BREAKING NEWS

उत्तर प्रदेश : छोटी सी बात को लेकर हुआ पति-पत्नी में विवाद, लेनी पड़ी एक अपनी जान ◾SC ने महिलाओ के पक्ष में सुनाया बड़ा फैसला, कहा- विवाहित महिला की जबरन प्रेगनेंसी को माना जा सकता है रेप ◾गुजरात को मिलेगी विकास की सौगात, पीएम मोदी ने सूरत में कहा - गुजरात का गौरव बढ़ाने का मिला सौभाग्य◾PFI BAN : लगातार करवाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे सकता है पीएफआई, ट्विटर अकाउंट पर भी बैन ◾सोनिया से बगावत के बाद आज पहली बार मिलेंगे गहलोत, पायलट ने भी दिल्ली में डाला डेरा◾गरबा में छिपाकर कर आए मुस्लिम युवको को बजरंग दल ने जमकर पीटा, इंदौर से अहमदाबाद तक मचा बवाल ◾तीन साल और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने रहेंगे नड्डा, नहीं करना चाहती BJP पार्टी में बदलाव !◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटो में संक्रमण के 4,272 नए मामले दर्ज़, 27 लोगों की मौत ◾पायलट गुट के विधायकों ने तोड़ी चुप्पी, अशोक गहलोत पर कह दी बड़ी बात ◾अशोक गहलोत ने बीजेपी पर साधा निशाना, सोनिया गांधी पर भी दिया बड़ा बयान ◾अशोक गहलोत ने कांग्रेस हाईकमान के सामने मानी हार, जानिए दिल्ली एयरपोर्ट पर क्या कहा ◾जम्मू-कश्मीर : उधमपुर में 8 घंटे के भीतर दो बड़े धमाके, बसों में हुए दोनों ब्लास्ट◾प्रियंका गांधी को बनाया जाए कांग्रेस अध्यक्ष, पार्टी के सांसद ने पेश की ये बड़ी दलील◾अशोक गहलोत का कटेगा पत्ता? कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर संशय◾आज का राशिफल (29 सितंबर 2022)◾दिग्विजय बनाम थरूर की ओर बढ़ रहा कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव◾दिल्ली पहुंचे गहलोत ने सोनिया के नेतृत्व को सराहा व संकट सुलझने की जताई उम्मीद ◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की सुनील छेत्री की सराहना◾टाट्रा ट्रक भ्रष्टाचार मामले में पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी से की गई जिरह◾PFI से पहले RSS पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए था - लालू◾

कोरोना को मात देने के लिए उत्तराखंड में सभी परिवारों को बांटी जाएगी आईवरमैक्टिन दवा की किट

कोविड-19 की दूसरी लहर के प्रकोप के मद्देनजर उत्तराखंड सरकार आम जनता में संक्रमण के प्रभाव को कम करने के लिए राज्य के सभी परिवारों को आईवरमैक्टिन औषधि उपलब्ध कराएगी। यह निर्णय राज्य स्तरीय क्लिनिकल टैक्निकल कमेटी की संस्तुति के आधार पर लिया गया है, जिसमें टैबलेट आईवरमैक्टिन को ''मास कीमो प्रोफिलैक्सिस'' के तौर पर इस्तेमाल की अनुमति दी गई है। इसका अर्थ है कि इस दवा को सामूहिक रूप से विषाणु की रोकथाम के लिए जनता के बीच बांटा जा सकता है।

इस संबंध में मुख्य सचिव ओम प्रकाश द्वारा जिलाधिकारियों को जारी आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए टीकाकरण के अलावा आमजन में संक्रमण के प्रभाव को नियंत्रित करने एवं संक्रमण को गंभीर रूप लेने से रोकने हेतु प्रारंभिक रोकथाम के लिए यह आवश्यक हो गया है कि इस संक्रमण पर प्रभावी रूप से काम करने वाली औषधि आईवरमैक्टिन को 'मास कीमो प्रोफिलैक्सिस' के तौर पर दिया जाए।

राज्य के सभी परिवारों को आईवरमैक्टिन की 12 एमजी की टैबलेट की एक किट तैयार कर उपलब्ध कराई जाएगी जिसके वितरण की व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग और जिलाधिकारी के माध्यम से होगी। अधिकारियों ने बताया कि 24 टैबलेट का एक किट तैयार कर हर परिवार को दिया जाएगा। आदेश में कहा गया है कि औषधि के प्रयोग संबंधी दिशानिर्देशों का विवरण किट में रखा जाए तथा नोडल अधिकारियों द्वारा प्रतिदिन दवाओं के वितरण की सूचना राज्य स्तरीय नोडल अधिकारियों को भेजी जाए।