BREAKING NEWS

आज का राशिफल (06 दिसंबर 2022)◾संसदीय पैनल ने RBI गवर्नर के लिए की 6 वर्ष के कार्यकाल की सिफारिश, जाने क्या कहती है रिपोर्ट ◾UP : हिन्दू महासभा ने की शाही ईदगाह में हनुमान चालीसा का पाठ करने की घोषणा, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा ◾दुनिया में एक शक्तिशाली देश के रूप में उभरा है भारत : प्रधानमंत्री मोदी ◾PFI पोस्टर मामला : CM बोम्मई बोले- दोषियों के खिलाफ की जाएगी कड़ी कार्रवाई, भ्रम पैदा करना सही नहीं ◾गुजरात चुनाव : दूसरे चरण में हुआ 58 प्रतिशत से अधिक मतदान, अधिकारियों ने दी जानकारी ◾J&K : उमर अब्दुल्ला बोले - लोगों को अंधेरे में नहीं रख रही नेकां, मेरा दिल कहता है बहाल होगा अनुच्छेद 370 ◾सुप्रीम कोर्ट की फटकार, कहा- पंजाब में शराब, ड्रग्स पर रोक न लगने से खत्म हो जाएंगे युवा◾Himachal Pradesh: किसका होगा हिमाचल! Exit Polls के मुताबिक- पहाड़ों में फिर खिलेगा 'कमल' ◾सुप्रीम कोर्ट की सलाह: दुनिया बदल गई, CBI को भी बदलना चाहिए, जानें क्या है पूरा मामला ◾दिल्ली हाई कोर्ट ने राघव बहल के खिलाफ धनशोधन की जांच पर रोक लगाने से किया इनकार ◾बिहार की सियासत में कांग्रेस की बढ़ी दिलचस्पी, अखिलेश प्रसाद सिंह राज्य इकाई के अध्यक्ष नियुक्त◾European Union: एयरलाइन यात्रियों के लिए खुशखबरी, जल्द अपने फोन में 5जी सर्विस का उठा पाएंगे लाभ ◾Lakhimpur Kheri case: केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे समेत 13 आरोपियों को आरोपमुक्त करने की अर्जी खारिज◾Maharashtra: नाना पटोले ने कहा- BJP कर रही है शिवाजी महाराज का अपमान करने का प्रयास◾Maharashtra: महाराष्ट्र में दरिंदगी, 5 साल की बच्ची के साथ बलात्कार, पुलिस ने आरोपी को दबोचा◾अखिलेश यादव का आरोप, कहा- उपचुनावों में लोगों को वोट देने से रोक रहा है प्रशासन◾देश के पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम G-20 शिखर सम्मेलन पर सर्वदलीय बैठक में होंगे शामिल ◾आतंक फैलाने में जुटा PAK, भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर बीएसएफ ने ड्रोन और हेरोइन बरामद की◾पिटबुल कुत्ते ने 9 साल के मासूम बच्चे पर किया हमला बच्चा गंभीर रूप से घायल, मालिक पर केस दर्ज◾

महाराष्ट्र पुलिस ने राज्य के विभिन्न जिलों में छापे मारकर PFI और SDPI के 32 कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार

महाराष्ट्र पुलिस ने मुंबई तथा राज्य के विभिन्न जिलों में छापे मारकर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) तथा उसकी राजनीतिक इकाई सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के 32 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है।

महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने संवाददाताओं से कहा कि पीएफआई पर कार्रवाई उनकी गतिविधियों के मामले में जांच पर आधारित कानूनों और सबूतों के अनुरूप है।

राज्य के गृह विभाग का भी प्रभार संभाल रहे फडणवीस ने कहा, ‘‘समाज में विभाजन पैदा करने और देश को कमजोर करने के प्रयास किये जा रहे हैं। क्रमबद्ध तरीके से ऐसा किया जा रहा है।’’

पुलिस के मुताबिक, औरंगाबाद से 14 लोगों को, पुणे से छह, मुंबई से एक, ठाणे से चार को, नांदेड़, परभणी और मालेगांव से दो-दो लोगों को और अमरावती से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है।

पुणे में पुलिस ने दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 151 के तहत कोंढवा इलाके से पीएफआई और एसडीपीआई से जुड़े छह लोगों को गिरफ्तार किया। बाद में एक स्थानीय अदालत ने उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई में एसडीपीआई के पूर्व प्रमुख और मौजूदा महासचिव सैय्यद चौधरी (52) को उपनगर चेंबूर से गिरफ्तार किया गया। ऐसी सूचना मिली थी कि वह राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में कथित तौर पर शामिल है। मुंबई में और छापेमारी तथा गिरफ्तारियां होने की संभावना है।

चौधरी को एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया, जहां उन्हें छह अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

ठाणे के पुलिस उपायुक्त (अपराध) लक्ष्मीकांत पाटिल ने कहा कि स्थानीय पुलिस और अपराध शाखा के अधिकारियों द्वारा जिले में चलाए गए संयुक्त अभियान के तहत सोमवार रात को चार पीएफआई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया।

उन्होंने बताया कि दो कार्यकर्ताओं को मुंब्रा से और एक-एक को कल्याण व भिवंडी से पकड़ा गया है।

औरंगाबाद के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उन्होंने पीएफआई के 14 सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

नासिक के पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सचिन पाटिल ने कहा, ‘‘हमने मालेगांव से दो लोगों को गिरफ्तार किया है।’’

नांदेड़ के पुलिस अधीक्षक निसार तांबोली ने बताया कि उन्होंने दो लोगो को गिरफ्तार किया है।

एक अधिकारी ने बताया कि अमरावती शहर की पुलिस की अपराध शाखा ने पीएफआई के जिला अध्यक्ष सोहेल अनवर अब्दुल कादिर उर्फ सोहेल नदवी (38) को छायानगर से गिरफ्तार किया।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने फार्मासिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या के मामले में जुलाई में नदवी से पूछताछ की थी।

सूत्रों ने बताया कि नदवी को पूछताछ के लिए एनआईए को सौंपा जा सकता है।

मंगलवार को सात राज्यों में हुई छापेमारी में पीएफआई से कथित तौर से जुड़े 170 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया या गिरफ्तार किया गया। कट्टरपंथी इस्लाम से जुड़े होने के आरोपी इस संगठन के खिलाफ पांच दिन पहले देशभर में तलाशी की कार्रवाई हुई थी।

इससे पहले, देश में आतकंवादी गतिविधियों को समर्थन देने के आरोप में 22 सितंबर को एनआईए के नेतृत्व में विभिन्न एजेंसियों के अभियान के तहत इसी तरह छापेमारी करके 15 राज्यों में पीएफआई के 106 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया था।