BREAKING NEWS

बजट 1 फरवरी को हो सकता है पेश : सूत्र ◾BJP की महिला सांसदों ने चुनाव आयोग से की राहुल गांधी की शिकायत ◾दिल्ली में अभी चुनाव हुए तो भाजपा को मिलेंगी 42 सीटें◾अवसाद में निर्भया कांड के दोषी, खाना-पीना कम किया : तिहाड़ जेल के सूत्र◾योगी ने राम मंदिर के लिए हर परिवार से 11 रुपये, पत्थर मांगे ◾सर्जिकल स्ट्राइक की इजाजत देने से पहले पर्रिकर ने कहीं थीं दो बातें : दुआ◾‘रेप इन इंडिया’ टिप्पणी को लेकर भाजपा . कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर ◾महिलाओं की सुरक्षा को लेकर केजरीवाल बोले - हरसंभव कार्य कर रहा हूँ◾उत्तराखंड में भूकंप के हल्के झटके महसूस किये गये◾केवल भाजपा दे सकती है स्थिर और विकास उन्मुख सरकार : मनोज तिवारी◾अर्थव्यवस्था को गति देने के जब भी जरूरत होगी, कदम उठाये जाएंगे : वित्त मंत्री◾अमित शाह, निर्मला सीतारमण अगले सप्ताह भारत आर्थिक सम्मेलन में अपने विचार रखेंगे◾भाजपा की महिला सांसदों ने चुनाव आयोग से राहूल गांधी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की ◾CAB-NRC कभी नहीं लागू करूंगी : ममता◾‘रेप इन इंडिया’ टिप्पणी पर राहुल का माफी से इनकार, मोदी का वीडियो ट्वीट कर किया पलटवार◾पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी में की गोलीबारी, दो जवान घायल◾मालदीव की अवामी-मजलिस के स्पीकर मोहम्मद नशीद ने PM मोदी से की मुलाकात◾यूएई से आए विमान में बम रखे होने की कॉल, दिल्ली पुलिस ने मांगी फोन करने वाले की जानकारी ◾पूर्वोत्तर में हिंसक प्रदर्शन के कारण जापान के प्रधानमंत्री का भारत दौरा रद्द ◾TOP 20 NEWS 13 DEC : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

अन्य राज्य

चंबल के पूर्व डकैत मोहर सिंह ने PM से प्राचीन मंदिरों की दुर्लभ धरोहर बचाने के लिए लगाई गुहार

 mahohar

चंबल के बीहड़ों में आतंक का पर्याय रहे दस्यु सरगना मोहर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मध्य प्रदेश के मुरैना में स्थित नौवीं शताब्दी के क़रीब 200 मंदिरों का जीर्णोद्धार कराने की अपील की है। मुरैना के महगांव निवासी 92 वर्षीय मोहर सिंह ने मोदी को लिखे एक पत्र में कहा है कि उनके पूर्वजों द्वारा बनवाए गए “मंदिरों को एक-एक करके गिरते हुए नहीं देखा जाता।” 

मोहर सिंह ने कहा कि उन्होंने छह सितंबर को प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर बटेश्वर स्थित इन मंदिरों के जीर्णोद्धार का काम फिर से शुरु कराने की अपील की है। पूर्व दस्यु ने कहा, उन्हें “ उम्मीद है कि वे हमारी बात को सुनेंगे।’’ उल्लेखनीय है कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की मध्य प्रदेश इकाई के तत्कालीन प्रमुख के के मोहम्मद ने 2005 में उत्खनन कराकर जमींदोज हो चुके 80 मंदिरों का जीर्णोद्धार कराया था। 

शिवसेना का नाम लिए बिना बोले अमित शाह-महाराष्ट्र में NDA को मिलेगा तीन चौथाई बहुमत

उनकी अगुवाई में यह काम 2013 तक चला लेकिन, उनके सेवानिवृत्त होने पर काम बंद हो गया, जो तमाम प्रयासों के बाद अब तक शुरु नहीं हो पाया। मोहम्मद ने बताया कि मुरैना से महज पांच मील की दूरी पर मितावली, पढ़ावली और बटेश्वर गांव के आसपास ऐतिहासिक महत्व के अनेकों स्थल हैं। इनमें मितावली स्थित प्रतिहार कालीन चौंसठ योगिनी मंदिर भी है। 

मोहम्मद सहित अन्य इतिहासकारों का दावा है कि संसद भवन का डिजाइन आठवीं शताब्दी में निर्मित इसी मंदिर की प्रतिकृति है। उन्होंने बताया कि गुर्जर प्रतिहार काल में शासन सत्ता के केन्द्र में रहे ये तीनों गांव, तीन किमी के दायरे में हैं। उन्होंने इन स्थलों का जीर्णोद्धार कर इस क्षेत्र को टूरिस्ट सर्किट बनाने वाली योजना को बटेश्वर से शुरु किया था। लेकिन उनके सेवानिवृत्त होने के बाद योजना का काम आगे नहीं बढ़ा। 

मोहम्मद के अनुसार, बटेश्वर में 200 मंदिरों के अवशेष मौजूद हैं और इनमें से सिर्फ 80 मंदिरों का जीर्णोद्धार हो सका। उन्होंने बताया कि, इनमें अधिकांश शिव मंदिर हैं। मोहर सिंह ने कहा कि ‘‘45 साल पहले जयप्रकाश नारायण के आह्वान पर हमने बंदूक और बीहड़ को छोड़ दिया था। 

तब से हम बटेश्वर, मितावली और पड़ावली में स्थित इन मंदिरों के आसपास ही रहे। अब 92 साल की उम्र में इन मंदिरों को एक एक कर गिरते नहीं देख सकते। पत्र में मोहर सिंह ने स्वयं को गुर्जर प्रतिहार वंश से ताल्लुक रखने वाला बताते हुए कहा है कि उनके पूर्वजों गुर्जर प्रतिहारों द्वारा नौवीं शताब्दी में इन मंदिरों को बनवाया गया था।