BREAKING NEWS

राजू श्रीवास्तव की हालत स्थिर, डॉक्टर उनका बेहतर इलाज कर रहे हैं : शिखा श्रीवास्तव◾कोलकाता में ममता से मिले पूर्व भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी◾महाराष्ट्र : रायगढ़ तट से मिली संदिग्ध नाव, AK-47 समेत कई हथियार बरामद ◾रोहिंग्याओं पर राजनीति! भाजपा ने कहा- केजरीवाल रोहिंग्याओं को ‘रेवड़ी’ बांट रहे, राष्ट्रीय सुरक्षा के समझौते को तैयार◾जयशंकर ने कहा- भारत स्वतंत्र, समावेशी व शांतिपूर्ण हिंद प्रशांत की परिकल्पना करता है◾गहलोत का भाजपा पर फूटा गुस्सा- देश को हिंदू राष्ट्र बनाया तो होगा पाकिस्तान जैसा हाल◾रायगढ़ में नाव को लेकर बवाल! फडणवीस बोले- खराब मौसम के कारण नाव अनियंत्रित होकर बहते हुए..... ◾ कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने कहा, कर्नाटक में कांग्रेस एकजुट, अकेले और सामूहिक नेतृत्व में लड़ेंगे विधानसभा चुनाव◾पता लगाएं किसने रोहिंग्या को फ्लैट में स्थानांतरित करने का फैसला किया? सिसोदिया ने गृहमंत्री को लिखा पत्र ◾रोहिंग्याओं को लेकर बवाल, थरूर बोले-मुद्दे पर सरकार में असमंजस देश के लिए कलंक◾Jagdeep Dhankhar: उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से गुलाम नबी आजाद ने अहम मुलाकात की◾राहुल गांधी का भाजपा पर कटाक्ष, बोले- पीएम नरेंद्र मोदी को ऐसी राजनीति पर नहीं आती शर्म◾बीमा भारती के लेसी सिंह पर लगाए आरोपों पर भड़के नीतीश, कहा-अगर इधर-उधर का मन है तो अपना सोचें◾Maharashtra: अवैध शराब पर राज्य के गृह विभाग को वासुदेव के खिलाफ रिपोर्ट मिली, जल्द होगा निलंबित.....बोले फडणवीस ◾Gujarat News: AAP पार्टी का मास्टर प्लान! गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए 9 उम्मीदवारों की दूसरी सूची सांझा की ◾नीतीश के एक और मंत्री विवादों में, कृषि मंत्री सुधाकर सिंह पर लगा भ्रष्टाचार का आरोप◾Defamation Case : मुंबई कोर्ट का आदेश- संजय राउत को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए किया जाए पेश ◾फेक न्यूज पर मोदी सरकार का एक्शन, एक पाकिस्तानी समेत 8 YouTube चैनल किए ब्लॉक ◾बाहुबली मुख्तार अंसारी पर बड़ी कार्रवाई, दिल्ली और UP में कई ठिकानों पर ED की रेड◾पश्चिम बंगाल : टेरर कनेक्शन पर एक्शन, STF ने अलकायदा के 2 आतंकियों को किया गिरफ्तार◾

कर्नाटक : बेंगलुरू में स्कूलों को मिली धमकी के पाकिस्तान और सीरिया से जुड़े हैं तार, जांच में जुटी है पुलिस

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु के 14 से अधिक इंटरनेशनल स्कूलों को दिए गए फर्जी बम की धमकियों का तार सीरिया और पाकिस्तान से जुड़ा हुआ है। इस मामले की जांच कर रहे पुलिस सूत्रों ने शनिवार को पुष्टि की है कि स्कूलों को भेजे गए ईमेल सीरिया और पाकिस्तान से आए हैं। पुलिस अधिकारियों ने इसे आतंकवाद और राष्ट्र के खिलाफ साइबर युद्ध के रूप में लिया है। इस संबंध में सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) अधिनियम 66 (एफ) के तहत मामला दर्ज किया गया है। यह अधिनियम एक व्यक्ति पर लगाया जाता है, जो भारत की एकता, अखंडता, सुरक्षा या संप्रभुता को खतरे में डालने या लोगों के किसी भी वर्ग में आतंक फैलाने के इरादे से होता है। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि वह इस संबंध में बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त से बात करेंगे।
दोषियों के खिलाफ गंभीर कार्रवाई शुरू की जाएगी : सीएम बोम्मई
सीएम बोम्मई ने कहा, मेरे पास इस संबंध में कोई इनपुट नहीं है। लेकिन, दोषियों के खिलाफ गंभीर कार्रवाई शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा, ये घटनाएं समाज में शांति भंग करने के लिए हो रही हैं। ऐसा पिछले साल और उस साल से पहले भी हुआ था। हम मामले की जांच करेंगे अगर कोई ईमेल है, तो इससे पता लगाया जा सकता है कि इसकी उत्पत्ति किस देश में हुई है। उन्होंने कहा, ऐसे कुछ उदाहरण हैं जहां हमारे अधिकारियों ने ऐसे मामलों में कार्रवाई की है और संबंधित देशों के अधिकारियों से परामर्श करने के बाद आरोपी को गिरफ्तार किया है।
राज्य पुलिस केंद्रीय एजेंसियों के साथ समन्वय कर मामले की जांच कर रही है। उन्होंने घटना के बारे में केंद्रीय जांच एजेंसियों और अधिकारियों को लिखा है। पुलिस ने कहा कि तकनीकी विश्लेषण के आधार पर मामले से जुड़ी अहम जानकारियां जुटाई जा रही हैं।

स्कूलों की आधिकारिक ईमेल आईडी पर भेजी गई थी धमकी
अधिकारियों को संदेह है कि राज्य में हिजाब, हलाल और मुस्लिम व्यापारियों पर प्रतिबंध जैसे घटनाक्रम की पृष्ठभूमि के खिलाफ कट्टरपंथी तत्वों द्वारा ईमेल भेजे गए थे। बता दें कि, उपद्रवियों ने आठ अप्रैल को बेंगलुरु के बाहरी इलाके में स्थित 14 से अधिक इंटरनेशनल स्कूलों के लिए बम की धमकी भेजी थी, जिससे राज्य के माता-पिता, बच्चों और लोगों में दहशत और चिंता पैदा हो गई थी। बम की धमकी स्कूलों की आधिकारिक ईमेल आईडी पर भेजी गई थी। शुरूआत में हेब्बागोडी पुलिस स्टेशन की सीमा में स्थित एबेनेजर इंटरनेशनल स्कूल और हेनूर पुलिस स्टेशन की सीमा में स्थित विन्सेंट पल्लोटी इंटरनेशनल स्कूल को धमकियां मिली थी।
इस स्कूलों को भी मिली धमकी
इसके बाद में पता चला कि महादेवपुरा के गोपालन पब्लिक स्कूल, वरथुर के दिल्ली पब्लिक स्कूल और मराठाहल्ली के न्यू एकेडमी स्कूल और गोविंदपुरा के इंडियन पब्लिक स्कूल और अन्य स्कूलों को भी धमकी दी गई है। धमकी भरे संदेशों में से एक में लिखा, आपके स्कूल में एक शक्तिशाली बम लगाया गया है। ध्यान रहे यह मजाक नहीं है। आपके स्कूल में एक बहुत शक्तिशाली बम लगाया गया है, तुरंत पुलिस को बुलाओ, सैकड़ों लोगों की जान जा सकती हैं, जिनमें आप भी शामिल है। देर मत करो, अब सब कुछ आपके हाथ में है! इस मामले में आगे की जांच जारी है।