BREAKING NEWS

अफगानिस्तान के संकट का असर ना केवल पड़ोस पर बल्कि उससे भी बाहर तक होगा : जयशंकर◾दृष्टिकोण 2047 : दिल्ली को नंबर-1 बनाने के लिए केजरीवाल ने सभी से सलाह मांगी◾अफगानिस्तान में तालिबान की हिंसा पर भारत का कड़ा संदेश, कहा- हिंसा, डराने व धमकाने से वैधता प्राप्त नहीं की जा सकती◾एमपी: भारी बारिश से मचा हाहाकार, बाढ़ में फंसे 16 सौ लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया ◾कर्नाटक: सीएम पद छोड़ते ही मुश्किलों में घिरे येदियुरप्पा, भ्रष्टाचार के मामले में नोटिस जारी◾दिल्ली में बच्ची की संदिग्ध मौत के मामले ने पकड़ा सियासी तूल, कांग्रेस ने केजरीवाल और शाह पर साधा निशाना ◾समझौते के बाद पाकिस्तान की हरकतों पर लगी लगाम, एलओसी पर गोलाबारी में आयी भारी कमी◾तोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर लौटी पीवी सिंधू का हवाई अड्डे पर गर्मजोशी से हुआ स्वागत ◾लालू ने शरद यादव से मुलाकात की, कहा- हमारे लिए चिराग ही है एलजेपी प्रमुख◾सिर्फ शादी के लिए धर्मांतरण गलत, इलाहाबाद HC ने ‘जोधा-अकबर’ का उदाहरण देते हुए रद्द की जमानत याचिका◾PM मोदी ने पूरी ओलंपिक टीम को बतौर 'स्पेशल गेस्ट' स्वतंत्रता दिवस समारोह पर किया आमंत्रित ◾कोरोना से जंग के बीच टीकाकरण अभियान जारी, राज्यों के पास 2.75 करोड़ खुराक उपलब्ध : केंद्र◾शिवराज का ऐलान- MP में जहरीली शराब बेचने वालों को होगा आजीवन कारावास या मौत की सजा◾दिल्ली सरकार ने विधायकों के वेतन में बढ़ोतरी को दी मंजूरी, अब 54 की जगह 90 हजार होगी सैलरी◾दिवंगत बाला साहेब ठाकरे से काफी प्रभावित है राहुल, वे जल्द महाराष्ट्र दौरे पर आएंगे: संजय राउत◾गरीबों का सशक्तीकरण है सर्वोच्च प्राथमिकता, लाखों परिवारों को फ्री राशन दे रही सरकार : PM मोदी◾CBSE 10th रिजल्ट : त्रिवेंद्रम क्षेत्र ने 99.99 फीसदी के साथ मारी बाजी, TOP-10 में सबसे नीचे दिल्ली◾संसद में पेगासस और कई मुद्दों को लेकर विपक्ष का हंगमा, राज्यसभा की बैठक स्थगित◾पेगासस पर नीतीश के बाद अब मांझी के भी विरोधी सुर- देश को पता चले कि कौन करवा रहा है जासूसी ◾जम्मू-कश्मीर : कठुआ में रणजीत सागर बांध के पास क्रैश हुआ भारतीय सेना का हेलीकॉप्टर◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कमल नाथ का तीखा तंज - भाजपा ने सिंधिया को 'दूल्हा' तो बना दिया, 'दामाद' नहीं बनने देगी

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा में जाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि ज्येातिरादित्य सिंधिया को भाजपा ने दूल्हा तो बना दिया मगर दामाद नहीं बनने देगी। 

राज्य में हो रहे विधानसभा के उप-चुनाव में बड़ा मलेहरा और अशोकनगर में कांग्रेस उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार करने पहुंचे कमल नाथ ने बुधवार को सिंधिया के 'टाइगर अभी जिंदा है' के बयान पर तंज कसते हुए कहा 'टाइगर जिंदा है नहीं, अब तो टाइगर शमिंर्दा है'। उन्होंने आगे कहा कि, भाजपा ने सिंधिया को दूल्हा तो बना लिया लेकिन दामाद कभी नहीं बनने देगी। 

शिवराज सिंह चौहान पर हमला करते हुए कमल नाथ ने कहा, आज शिवराज सिंह चौहान अपने 15 साल का और वर्तमान सात माह का हिसाब नहीं दे रहे हैं। रोज झूठ बोल रहे हैं, मुझे लगा था सत्ता से जाने के बाद वे सुधर जाएंगे लेकिन अब तो झूठ बोलने के साथ-साथ उन्होंने एक्टिंग भी शुरू कर दी है। कभी घुटनों के बल बैठ जाएंगे, कभी कहेंगे कि मैं तो झोला लेकर जा रहा हूं। इनकी कलाकारी का कोई मुकाबला नहीं कर सकता है। 

कमल नाथ ने आगे कहा कि शिवराज सिंह चौहान कलाकारी में शाहरुख और सलमान खान को भी पीछे छोड़ देंगे। इन्हें तो झोला टांगकर मुंबई चले जाना चाहिए, कम से कम कलाकारी में तो मध्य प्रदेश का नाम रोशन करेंगे। भाजपा पर सौदेबाजी की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कमल नाथ ने कहा भाजपा ने प्रदेश को देश भर में बिकाऊ राजनीति से कलंकित किया। इनका बस चले तो ये पंचायत का चुनाव भी नहीं कराएं, नगर निगम का चुनाव भी नहीं कराएं, ये तो बोली से ही पार्षद और सरपंच चुन लें। 

मध्य प्रदेश उपचुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार बीजेपी में शामिल

भाजपा के शासन काल का जिक्र करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि, 15 वर्ष की सरकार के बाद इन्होंने हमें कैसा प्रदेश सौंपा, जो किसानों की आत्महत्याओं में, महिलाओं पर अत्याचार में, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार में नंबर वन था। कौन सी चुनौतियां हमारे सामने नहीं थी? शिवराज सिंह चौहान से पूछना चाहता हूं कि बताये बुंदेलखंड पैकेज का क्या हुआ? वे जान लें हमारी सरकार आ रही है, हम व्यापम, ई टेंडर की तरह बुंदेलखंड पैकेज की पाई-पाई का भी हिसाब लेंगे। 

अपनी सरकार के सवा साल का हिसाब देते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, शिवराज सरकार में प्रदेश में निवेश नहीं आता था क्योंकि विश्वास का माहौल नहीं था। प्रदेश की पहचान माफिया, मिलावटखोरों और भ्रष्टाचार से थी। मैंने किसानों का कर्ज माफ कर, माफियाओं और मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान चलाकर, 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली देकर, गौशाला बनाकर, कन्या विवाह की राशि बढ़ा कर, किसानों को आधी दर में बिजली देकर, पिछड़े वर्ग को 27 प्रतिषत आरक्षण देकर, क्या कोई पाप-गलती-गुनाह किया? '

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, "हां मेने एक गलती जरूर की कि मैंने सौदेबाजी नहीं की, मैं तो मुख्यमंत्री था सौदेबाजी कर सकता था, लेकिन प्रदेश का नाम कलंकित नहीं करना चाहता था, प्रदेश की पहचान बिकाऊ राजनीति के रूप में नहीं बनाना चाहता था। "