हरिद्वार : रेलवे स्टेशन के सामने नाला चोक पड़ा हुआ था। आने-जाने वाले लोग गंदगी से परेशान हो रहे थे। नगर निगम के अधिकारियों को इस संबंध में बताया गया तो उन्होंने सुध तक नहीं ली। हरिद्वार में रेलवे स्टेशन के सामने नाला चोक होने की खबर हरिद्वार की मेयर अनिता शर्मा के पति अशोक शर्मा ने नगर निगम को दी। नाला चोक होने से सड़क पर गंदा पानी जमा हो रहा था। जिससे लोगों का सड़क पर चलना मुश्किल हो रहा था।

अशोक शर्मा ने अधिकारियों को फोन कर बुलाया, लेकिन अधिकारी न खुद आए और न ही सफाई कर्मचारी भेजे। जिसके बाद अशोक खुद ही नाले में उतर गए और चोक नाले को साफ करके ही बाहर निकले। उसके बाद मेयर अनिता शर्मा ने निगम अधिकारियों और केबिनेट मंत्री मदन कौशिक पर अपना गुस्सा उतारा। मेयर ने कहा कि शहरी विकास मंत्री ने शहर का विनाश कर दिया। जनता ने काम करने के लिए मेयर बनाया है तो काम करेंगे। अधिकारी बिलकुल नहीं सुनते। चारो तरफ गंदगी है कोई सफाई नहीं हो रही।

मेयर प्रतिनिधि व पूर्व सभासद अशोक शर्मा ने रोते हुए कहा कि मेयर बीमार थी और अस्पताल में भर्ती थी कोई अधिकारी देखने नहीं गया। आचार संहिता का बहाना बनाकर अधिकारी काम नहीं कर रहे। स्वयं नाले की सफाई अपने खर्चे पर करवानी पड़ रही है। अब तो अपने आप नाले में उतरकर नाले की सफाई करनी पड़ रही है। स्थानीय व्यापारियों ने बताया कि स्टेशन के बाहर बहुत गंदगी है।