प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गुजरात में बेमौसम बारिश और तूफान से हताहत लोगों तक हरसंभव मदद पहुंचाने के प्रयासों संबंधित ट्वीट किए जाने के बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश में भी इससे लोग प्रभावित हैं और प्रधानमंत्री की संवेदनाएं सिर्फ गुजरात के लोगों तक ही क्यों सीमित हैं।

पीएम मोदी ने आज सुबह अपने ट्वीट में कहा था कि वे गुजरात में बेमौसम बारिश और तूफान में लोगों की जान जाने की खबर से व्यथित हैं। उन्होंने कहा कि मौसम की मार से प्रभावित लोगों को हरसंभव मदद पहुंचाई जा रही है। एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा, ‘‘मोदी ने गुजरात के विभिन्न हिस्सों में बेमौसम बारिश और तूफान के कारण जान गंवाने वालों के परिजन के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की मंजूरी दी है।

 

देशभर में तेज आंधी और बिजली गिरने से 40 की मौत, फसलों को हुआ भारी नुकसान

इसके कुछ देर बाद कमलनाथ ने अपने ट्वीट में पीएम मोदी को संबोधित करते हुए कहा कि आप देश के प्रधानमंत्री हैं ना कि गुजरात के।  एमपी में भी बेमौसम बारिश व तूफान के कारण आकाशीय बिजली गिरने से 10 से अधिक लोगों की मौत हुई है, लेकिन आपकी संवेदनाएं सिर्फ़ गुजरात तक सीमित क्यों हैं।

उन्होंने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि भले यहाँ आपकी पार्टी की सरकार नहीं है, लेकिन लोग यहाँ भी बसते हैं। मध्यप्रदेश में बारिशजनित हादसों और बिजली गिरने जैसी घटनाओं के चलते विभिन्न स्थानों पर कम से कम 10 लोगों की मौत की खबरें हैं।