BREAKING NEWS

गजेंद्र शेखावत का CM गहलोत पर तीखा हमला, कहा- जनता गिन रही सरकार की विदाई के दिन◾अगले 18 घंटे में मुंबई, ठाणे और कोंकण में बहुत तेज बारिश होने की संभावना, रेड अलर्ट जारी◾देश में बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 20572 रोगी कोरोना संक्रमण से मुक्त हुए, रिकवरी दर 63 % से ज्यादा : स्वास्थ्य मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना संक्रमण के 1674 नए मामले, अब तक 3487 लोगों की मौत◾कोविड - 19 : महाराष्ट्र में संक्रमण के 7,975 नए मामले और 11 हजार के करीब पहुंचा मौत का आंकड़ा ◾डीएसी बैठक में सशस्त्र बलों को हथियार खरीदने के लिए 300 करोड़ रुपये का इमरजेंसी फंड मंजूर◾कोरोना इफ़ेक्ट : एअर इंडिया कर्मचारियों को पांच साल तक के लिए बिना वेतन छुट्टी पर भेज सकता है ◾बिना नाम लिए राहुल का पायलट को सन्देश - जिसे पार्टी से जाना है वो जाएगा ही , घबराना क्यों ◾भारत- ईयू की भागीदारी आर्थिक पुनर्निमाण और मानव- केन्द्रित वैश्वीकरण की दिशा में महत्वपूर्ण : पीएम मोदी◾बातचीत के बाद बोला चीन - दोनों सेनाओं ने सैनिकों की वापसी को बढ़ावा देने की दिशा में प्रगति की◾LAC पर भारत का कड़ा रुख - सीमा प्रबंधन के लिये सहमति वाले सभी प्रोटोकॉल का पालन करे चीन◾CM गहलोत का दावा- सरकार गिराने के लिए हुई खरीद-फरोख्त, हमारे पास है प्रूफ◾रक्षा मंत्री दो दिन के दौरे पर जाएंगे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख, सेना प्रमुख भी होंगे साथ ◾CBSE Results 2020 : लाखों स्टूडेंट का इंतजार हुआ खत्म, 10वीं क्लास के एग्जाम का रिजल्ट जारी ◾World Youth Skills Day : PM मोदी बोले-कौशल के प्रति आकर्षण देता है जीने की ताकत◾भारत की वैश्विक रणनीति हो रही फेल, केंद्र सरकार की नीतियों के कारण घट रहा देश का सम्मान : राहुल◾देहरादून के चुक्खूवाला क्षेत्र में तेज बारिश से ढहा मकान, 3 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 9 लाख 36 हजार के पार, 3 लाख 20 हजार एक्टिव केस◾भाजपा में नहीं जाऊंगा, उनके खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी है : सचिन पायलट ◾भारत-EU शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे PM मोदी, कोरोना संकट पर रहेगा फोकस◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जगदीप धनखड़ ने कहा- स्वास्थ्य से जुड़े मसलों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गुरुवार को कहा कि केंद्र की प्रमुख स्वास्थ्य योजना-आयुष्मान भारत से राज्य के लोगों को वंचित रखा गया है और ‘‘ऐसे मामलों का राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए।’’ राज्यपाल ने यह दावा भी किया कि उन्हें इलाज में तत्काल सहायता के लिए राज्य भर से करीब 3000 आवेदन मिले हैं। 

धनखड़ ने एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘मुझे राज्यपाल बने हुए 100 दिन भी नहीं हुए हैं और इस दौरान मुझे पूरे राज्य से चिकित्सा सहायता के लिए करीब 3000 आवेदन मिले हैं। मैंने इन आवेदनों को देखा और पाया कि ये सभी केंद्र की आयुष्मान भारत योजना के लिए पात्र हैं।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘राज्यपाल का दिल बहुत बड़ा है लेकिन पास में दो करोड़ रुपये का छोटा सा फंड है... जबकि एक सांसद को पांच करोड़ रुपये मिलते हैं। ज्यादातर राज्यों में विधायकों के पास (फंड के रूप में) दो से चार करोड़ रुपये होते हैं। यहां (पश्चिम बंगाल में) मुझे बताया गया है कि विधायकों का फंड 60 करोड़ रुपये का है। मुझे आवंटित किए गए दो करोड़ रुपये से मुझे 18 मदों का समाधान करना पड़ता है।’’ 

धनखड़ ने कहा कि आवेदकों की बढ़ती संख्या से राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति का पता चलता है। उन्होंने कहा, ‘‘अगर मुझे तीन महीने में स्वास्थ्य संबंधी सहायता के लिए 3000 आवेदन मिले हैं, तो निश्चित रूप से ये राज्य के हालात को दर्शाता है।’’ 

उन्होंने आगे कहा, ‘‘मुझे ये अजीब लगता है कि एक केंद्रीय योजना, जो इतनी बड़ी सुविधा उपलब्ध कराती है, जिसे दुनिया भर में मान्यता प्राप्त है, उसे लोगों के लाभ के लिए यहां क्यों नहीं अपनाया जा रहा है।’’ आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत 2018 में हुई थी और इसका उद्देश्य पांच लाख रुपये का वार्षिक स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराना है।