BREAKING NEWS

हिमाचल प्रदेश : कुल्लू के बंजार में दर्दनाक बस हादसे में 44 की मौत, 30 घायल ◾WORLD CUP 2019, AUS VS BAN : ऑस्ट्रेलिया ने बंगलादेश को 48 रन से हराया, पॉइंट्स टेबल पर टॉप पर पहुंचे ◾अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सुबह 4 बजे से शुरू हो जाएगी दिल्ली मेट्रो ◾लोकसभा में आज पेश होगा तीन तलाक पर रोक लगाने वाला विधेयक ◾PM पहुंचे रांची , प्रधानमंत्री मोदी आज 40 हजार लोगों के साथ करेंगे योग◾राहुल अध्यक्ष रहेंगे या नहीं, असमंजस बरकरार◾दाभोलकर हत्याकांड : अदालत ने पुणलेकर को 23 जून तक CBI हिरासत में भेजा◾आदिवासियों के कानून पर टिप्पणी मामले में राहुल का जवाब - भाषण के प्रवाह में बहकर दिया गया था बयान ◾TDP के सांसदों के BJP में शामिल होने पर नायडू ने कहा - पार्टी के लिए संकट नई बात नहीं ◾बंगाल कांग्रेस में खुलकर सामने आई कलह, कई नेताओं ने विरोध मार्च में नहीं लिया हिस्सा◾राज्यसभा में TDP टूटी, दो तिहाई सांसद BJP में शामिल◾सुनिश्चित करेंगे कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री हमारी पार्टी से हो : शिवसेना ◾राम मंदिर पर अध्यादेश लायी सरकार तो देंगे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती : बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी ◾Top 20 News - 20 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾सभी दल राज्यसभा की सुचारु कार्यवाही सुनिश्चित करें : वेंकैया नायडू ◾राज्यसभा में तेदेपा टूट की कगार पर, नया गुट बना कर चार सदस्य कर सकते हैं भाजपा का समर्थन ◾कांग्रेस नेतृत्व में बदलाव के सवाल पर बोलीं सोनिया गांधी- 'नो कमेंट'◾राहुल की नजर मोबाइल पर होने का आरोप लगाना भाजपा को शोभा नहीं देता : कांग्रेस ◾अगले कांग्रेस अध्यक्ष के सवाल पर बोले राहुल गांधी - मैं नहीं, पार्टी तय करेगी मेरा उत्तराधिकारी◾बाबुल सुप्रियो ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, कहा- मोबाइल फोन पर मशगूल थे अभिभाषण में रुचि नहीं◾

अन्य राज्य

मध्य प्रदेश : कमलनाथ ने प्रदेश अध्यक्ष को लेकर जारी चर्चा पर लगाया विराम

कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष को लेकर जारी सुगबुगाहट पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यह कह कर विराम लगा दिया है कि दिल्ली में अध्यक्ष के मसले पर कोई चर्चा नहीं हुई। कमलनाथ वर्तमान में पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष भी हैं। राज्य में कांग्रेस के सत्ता में आने और कमलनाथ को मुख्यमंत्री की कमान सौंपे जाने के बाद से नए अध्यक्ष के नाम की चर्चा का दौर चला।

पिछले कई दिनों से कांग्रेस के बड़े नेताओं -मुख्यमंत्री कमलनाथ, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, दिग्विजय सिंह, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह- सहित अन्य का दिल्ली में जमावड़ा होने के कारण हर रोज नए तरह की खबरें आती रहीं। अब इन चर्चाओं पर लगभग विराम लग गया है।

कमलनाथ तीन दिनों बाद दिल्ली से भोपाल लौटे और सोमवार को संवाददाताओं ने उनसे नए अध्यक्ष का सवाल पूछा। कमलनाथ ने साफ किया कि दिल्ली में अध्यक्ष को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई। उल्लेखनीय है कि राज्य के सियासी गलियारे में अध्यक्ष के नाम को लेकर चर्चा गर्म थी। नाम भी सोशल मीडिया पर चल रहे थे, इतना ही नहीं बधाई देने का दौर भी पूरे जोर पर था।

कमलनाथ ने ‘डाकू’ कहने वाले शिक्षक को किया माफ, निलंबन खत्म

अब कमलनाथ का जो बयान आया है, उससे एक संकेत तो मिल ही रहा है कि फिलहाल बदलाव के आसार नहीं हैं और संभावना जताई जा रही है कि मुख्यमंत्री व प्रदेशाध्यक्ष की कमान कमलनाथ के ही हाथ में रहने वाली है। राज्य में डेढ़ दशक बाद कांग्रेस सत्ता मे लौटी है।

कांग्रेस हाईकमान किसी भी तरह का विवाद पैदा नहीं करना चाहता है, क्योंकि कांग्रेस की सरकार सपा, बसपा और निर्दलीयों के सहयोग से चल रही है। नया अध्यक्ष बनने पर पार्टी में विवाद के हालात बन सकते हैं, लिहाजा अध्यक्ष के बदले जाने के आसार कम ही हैं। सूत्रों का भी कहना है कि आगामी चुनाव तक अध्यक्ष बदलने के आसार कम हैं।