BREAKING NEWS

Howdy Modi: 7 दिनों के अमेरिका दौरे पर रवाना हुए पीएम मोदी, ये रहेगा कार्यक्रम◾शरद पवार बोले- केवल पुलवामा जैसी घटना ही महाराष्ट्र में बदल सकती है लोगों का मूड◾नीतीश पर तेजस्वी का पलटवार, कहा- जब एबीसीडी नहीं आती, तो मुझे उपमुख्यमंत्री क्यों बनाया था?◾महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों के लिए आज होगी तारीखों की घोषणा, 12 बजे EC की प्रेस कॉन्फ्रेंस◾विदेश मंत्री जयशंकर ने फिनलैंड के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की◾सुरक्षा बल और वैज्ञानिक हर चुनौती से निपटने में सक्षम : राजनाथ ◾पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंड़ल से कोई बातचीत नहीं होगी : अकबरुद्दीन◾भारत, अमेरिका अधिक शांतिपूर्ण व स्थिर दुनिया के निर्माण में दे सकते हैं योगदान : PM मोदी◾कॉरपोरेट कर दर में कटौती : मोदी-भाजपा ने किया स्वागत, कांग्रेस ने समय पर सवाल उठाया ◾चांद को रात लेगी आगोश में, ‘विक्रम’ से संपर्क की संभावना लगभग खत्म ◾J&K : महबूबा मुफ्ती ने पांच अगस्त से हिरासत में लिए गए लोगों का ब्यौरा मांगा◾अनुभवहीनता और गलत नीतियों के कारण देश में आर्थिक मंदी - कमलनाथ◾वायुसेना प्रमुख ने अभिनंदन की शीघ्र रिहाई का श्रेय राष्ट्रीय नेतृत्व को दिया ◾न तो कोई भाषा थोपिए और न ही किसी भाषा का विरोध कीजिए : उपराष्ट्रपति का लोगों से अनुरोध◾अनुच्छेद 370 फैसला : केंद्र के कदम से श्रीनगर में आम आदमी दिल से खुश - केंद्रीय मंत्री◾TOP 20 NEWS 20 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾राहुल का प्रधानमंत्री पर तंज, कहा- ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम ‘आर्थिक बदहाली’ को नहीं छिपा सकता◾रेप के अलावा चिन्मयानंद ने कबूले सभी आरोप, कहा-किए पर हूं शर्मिंदा◾डराने की सियासत का जरिया है NRC, यूपी में कार्रवाई की गई तो सबसे पहले योगी को छोड़ना पड़ेगा प्रदेश : अखिलेश यादव◾नीतीश कुमार ने विधानसभा चुनाव में NDA की बड़ी जीत का किया दावा, कहा- गठबंधन में दरार पैदा करने वालों का होगा बुरा हाल◾

अन्य राज्य

बीड़ जिले में महिलाओं के गर्भाशय निकाले जाने की घटना की जांच हो : राकांपा

महाराष्ट्र के बीड़ जिले में गन्ने के खेतों में काम करने वाली महिलाओं के गर्भाशय कथित तौर पर निकाले जाने का मुद्दा राज्यसभा में उठाते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की एक सदस्य ने पूरे मामले की जांच कराने तथा यह पता लगाने की मांग की कि क्या राज्य में कहीं और भी या अन्य किसी राज्य में भी ऐसी घटनाएं हो रही हैं ? राकांपा की वन्दना चव्हाण ने शून्यकाल में यह मुद्दा उठाया।

वन्दना ने कहा ‘‘बीड़ जिले में गन्ने के खेतों में काम करने वाली, रजस्वला आयु वर्ग की कई महिलाओं के गर्भाशय निकाले जाने की खबर है। बताया जाता है कि ऐसा इसलिए किया गया ताकि मासिक धर्म की वजह से काम में ढिलाई न आए और जुर्माना न भरना पड़े।’’ वन्दना ने कहा ‘‘वहां पर काम के लिए ठेकेदार कामगारों की भर्ती करते हैं। ये ठेकेदार रजस्वला आयु वर्ग की महिलाओं की भर्ती नहीं करते क्योंकि वहां पर अगर पति या पत्नी में से एक भी काम पर न पहुंच पाए तो उसके साथ साथ दूसरे को भी जुर्माना भरना पड़ता है।’’ 

उन्होंने कहा ‘‘ बताया जाता है कि गर्भाशय निकालने के लिए ऑपरेशन कराने की खातिर ठेकेदार 20 हजार रुपये से 30 हजार रुपये तक की रकम देता है। वहां 20 साल से 30 साल की उम्र की महिलाओं के गर्भाशय भी निकाले जाने की खबर है।’’ राकांपा सदस्य ने कहा ‘‘इस मामले की जांच करने के लिए राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव की अध्यक्षता में एक समिति गठित की गई है। केंद्र सरकार को इस गंभीर मामले की जांच कराना चाहिए। साथ ही यह भी पता लगाना चाहिए कि क्या राज्य में कहीं और भी या अन्य किसी राज्य में भी ऐसी घटनाएं हो रही हैं ?’’ विभिन्न दलों के सदस्यों ने उनके इस मुद्दे से स्वयं को संबद्ध किया।