BREAKING NEWS

UP चुनाव: जिस दल को मिला पूर्वांचल का साथ... उसके सिर सजा जीत का ताज, जानें अब तक कैसा रहा इतिहास ◾SP-RLD को समर्थन के बाद नरेश टिकैत ने लिया यूटर्न, अब बालियान से की मुलाकात, अटकलों का बाजार गर्म ◾योगी को गोरखपुर से टिकट देना दर्शाता है कि BJP कमजोर हुई : नवाब मलिक◾अखिलेश से लोगों को उम्मीदें, जिंदा लोग BJP को नहीं देंगे वोट : संजय राउत ◾भाजपा ने किया दावा- यूपी में 10 फरवरी से ही शुरू हो जाएगा जीत का सफर, अंतिम चरण तक रहेगा कायम◾UP चुनाव : पीएम मोदी कल अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भाजपा के कार्यकर्ताओं से वर्चुअली करेंगे बातचीत ◾गोवा में कांग्रेस और BJP के बीच मुकाबला, AAP-TMC कर रही गैर-भाजपा मतों को 'विभाजित' करने का काम ◾रावत के निष्कासन पर बोले CM धामी-वंशवाद से दूर और विकास के साथ चलने वाली पार्टी है BJP◾कांग्रेस में शामिल हुए बिना भी कांग्रेस के लिए करूंगा काम : हरक सिंह रावत◾Corona Cases in India : पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 2 लाख 58 हजार से अधिक केस दर्ज◾पंजाब में चुनाव टालने की मांग पर आज विचार करेगा निर्वाचन आयोग◾UP विधानसभा चुनाव : निषाद पार्टी ने UP की 15 सीटों पर ठोंका दावा, BJP ने अभी नहीं की पुष्टि ◾PM मोदी आज करेंगे दावोस शिखर सम्मेलन को संबोधित, कोविड समेत कई वैश्विक मुद्दों पर कर सकते हैं बात◾राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में शीतलहर का कहर जारी, जानें कब तक रहेगा ऐसा मौसम◾Covid-19 : विश्वभर में संक्रमण के आंकड़े 32.57 करोड़ से अधिक, अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश◾किसी व्यक्ति की सहमति के बिना जबरन टीकाकरण नहीं कराया जा सकता : SC को केंद्र ने बताया ◾दिग्गज कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हुआ इंतकाल, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांस◾SP-RLD को नहीं दिया समर्थन, लोगों को समझने में हुई गलती: राकेश टिकैत◾हरक सिंह रावत को उत्तराखंड मंत्रिमंडल और पार्टी से किया बर्खास्त, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने पुरी शंकराचार्य से की मुलाकात ◾

कल कर्नाटक में एरोनॉटिकल टेस्ट रेंज का उद्घाटन करेंगे जेटली

बेंगलूर: रक्षा मंत्री अरूण जेटली स्थानीय स्तर पर विकसित किए जा रहे मानवरहित एवं मानवयुक्त विमान के परीक्षण के लिए कर्नाटक के चित्रदुर्ग में 1,300 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित एरोनॉटिकल टेस्ट रेंज (एटीआर) का कल उद्घाटन करेंगे। बेंगलूर से करीब 250 किलोमीटर दूर चित्रदुर्ग के चल्लाकेरे में इस परियोजना की योजना एरोनॉटिकल डेवलपमेंट एस्टैबलिशमेंट (एडीई) और रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की अन्य प्रयोगशालाओं द्वारा बनाई गई थी।

अधिकारियों ने बताया कि कर्नाटक सरकार ने एटीआर परियोजना के लिए 4,290 एकड़ आवंटित किए थे, जिसका मकसद मानवरहित एवं मानवयुक्त विमान के परीक्षण्एा के लिए जरूरी आधारभूत संरचना निर्मित करना था। डीआरडीओ ने पिछले साल नवंबर में तापस 201 (रूस्तम-2) की पहली उड़ान चल्लाकेरे के एटीआर में ही सफलतापूर्वक संपन्न की थी। तापस 201 मध्यम ऊंचाई पर लंबे समय तक उड़ान भरने वाला यूएवी है। अधिकारियों ने बताया कि एटीआर में रनवे की मौजूदा लंबाई 2.2 किलोमीटर है। इसे आने वाले समय में 3.2 किलोमीटर तक बढ़ाया जाएगा।

-भाषा