BREAKING NEWS

आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान दिवालिया होने के कगार पर◾Delhi University: डीयू ने BBC वृत्तचित्र की स्क्रीनिंग को लेकर हुए हंगामे की जांच के लिए बनाई समिति ◾झारखंड के अस्पताल में लगी भयानक आग डॉक्टर समेत 6 लोग जिंदा जल कर हुए राख◾जयराम रमेश बोले- कांग्रेस को 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए किसी भी विपक्षी गठबंधन का आधार बनना होगा◾Tripura Assembly Election: चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस ने जारी की स्टार प्रचारकों की सूची◾ AAP सांसद राघव चड्ढा इंडिया-यूके आउटस्टैंडिंग अचीवर्स अवॉर्ड से हुए सम्मानित◾यूपी: हत्या के प्रयास के मामले में सपा विधायक नाहिद हसन बरी◾Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी ने पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए CRPF के जवानों को दी श्रद्धांजलि◾BBC की डॉक्यूमेंट्री पर बवाल जारी, अब मुंबई के TISS में भी विवाद◾Bihar News: पूर्व CM जीतन राम मांझी ने तेजस्वी यादव से की शराबबंदी कानून वापस लेने की मांग◾चीन पर फिर भड़का अमेरिका, कहा- LAC पर कोई हरकत करे तो मुंहतोड़ जवाब दो◾CM बसवराज बोम्मई ने कहा- अमित शाह कर्नाटक यात्रा विधानसभा चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे ◾Rajasthan: PM नरेंद्र मोदी राजस्थान दौरे पर भीलवाड़ा में गुर्जर समाज को प्रभावित करने की करेंगे कोशिश ◾बागेश्वर बाबा से मिलने के बाद बोले आचार्य बालकृष्ण, कहा- ‘धीर हो धीरेंद्र हो और कृष्ण भी तुम हो' ◾मध्य प्रदेश के मुरैना में बड़ा हादसा, आपस में टकराकर क्रैश हुए लड़ाकू विमान सुखोई और मिराज ◾CM YOGI :इस्लाम, सिख, जैन धर्म को छोड़ सनातन को CM योगी ने कहा भारत का राष्ट्रीय धर्म, कांग्रेस ने उठाए सवाल ◾ भाई से मिलने जेल में गई 4 साल की मासूम के साथ हुआ भद्दा मजाक, गाल पर लगाई गई मुहर◾Bharat Jodo Yatra: मल्लिकार्जुन खरगे ने किया शाह से पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था का आग्रह ◾दिल्ली में एक बार फिर हुई कंझावला जैसी हैवानियत, बोनट पर फंसे शख्स को 350 मीटर तक घसीटा, मौके पर मौत◾ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करेंगे NCC की वार्षिक रैली को संबोधित◾

कर्नाटक का शिवमोग्गा फिर बना चर्चा का केंद्र, दीवारों पर लिखा- 'Join CFI'....जांच में जुटी पुलिस

कर्नाटक के विवादास्पद शिवमोग्गा जिले के शिरालाकोप्पा शहर के कई हिस्सों पर प्रतिबंधित इस्लामिक कट्टरपंथी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) की छात्र इकाई कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया को लेकर कमेंट लिखे पाए गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि शिरालाकोप्पा में कम से कम नौ जगहों पर "ज्वाइन सीएफआई" लिखा पाया गया। जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। माना जा रहा है कि यह कमेंट पीएफआई (पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) को बैन करने से पहले लिखा गया है।  

पीएफआई राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने पीएफआई को टेरर फंडिंग समेत विभिन्न गैरकानूनी कार्यों में शामिल पाए जाने के बाद पांच वर्ष के लिए प्रतिबंधित कर दिया था। राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) के नेतृत्व में कई जांच एजेंसियों ने देशभर में छापेमारी कर उसके 250 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया था। पीएफआई पर आतंकी गतिविधियों में शामिल रहने से लेकर अपने कार्यकर्ताओं को हथियार चलाने की ट्रेनिंग देने के आरोप लगते रहे है। एनआईए ने अपनी रिपोर्ट में इस संगठन को राष्ट्र के लिए खतरा बताया था। बता दें कि बीते दिनों शिवमोग्गा में उठे हिजाब विवाद में भी पीएफआई की संलिप्ता पाई गई थी।  

आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने का आरोप

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पीएफआई से संबंधित ऑल इंडिया इमाम काउंसिल (AIIC) , कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (CFI), एम्पॉवर इंडिया फाउंडेशन (EIF), रिहैब इंडिया फाउंडेशन (RIF), नेशनल कॉन्फेडरेशन ऑफ ह्यूमन राइट्स ऑर्गेनाइजेशन (NCHRO), जूनियर फ्रंट, नेशनल विमेंस फ्रंट और रिहैब फाउंडेशन (केरल) को भी बैन कर दिया था। इन सभी पर आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने का आरोप था।