तिरुवनन्तपुरम : केरल के जल संसाधन मंत्री मैथ्यू टी थॉमस ने सोमवार को मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को अपना इस्तीफा सौंप दिया। माकपा नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार में वह जनता दल (सेक्युलर) के कोटे से मंत्री थे। जद (एस) के शुक्रवार को चित्तूर के विधायक के. कृष्णनकुट्टी को थॉमस की जगह मंत्री बनाने का निर्णय करने के बाद उन्होंने इस्तीफा दिया। जद(एस), एलडीएफ का प्रमुख सहयोगी दल है।
विजयन के आधिकारिक निवास पर आज सुबह थॉमस ने उन्हें (मुख्यमंत्री को) इस्तीफा सौंपा।

थॉमस ने कहा, “मैंने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री को सौंप दिया है। मैं अब विधायक हूं।” यह पूछे जाने पर कि क्या वह पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद के लिये दावा करेंगे तो थॉमस ने कहा कि उन्होंने इस तरह की कोई मांग नहीं रखी है और अपने इस्तीफे के लिये उन्होंने कोई शर्त नहीं रखी।

Mathew T. Thomas

थॉमस ने कहा कि उन्होंने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर काम किया है और इसके विस्तार में उन्होंने मदद की है। उन्होंने कहा कि पार्टी नहीं बंटेगी और एलडीएफ का हिस्सा बनी रहेगी। पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा के नेतृत्व वाली जद (एस) के केरल विधानसभा में तीन विधायक हैं।

पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व की पिछले सप्ताह बेंगलुरू में बैठक हुई थी, जिसमें उनकी जगह कृष्णनकुट्टी को मंत्री बनाने का फैसला किया गया था। थॉमस करीब ढाई वर्ष तक विजयन सरकार में मंत्री रहे। केरल विधानसभा का 13वां सत्र मंगलवार से शुरू होने वाला है।