BREAKING NEWS

PM मोदी : भूटान का पड़ोसी होना सौभाग्य कि बात, भूटान कि पंचवर्षीय योजनाओं में करेंगे सहयोग◾ AIIMS अस्पताल में लगी भीषण आग, मोके पर दमकल की कई गाड़ियां भेजी◾पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद◾प्रियंका गांधी बोलीं- देश में 'भयंकर मंदी' लेकिन सरकार के लोग खामोश◾ मायावती का ट्वीट- देश में आर्थिक मंदी का खतरा, इसे गंभीरता से लें केंद्र◾AAP के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा भाजपा में शामिल◾चिदंबरम बोले- मीर को नजरबंद करना गैरकानूनी, नागरिकों की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें अदालतें◾राजनाथ के आवास पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक शुरू, शाह समेत कई मंत्री मौजूद◾भूटान पहुंचे मोदी का PM लोटे ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर◾शरद पवार बोले- पता नहीं राणे का कांग्रेस में शामिल होने का फैसला गलत था या बड़ी भूल◾उत्तर कोरिया ने किया नए हथियार का परीक्षण, किम ने जताया संतोष◾12 दिन बाद आज से घाटी में फोन और जम्मू समेत कई इलाकों में 2G इंटरनेट सेवा बहाल◾राम माधव बोले- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को मिलेगा देश के कानूनों के अनुसार लाभ◾वित्त मंत्रालय के अधिकारियों संग PMO की बैठक आज, इन मुद्दों पर होगी चर्चा◾कोविंद, शाह और योगी जेटली को देखने AIIMS पहुंचे, जेटली की हालत नाजुक : सूत्र ◾आर्टिकल 370 : UNSC में Pak को बड़ा झटका, कश्मीर मामले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में पाकिस्तान को सिर्फ चीन का मिला समर्थन◾जम्मू में हमारे ''नेताओं की गिरफ्तारी'' निंदनीय, आखिर यह पागलपन कब खत्म होगा : राहुल ◾परमाणु हथियार के पहले प्रयोग न करने की नीति पर बोले राजनाथ: परिस्थितियों पर निर्भर करेगा फैसला◾कश्मीर में किसी की जान नहीं गई, कुछ दिनों में हालात होंगे सामान्य◾कश्मीर मुद्दे पर UNSC में बोले अकबरुद्दीन- जेहाद के नाम पर हिंसा फैला रहा है PAK◾

अन्य राज्य

महाराष्ट्र के CM फडणवीस बोले- विपक्ष को बाढ़ मुद्दे पर राजनीति नहीं करनी चाहिए

पश्चिम महाराष्ट्र में विनाशकारी बाढ़ से समुचित ढंग से नहीं निपटे जाने संबंधी विपक्ष के आरोपों का सामना कर रहे मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने शनिवार को कहा कि विपक्ष को बाढ़ मुद्दे पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। फडणवीस ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि विपक्ष को बाढ़ के मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए।

 उन्होंने कहा, ‘‘यदि गलतियां हैं, तो उन्हें बताया जाना चाहिए, हम सुधार करेंगे। मौजूदा स्थिति में सभी को एक साथ आने की जरूरत है।’’ उन्होंने राहत एवं बचाव अभियान के साथ-साथ मंत्री गिरीश महाजन का बचाव किया। महाजन उस समय विवादों में घिर गये थे जब एक राहत नौका पर खींची गयी उनका एक सेल्फी वीडियो वायरल हो गया था। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 2005 की बाढ़ के दौरान सांगली जिले में एक महीने में औसत 217 प्रतिशत बारिश हुई थी और इस बार केवल नौ दिन में 758 प्रतिशत बारिश हुई है। उन्होंने बताया कि कोल्हापुर में 2005 में एक महीने में 159 प्रतिशत बारिश हुई थी जबकि इस बार नौ दिन में 480 प्रतिशत बारिश दर्ज की गई। फडणवीस ने बताया कि सांगली जिले में 95 नौकाओं से 101 गांवों में 28,537 परिवारों को बचाया गया जबकि 35 हजार पशुओं को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। 

उन्होंने कहा कि पानी का स्तर कम होने पर सबसे पहली प्राथमिकता जल आपूर्ति और बिजली आपूर्ति को बहाल करना है। उन्होंने बताया कि कोल्हापुर और सांगली जिलों में 3,78,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया और 306 राहत शिविर बनाये गये है। जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन के कारण आलोचनाओं का सामना करने के बारे में फडणवीस ने कहा कि महाजन एक सुदूरवर्ती गांव में पहुंचने में सफल रहे थे और रास्ते में किसी ने वीडियो शूट की और तस्वीरें खींच लीं, जिन्हें सेल्फी के रूप में प्रसारित किया गया।

उन्होंने कहा, ‘‘हर किसी को एक प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब यह पूछा गया कि क्या मैं एक नाव में बचाव कार्यों की समीक्षा करना चाहता हूं। मैंने मना कर दिया क्योंकि मेरी सुरक्षा के लिए दो नावों की आवश्यकता होती और इससे बचाव कार्यों में बाधा आती। मेरा काम स्थानीय प्रशासन को दिशा-निर्देश देना और समझाना है कि सरकार के स्तर पर क्या निर्णय लिए जा रहे हैं।’’ 

बाढ़ पीड़ितों के लिए चावल और गेहूं के थैलों पर उनकी और एक स्थानीय भाजपा विधायक की तस्वीरों वाले स्टीकर लगे होने के संबंध में हो रही आलोचना पर फडणवीस ने कहा कि तस्वीरों की जरूरत नहीं थी, केवल महाराष्ट्र सरकार का उल्लेख होना चाहिए था। उन्होंने कहा कि बाढ़ के बाद साफ-सफाई और बीमारियों को फैलने से रोकना एक चुनौती होगी। उन्होंने कहा कि एक डॉक्टर और दो फार्मासिस्ट को आवश्यक दवाओं के साथ हर गांव में भेजा जायेगा।