कर्नाटक में कांग्रेस और उसकी सत्तारूढ सहयोगी JDS के बीच सीटों के बंटवारे पर माथापच्ची के बीच, पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा ने मंगलवार को कहा कि उनकी पार्टी को आगामी लोकसभा चुनावों में कर्नाटक की 28 में से 12 सीटें मिलनी चाहिए।

JDS प्रमुख ने कहा कि सीटों के बंटवारे के खाके पर सबसे पहले वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सिद्धरमैया की अध्यक्षता वाली गठबंधन समन्वय समिति द्वारा राज्य स्तर पर चर्चा होगी और फिर इसे दोनों दलों के प्रमुखों द्वारा संसद के शीतकालीन सत्र के बाद अंतिम रूप दिया जाएगा।

बीजेपी कर्नाटक में गठबंधन सरकार को गिराने की नए सिरे से कोशिश कर रही : जी परमेश्वर

देवगौड़ा ने कहा, “सीटों का बंटवारा 2:1 के फार्मूले पर होगा। गठबंधन सरकार बनने के बाद, विभागों, बोर्डों तथा निगमों (के प्रमुखों) के आवंटन में इसी फार्मूले को अपनाया गया। स्वाभाविक तौर पर, यही फार्मूला लोकसभा सीटों के संबंध में लागू होगा।”

उन्होंने कहा कि फार्मूले के अनुसार, JDS को 11 सीटें मिलनी चाहिए और पार्टी एक अतिरिक्त सीट मांग रही है। उन्होंने कहा कि अगर कोई मतभेद है तो उसे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ चर्चा के बाद दूर कर लिया जाएगा।