BREAKING NEWS

जजों की नियुक्ति को लेकर आमने-सामने केंद्र और सुप्रीम कोर्ट, सरकार ने कॉलेजियम को लौटाए 19 नाम◾पंजाबी सिंगर दलेर मेहंदी की बढ़ी मुश्किलें, नया विवाद आया सामने◾अब जेब में कैश रखना होगा पुरानी बात, आम आदमी के लिए कल से होगी Digital Rupee की शुरुआत◾अमेरिका में समलैंगिक विवाह बिल हुआ पास, जो बिडेन बोले प्यार तो आखिर प्यार होता है◾UP : बहराइच में ट्रक और बस की भीषण टक्कर, 6 लोगों की मौत, 15 घायल◾गिरिराज सिंह ने कहा- सनातन धर्म को खत्म करने की हो रही साजिश, लव जिहाद को बताया आतंकवाद का नया रूप ◾आपसी विवाद के बाद पहली बार साथ नजर आए, अशोक गहलोत और सचिन पायलट◾टोयोटा किर्लोस्कर वाइस चेयरपर्सन विक्रम किर्लोस्कर का 64 साल की उम्र में हार्टअटैक से निधन◾UP के फिरोजाबाद में दुकान-मकान में लगी आग , 3 बच्चों समेत 6 की मौत , CM योगी ने हादसे पर दुःख प्रकट किया ◾एम्स सर्वर हैक मामला : गृह मंत्रालय में हुई उच्चस्तरीय बैठक◾दिल्ली के आसपास 2.4 तीव्रता का भूकंप, हल्के झटके महसूस किए गए◾आज का राशिफल (30 नवंबर 2022)◾सुंदरवन जल्द ही नया जिला होगा : ममता बनर्जी◾भारत में टारगेट हत्याओं के पीछे पाकिस्तान-कनाडा स्थित आतंकवादी, NIA जांच में खुलासा◾ थम गया गुजरात चुनाव का प्रचार, खड़गे ने PM को बताया रावण, BJP ने कांग्रेस पर किया पलटवार ◾MP : महाकाल मंदिर में राहुल गांधी ने की पूजा-अर्चना ◾रामपुर में पहले नहीं होते थे चुनाव, थानों और बूथों पर रहता था सपा के गुंडों का कब्जा : बृजेश पाठक ◾J&K : आजाद बोले- धार्मिक राजनीति ने देश को पहुंचाया गहरा नुकसान, वोट डालने से पहले जांचे 'ट्रैक रिकॉर्ड'◾पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- विनिर्माण की दुनिया में लगातार आगे बढ़ रहा है भारत◾Assam: सीएम शर्मा ने कहा- डिब्रूगढ़ विवि ने रैगिंग की घटना छिपाने की कोशिश की या नहीं, जांच पुलिस करेगी◾

मध्यप्रदेश : टेरर फंडिग के आरोप में ISI के लिए काम कर रहे 5 लोग गिरफ्तार

मध्य प्रदेश की सतना क्राइम ब्रांच ने टेरर फंडिंग मामले से जुड़े एक ग्रुप के 5 लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस के अनुसार पकड़े गए सभी आरोपी पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी के लिए काम कर रहे थे। बुधवार शाम को क्राइम ब्रांच ने अलग-अलग कई जगहों पर छापा मारकर इन्हें हिरासत में लिया। साथ ही एटीएस की टीम भी सतना पहुंच गई और जांच में जुट गई है। 

सूत्रों के अनुसार आरोपियों के पास मौजूद फोन और लैपटॉप से 13 पाकिस्तानी फोन नंबर मिले हैं। इन नंबरों का प्रयोग वह पाकिस्तान में वीडियो कॉल और व्हाट्सएप संदेश भेजने के लिए किया करते थे। जिन्हे पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर आगे की जांच शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पकड़े गए आरोपियों के नाम बलराम सिंह, भागवेंद्र सिंह, सुनील सिंह, शुभम तिवारी और पांचवे आरोपी का नाम अभी तक पता नहीं चल सका है। बता दें कि गिरफ्त में आए एक आरोपी  बलराम को इससे पहले भी भोपाल एटीएस ने आठ फरवरी 2017 को गिरफ्तार किया था। इसके अलावा भागवेंद्र सिंह को इंदौर एसटीएस ने गिरफ्तार किया था जबकि सुनील सिंह 2014 से देश विरोधी गतिविधियों में सम्मिलित था लेकिन एटीएस उसे पकड़ नहीं पा रही थी।