BREAKING NEWS

कुन्नूर हेलीकॉप्टर हादसे पर संसद में राजनाथ सिंह देंगे बयान, 11 लोगों के शव बरामद,रेस्क्यू ऑपरेशन जारी ◾सदन नहीं चलने देना चाहती केंद्र, खड़गे का दावा- महंगाई समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा से बच रही सरकार ◾राज्यसभा के निलंबित सदस्यों को लेकर विपक्षी नेताओं का समर्थन जारी, संसद परिसर में दिया धरना ◾UP विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने जारी किया 'महिला घोषणापत्र', नौकरियों में 40% आरक्षण समेत कई बड़े वादे◾CDS जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी को ले जा रहा सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश, कुन्नूर में हुआ हादसा ◾मोदी के बयान पर अखिलेश का करारा जवाब- लाल रंग भावनाओं का प्रतिक, हार का डर ला रहा भाषा में बदलाव ◾महंगाई, बेरोज़गारी और कृषि संकट की वजह सरकार की विफलता है, राहुल गांधी ने केंद्र पर लगाया आरोप ◾'पाकिस्तानी-खालिस्तानी' बुलाये जाने पर फारूक अब्दुल्ला ने जताया खेद, बोले- गांधी का भारत लाए वापस◾लालू के घर बजेंगी शहनाई, तेजस्वी यादव की शादी हुई पक्की, दिल्ली में आज या कल होगी सगाई ◾सोनिया ने केंद्र को बताया 'असंवेदनशील', किसानों के साथ रवैये और महंगाई जैसे मुद्दों पर किया सरकार का घेराव ◾World Corona Update : अब तक 26.7 करोड़ से ज्यादा लोग हुए संक्रमित, मृतकों की संख्या 52.7 लाख से अधिक◾RBI ने रेट रेपो 4 प्रतिशत पर रखा बरकरार, लगातार 9वीं बार नहीं हुआ कोई बदलाव◾ओमीक्रॉन पर आंशिक रूप से असरदार है फाइजर वैक्सीन, स्टडी में दावा- बूस्टर डोज कम कर सकती है संक्रमण ◾UP चुनाव : आज योगी और राजभर जनसभा को करेंगे संबोधित, प्रियंका पहला महिला घोषणा पत्र जारी करेंगी ◾बिहार में PM मोदी, अमित शाह और प्रियंका चोपड़ा को लगी वैक्सीन! तेजस्वी यादव ने शेयर की लिस्ट◾मनी लॉन्ड्रिंग केस: ED के सामने आज पेश होंगी जैकलीन फर्नांडीज, गवाह के तौर पर दर्ज कराएंगी बयान ◾Today's Corona Update : भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 8,439 केस सामने आए, 195 लोगों की मौत◾जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच एनकाउंटर शुरू, इलाके की गयी घेराबंदी ◾किसानों की होगी घर वापसी या जारी रहेगा आंदोलन? एसकेएम की बैठक में आज होगा फैसला ◾ओमिक्रॉन के खतरे के बीच ओडिशा के सरकारी स्कूल में 9 छात्र कोरोना से संक्रमित, किया गया क्वारंटीन ◾

झारखंड:गुमला में 2 नाबालिग बहनों के साथ हुआ गैंगरेप, BJP ने सरकार पर साधा निशाना

झारखंड के गुमला जिले  में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना घटी है। दो नाबालिग बहनों के साथ सामूहिक दुष्कर्म  हुआ है। मामला बिशुनपुर के गुरदरी थाना क्षेत्र का है। शुक्रवार की शाम दो बहने अपने चचेरे भाई के साथ दशहरा मेला देखकर लौट रही थी। इसी दौरान प्रेम नाम के एक युवक ने रास्ता रोका और छेड़खानी करने की कोशिश की. इसका विरोध करने पर उसने अन्य युवकों के साथ मिलकर चचेरे भाई को पीटकर भगा दिया और फिर सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया, हालांकि सूचना के अनुसार एक आरोपी ने गिरफ्तारी के डर से आत्महत्या कर ली है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि आंकड़े उठाकर देख लीजिए, इस सरकार में आदिवासियों, दलितों पर सबसे ज्यादा अत्याचार हुआ है। उनकी जमीनें लूटी जा रही हैं और सबसे खतरनाक बात यह कि इसमें सत्ताधारी पार्टी के कर्ताधर्ता ही शामिल हैं। कानून और व्यवस्था नाम की कोई चीज इस राज्य में नहीं रह गयी है।

इधर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने आज गुमला के बिशुनपुर जाकर पीड़ित बहनों के परिवार से मुलाकात के बाद कहा कि आदिवासियों की रहनुमाई का दावा करने वाली इस सरकार की आंखों से शर्म का पानी उतर गया है। राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि इस सरकार के 19 महीने के अब तक कार्यकाल में लगभग 3100 महिलाएं, बेटियां, बहनें बलात्कार का शिकार हुई हैं। झामुमो ,कांग्रेस, राजद की सरकार मूकदर्शक बनकर यह कुकर्म देख रही है। मुख्यमंत्री में थोड़ी भी नैतिकता है तो वे पीड़ित परिवार से मिलने स्वयं गुमला जायें और उन्हें न्याय दिलाने की पहल करें।

बता दें कि बीते शुक्रवार को गुमला जिले के बिशुनपुर में दुर्गा पूजा मेला से लौट रही दो नाबालिग बहनों के साथ दस युवकों ने सामूहिक बलात्कार किया था। इन लड़कियों के साथ उनके दो चचेरे भाई भी थे, लेकिन अपराधियों ने उन्हें मारपीट कर भगा दिया था और लड़कियों के साथ दुष्कर्म किया था। इस संबंध में बिशुनपुर थाने में मामला दर्ज होने के बाद इस मामले के एक आरोपी ने रविवार रात फांसी लगाकर जान दे दी, जबकि दो अन्य आरोपियों को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार किया है। दूसरी घटना गढ़वा के कांडी प्रखंड की है, जहां बाजार गयी 14 साल की एक लड़की का गाड़ी पर सवार कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया और बिहार के औरंगाबाद ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

कश्मीर के कई इलाकों में इंटरनेट सेवा रोकी गई, एहतियात के तौर पर उठाया गया कदम