BREAKING NEWS

भारतीय मुसलमान घुसपैठिए और शरणार्थी नहीं, डरना नहीं चाहिए : रिजवी◾निर्भया के दोषियों को फांसी देना चाहती हैं इंटरनेशनल शूटर वर्तिका, अमित शाह को खून से लिखा खत ◾पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन, कई स्थानों पर सड़कें अवरुद्ध◾नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने दिए संकेत◾अनशन पर बैठीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल हुईं बेहोश, LNJP अस्पताल में भर्ती◾CAB के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद आज गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू में ढील◾झारखंड विधानसभा चुनाव: देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर◾ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾दिल्ली के रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को रैली कर दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू करेंगे PM मोदी ◾जामिया के छात्रों ने आंदोलन फिलहाल वापस लिया◾सीएए के खिलाफ जनहित याचिका दायर की, एआईएमआईएम हरसंभव तरीके से कानून के खिलाफ लडे़गी : औवेसी◾गंगा बैराज की सीढियों पर अचानक फिसले प्रधानमंत्री मोदी ◾संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पूर्वोत्तर, बंगाल में प्रदर्शन जारी◾

अन्य राज्य

महाराष्ट्र के CM फडणवीस बोले- विपक्ष को बाढ़ मुद्दे पर राजनीति नहीं करनी चाहिए

 devendra fadnavis

पश्चिम महाराष्ट्र में विनाशकारी बाढ़ से समुचित ढंग से नहीं निपटे जाने संबंधी विपक्ष के आरोपों का सामना कर रहे मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने शनिवार को कहा कि विपक्ष को बाढ़ मुद्दे पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। फडणवीस ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि विपक्ष को बाढ़ के मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए।

 उन्होंने कहा, ‘‘यदि गलतियां हैं, तो उन्हें बताया जाना चाहिए, हम सुधार करेंगे। मौजूदा स्थिति में सभी को एक साथ आने की जरूरत है।’’ उन्होंने राहत एवं बचाव अभियान के साथ-साथ मंत्री गिरीश महाजन का बचाव किया। महाजन उस समय विवादों में घिर गये थे जब एक राहत नौका पर खींची गयी उनका एक सेल्फी वीडियो वायरल हो गया था। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 2005 की बाढ़ के दौरान सांगली जिले में एक महीने में औसत 217 प्रतिशत बारिश हुई थी और इस बार केवल नौ दिन में 758 प्रतिशत बारिश हुई है। उन्होंने बताया कि कोल्हापुर में 2005 में एक महीने में 159 प्रतिशत बारिश हुई थी जबकि इस बार नौ दिन में 480 प्रतिशत बारिश दर्ज की गई। फडणवीस ने बताया कि सांगली जिले में 95 नौकाओं से 101 गांवों में 28,537 परिवारों को बचाया गया जबकि 35 हजार पशुओं को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। 

उन्होंने कहा कि पानी का स्तर कम होने पर सबसे पहली प्राथमिकता जल आपूर्ति और बिजली आपूर्ति को बहाल करना है। उन्होंने बताया कि कोल्हापुर और सांगली जिलों में 3,78,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया और 306 राहत शिविर बनाये गये है। जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन के कारण आलोचनाओं का सामना करने के बारे में फडणवीस ने कहा कि महाजन एक सुदूरवर्ती गांव में पहुंचने में सफल रहे थे और रास्ते में किसी ने वीडियो शूट की और तस्वीरें खींच लीं, जिन्हें सेल्फी के रूप में प्रसारित किया गया।

उन्होंने कहा, ‘‘हर किसी को एक प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब यह पूछा गया कि क्या मैं एक नाव में बचाव कार्यों की समीक्षा करना चाहता हूं। मैंने मना कर दिया क्योंकि मेरी सुरक्षा के लिए दो नावों की आवश्यकता होती और इससे बचाव कार्यों में बाधा आती। मेरा काम स्थानीय प्रशासन को दिशा-निर्देश देना और समझाना है कि सरकार के स्तर पर क्या निर्णय लिए जा रहे हैं।’’ 

बाढ़ पीड़ितों के लिए चावल और गेहूं के थैलों पर उनकी और एक स्थानीय भाजपा विधायक की तस्वीरों वाले स्टीकर लगे होने के संबंध में हो रही आलोचना पर फडणवीस ने कहा कि तस्वीरों की जरूरत नहीं थी, केवल महाराष्ट्र सरकार का उल्लेख होना चाहिए था। उन्होंने कहा कि बाढ़ के बाद साफ-सफाई और बीमारियों को फैलने से रोकना एक चुनौती होगी। उन्होंने कहा कि एक डॉक्टर और दो फार्मासिस्ट को आवश्यक दवाओं के साथ हर गांव में भेजा जायेगा।