का विकास करना है। श्री दास ने यहां भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) की दूसरे आदिवासी विकास सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जल, जंगल और जमीन के नाम पर आदिवासियों को बरसों गुमराह किया है। 

पिछले साढ़ चार साल में उनके विकास की मजबूत शुरुआत हुई। आदिवासी, दलित और अल्पसंख्यक समाज के युवाओं को राज्य सरकार विकसित समाज की श्रेणी में लाने के लिए कार्य कर रही है। ऐसे समुदाय के लोग भी भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में जाएं, चिकित्सक बनें, इंजीनियर बनें, जो चाहे बनें। जो आदिवासी युवा आईएस की तैयारी करना चाहते हैं, सरकार उन्हें एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्योग लगाने वाले युवाओं को 50 प्रतिशत रियायती दर पर जमीन सरकार देगी। शेष 50 प्रतिशत राशि भी पांच साल में 10 किस्तों में उन्हें चुकाना होगा, जिसपर कोई ब्याज सरकार नहीं लेगी। उन्होंने कहा कि इन समुदायों के कल्याण के लिये सरकार आदिवासी वित्त निगम, पिछड़ वित्त निगम, अल्पसंख्यक वित्त निगम और अनुसूचित वित्त निगम को पांच-पांच करोड़ रुपये देगी।

 उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य आदिवासी, दलित, जनजाति और अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं का विकास करना है।

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य आदिवासी, दलित, जनजाति और अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं का विकास करना है। 

श्री दास ने यहां भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) की दूसरे आदिवासी विकास सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जल, जंगल और जमीन के नाम पर आदिवासियों को बरसों गुमराह किया है। पिछले साढ़ चार साल में उनके विकास की मजबूत शुरुआत हुई। 

आदिवासी, दलित और अल्पसंख्यक समाज के युवाओं को राज्य सरकार विकसित समाज की श्रेणी में लाने के लिए कार्य कर रही है। ऐसे समुदाय के लोग भी भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में जाएं, चिकित्सक बनें, इंजीनियर बनें, जो चाहे बनें। जो आदिवासी युवा आईएस की तैयारी करना चाहते हैं, सरकार उन्हें एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्योग लगाने वाले युवाओं को 50 प्रतिशत रियायती दर पर जमीन सरकार देगी। शेष 50 प्रतिशत राशि भी पांच साल में 10 किस्तों में उन्हें चुकाना होगा, जिसपर कोई ब्याज सरकार नहीं लेगी। उन्होंने कहा कि इन समुदायों के कल्याण के लिये सरकार आदिवासी वित्त निगम, पिछड़ वित्त निगम, अल्पसंख्यक वित्त निगम और अनुसूचित वित्त निगम को पांच-पांच करोड़ रुपये देगी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य आदिवासी, दलित, जनजाति और अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं का विकास करना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भू संपदा, मानव संसाधन, 40 प्रतिशत खनिज, सरल सीधे लोग झारखंड के पास हैं। यहां संसाधन की कोई कमी नहीं, कोई कारण नहीं कि राज्य गरीब रहे। बस इन सब में समन्वय स्थापित कर कार्य करने की जरूरत है। आदिवासियों ने राज्य की संस्कृति को संभाला है। ऐसे समाज के प्रति सरकार की भी जिम्मेदारी है कि उन्हें आगे लाया जाए। इस कार्य में युवा शक्ति बड़ भूमिका निभा सकता है, जो हमारे पास कीमती संसाधन के रूप में मौजूद है। 

श्री दास ने कहा, ‘‘हमारे पास उद्देश्य है, सामर्थ्य है, संभावना है और संयोग भी। इन सब का उपयोग कर हम कैसे सर्वांगीण विकास की ओर अग्रसर हो सकते हैं। 

यह हम सभी को मिलकर सोचने की जरूरत है।‘‘ इस अवसर पर पदमश्री सह दलित इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष मिलिंद काम्बले, सचिव उद्योग के रवि कुमार, ट्राइबल इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष खेलाराम मुर्मू, सीआईआई के उपाध्यक्ष संजय सभरवाल, डिक्की ईस्टर्न जोन के अध्यक्ष राजेन्द, कुमार, सीआईआई झारखंड कौशल विकास की सह-संयोजक प्रीति सहगल, सीआईआई झारखंड स्टेट काउंसिल के अध्यक्ष नीरज कांत, सीआईआई झारखंड के प्रमुख इंद्रनील घोष, अनुसूचित जाति, दलित समाज के उद्यमी एवं अन्य उपस्थित थे।