BREAKING NEWS

राम मंदिर के निर्माण पर PAK की टिप्पणी को भारत ने बताया निंदनीय, कहा-साम्प्रदायिकता भड़काने से बचे पड़ोसी देश◾TV एक्टर और मॉडल समीर शर्मा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी◾RBI ने मौद्रिक नीति का किया ऐलान, नीतिगत ब्याज दर में नहीं हुआ कोई बदलाव◾इमाम एसोसिएशन के अध्यक्ष का विवादित बयान, कहा-मस्जिद बनाने के लिए ध्वस्त किया जा सकता है मंदिर◾राहुल गांधी ने PM से पूछा-चीनी घुसपैठ को लेकर झूठ बोलने की वजह बतायें मोदी ◾देश में कोरोना संक्रमण के 56,282 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों का आंकड़ा 19 लाख 64 हजार के पार ◾भारी बारिश के कारण जलमग्न हुई मुंबई, महाराष्ट्र में NDRF की 16 टीमों को किया गया तैनात◾अहमदाबाद के कोविड अस्पताल में आग लगी, 8 कोरोना मरीजों की मौत, CM रूपानी ने जांच के दिए आदेश◾भाजपा नेता मनोज सिन्हा होंगे जम्मू-कश्मीर के नए उप राज्यपाल, शुक्रवार को लेंगे शपथ◾World Corona : विश्व में महामारी का कहर बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 87 लाख से अधिक◾आंध्र प्रदेश में कोरोना के 10 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, 77 की मौत◾लाखों दीपों से जगमगा उठी रामनगरी, पुष्पों से सजा शहर◾जम्मू कश्मीर पर बड़बोली टिप्पणी करने को लेकर भारत ने चीन को दी सख्त नसीहत◾महाराष्ट्र : मुंबई में तेज हवा के साथ भारी बारिश, कई इलाकों में रेड अलर्ट◾महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटे में 334 लोगों की मौत, 10309 नए मामले◾प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रिया चक्रवर्ती को भेजा सम्मन, सात अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया ◾एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच करेगी सीबीआई, केंद्र ने जारी की अधिसूचना ◾चीन का बड़बोलापन : जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाना अवैध और अमान्य, एकतरफा बदलाव अस्वीकार्य◾भूमि पूजन के बाद भावविभोर हुए योगी, बोले : 'रामराज्य' और 'नए भारत निर्माण' के युग का प्रारंभ◾अयोध्या : भूमि पूजन के दौरान चरम पर पहुंचा रामभक्तों का उत्साह, भावुक हुए श्रद्धालु◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

विधानसभा के स्थगन को लेकर जारी गतिरोध के बीच बृहस्पतिवार को विधानसभा जाएंगे राज्यपाल

विधानसभा की कार्यवाही दो दिन के लिए स्थगित किए जाने को लेकर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के साथ जारी गतिरोध के बीच राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि वह बृहस्पतिवार को विधानसभा जाएंगे। राज्यपाल ने बुधवार को कहा कि उन्होंने विधानसभा के अध्यक्ष विमान बनर्जी को पत्र लिखा है और वह विधानसभा की सुविधाओं का जायजा लेने और यहां के पुस्तकालय का दौरा करने आएंगे।

इससे पहले दिन में उन्होंने तृणमूल कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि वह संविधान का पालन कर रहे हैं और ‘रबड़ स्टांप’ नहीं हैं। टीएमसी ने आरोप लगाया कि वह लंबित विधेयकों को मंजूरी नहीं दे रहे हैं जिससे सदन स्थगित हो रहा है। 

सत्तारूढ़ पार्टी और राज्यपाल के बीच गतिरोध उस समय और भी निचले स्तर पर पहुंच गया जब विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी ने मंगलवार को सदन को दो दिनों के लिए स्थगित कर दिया क्योंकि विधानसभा में जो विधेयक पेश होने थे, उन्हे अब तक राज्यपाल से मंजूरी नहीं मिली थी जो अनिवार्य था।

इस दावे को राज भवन ने खारिज कर दिया। धनखड़ ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘राज्यपाल के तौर पर मैं संविधान का पालन करता हूं और आंख बंदकर फैसले नहीं ले सकता। मैं ‘न तो रबड़ स्टांप हूं और न ही पोस्ट ऑफिस।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं संविधान के आलोक में विधेयकों की जांच करने और बिना विलंब के काम करने के लिए बाध्य हूं। इस मामले में सरकार की तरफ से विलंब हुआ है।’’

तृणमूल कांग्रेस ने धनखड़ की आलोचना की और कहा कि राज्यपाल ‘‘विपक्षी दल’’ की तरह काम कर रहे हैं। घोषणा की गई कि सदन पांच दिसम्बर तक स्थगित रहेगा और शीत सत्र छह दिसम्बर की सुबह 11 बजे फिर शुरू होगा। वहीं विधानसभा अध्यक्ष ने विधानसभा में कहा कि जो विधेयक पेश होने वाले थे, उन्हें अब तक राज्यपाल से मंजूरी नहीं मिली है।

उन्होंने कहा था, ‘‘हमने उन विधेयकों को प्रिंटिंग के लिए भेज दिया है लेकिन उन्हें विधानसभा में पेश नहीं कर सकते क्योंकि उन्हें अभी तक मंजूरी नहीं मिली है।’’

जुलाई में पदभार ग्रहण करने के बाद से ही राज्यपाल का ममता बनर्जी सरकार से कई मुद्दों पर टकराव चल रहा है। राज्यपाल ने जब उत्तर और दक्षिण 24 परगना जिलों का दौरा किया तो राज्य का कोई भी वरिष्ठ अधिकारी उनकी बैठक में शामिल नहीं हुआ।