BREAKING NEWS

Share Market : शेयर बाजार ने की अच्छी शुरुआत, खुलते ही 500 अंक चढ़ा सेंसेक्स ◾अरुणाचल प्रदेश नहीं है कचरे का ढेर, कुत्ता टहलाने वाले IAS के तबादले पर भड़कीं महुआ मोइत्रा◾30 रुपये महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल तो इमरान ने शहबाज शरीफ पर बोला हमला, भारत की तारीफ में पढ़े कसीदे◾World Corona : 52.78 करोड़ के पार पहुंचे मामले, अब तक 62.8 लाख मरीजों की हो चुकी है मौत ◾देश में एक दिन में 3 हजार के करीब नए मामले, 15814 पहुंचा एक्टिव केस का आंकड़ा ◾भारतीय लेखिका गीतांजलि श्री को मिला बुकर प्राइज 2022, उपन्यास 'रेत समाधि' के अंग्रेजी अनुवाद को मिला खिताब ◾देश के पहले PM जवाहर लाल नेहरू की 58वीं पुण्यतिथि, प्रधानमंत्री मोदी-सोनिया ने दी श्रद्धांजलि ◾J&K : टीवी कलाकार की हत्या में शामिल दोनों आतंकी ढेर, श्रीनगर में भी 2 दहशतगर्दों का हुआ सफाया◾आज का राशिफल ( 27 मई 2022)◾त्यागराज स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी संजीव खिरवार का लद्दाख ट्रांसफर, पत्नी का अरुणाचल तबादला◾PM मोदी के नेतृत्व और सशस्त्र बलों के योगदान ने भारत के प्रति दुनिया के नजरिये को बदला : राजनाथ◾PM मोदी ने तमिल भाषा का किया जिक्र , स्टालिन ने ‘सच्चे संघवाद’ को लेकर साधा निशाना◾भारत, यूएई ने जलवायु कार्रवाई के लिए समझौता ज्ञापन पर किए हस्ताक्षर ◾J&K : कश्मीर में टीवी कलाकार की हत्या में शमिल दो आतंकवादी सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में घिरे◾J&K : कुपवाड़ा में सेना ने घुसपैठ का प्रयास किया विफल , तीन आतंकवादी मारे गए, पोर्टर की भी मौत◾PM मोदी ने ‘परिवारवाद’ के कटाक्ष से राव को घेरा, तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने ‘भाषणबाजी’ का लगाया आरोप◾टीएमसी का दावा, दिलीप घोष को बंगाल से बाहर किया जा रहा है, भाजपा का पलटवार◾ मूडीज ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटाया, आसमान छू रही महंगाई पर जताई चिंता◾ Tamil Nadu: चेन्नई पहुंचे PM मोदी ,हुआ जोरदार स्वागत, रोड शो में उमड़ी हजारों की भीड़◾तेलंगाना के CM चंद्रशेखर राव ने एच डी देवेगौड़ा से की मुलाकात, जानें- किन मुद्दों पर हुई चर्चा◾

मेघालय कोयला खदान हादसा : पांच खनिक फंसे खदान में, बारिश से हो रहा है बचाव अभियान बाधित

मेघालय के जयंतिया जिले में एक अवैध कोयला खदान में दो दिनों से फंसे कम से कम पांच खनिकों के लिए चलाए जा रहे राहत एवं बचाव अभियान में मंगलवार को वर्षा की वजह से बाधा आई अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी। जिला प्रशासन ने बताया कि उनमें से चार श्रमिक असम और एक त्रिपुरा के हैं। ये सभी सुतंगा एलाका के सुदूर उमप्लेंग क्षेत्र में कोयला खदान में रविवार को तब से फंसे हैं जब डायनामाइट विस्फोट के बाद उसमें पानी भर गया था। 

सिलचर के पुलिस अधीक्षक ने यहां प्रशासन को इस खदान दुर्घटना में असम के छह खनिकों के फंसे होने की आशंका के बारे में सूचना भेजी थी। जिला उपायुक्त ई खर्मालकी ने कहा कि भारी वर्षा से बचाव अभियान में रूकावट आयी। राज्य आपदा मोचन बल के 25 कर्मी एवं अग्निशमन सेवा के कर्मी दुर्घटनास्थल पर हैं। उन्होंने कहा कि हम पहले खदान की गहराई का पता लगाने के लिए क्रेन लाने का प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि उच्च क्षमता वाला एक पंप भी मंगाया गया है लेकिन उसे तब लगाया जाएगा जब गोताखोर अंदर जाकर यह पता लगा लें कि वहां कोई भी व्यक्ति जीवित बचा भी है या नहीं। जिला प्रशासन ने नोटिस जारी करके 30 मई की इस हादसे में बारे में लोगों से सूचनाएं मांगी है। इस आदेश में कहा गया है, ‘‘ इस विषय में जिस किसी व्यक्ति को जानकारी है, उसे आठ जून या उससे पहले पूर्वाह्न 11 बजे से अपराह्न तीन बजे तक उपायुक्त कार्यालय में आने का अनुरोध है।’’

वैसे स्थानीय लोगों का कहना है कि खदान में फंसे किसी भी खनिक के जिंदा बाहर आने की संभावना बिल्कुल क्षीण है, वैसे जिला प्रशासन उनतक पहुंचने का भरसक कोशिश कर रहा है। सतुंगा एलाका के एक बुजुर्ग ने कहा कि यह खदान 100 फुट तक तबतक लंबवत खोदी गई  जब तक कोयले की परत नजर नहीं आई। उसके बाद फिर कोयला निकालने के लिए छोटी लंबवत सुरंगें खोदी गई। पानी से भरी खदान का मतलब है कि सभी सुरंगों में पानी भर जाना।

पुलिस अधीक्षक जगपाल सिंह धनोआ ने बताया कि खदान के प्रबंधक को पकड़ने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। खदान प्रबंधक इस हादसे के बाद फरार हो गया और उसने लोगों को इसका खुलासा नहीं करने की धमकी भी थी। गौरतलब है कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने 2014 में अपने एक फैसले में असुरक्षित और अवैज्ञानिक तरीके से कोयला खनन और उसके परिवहन पर प्रतिबंध लगा दिया था।