BREAKING NEWS

UP : बहराइच में ट्रक और बस की भीषण टक्कर, 6 लोगों की मौत, 15 घायल◾गिरिराज सिंह ने कहा- सनातन धर्म को खत्म करने की हो रही साजिश, लव जिहाद को बताया आतंकवाद का नया रूप ◾आपसी विवाद के बाद पहली बार साथ नजर आए, अशोक गहलोत और सचिन पायलट◾टोयोटा किर्लोस्कर वाइस चेयरपर्सन विक्रम किर्लोस्कर का 64 साल की उम्र में हार्टअटैक से निधन◾UP के फिरोजाबाद में दुकान-मकान में लगी आग , 3 बच्चों समेत 6 की मौत , CM योगी ने हादसे पर दुःख प्रकट किया ◾एम्स सर्वर हैक मामला : गृह मंत्रालय में हुई उच्चस्तरीय बैठक◾दिल्ली के आसपास 2.4 तीव्रता का भूकंप, हल्के झटके महसूस किए गए◾आज का राशिफल (30 नवंबर 2022)◾सुंदरवन जल्द ही नया जिला होगा : ममता बनर्जी◾भारत में टारगेट हत्याओं के पीछे पाकिस्तान-कनाडा स्थित आतंकवादी, NIA जांच में खुलासा◾ थम गया गुजरात चुनाव का प्रचार, खड़गे ने PM को बताया रावण, BJP ने कांग्रेस पर किया पलटवार ◾MP : महाकाल मंदिर में राहुल गांधी ने की पूजा-अर्चना ◾रामपुर में पहले नहीं होते थे चुनाव, थानों और बूथों पर रहता था सपा के गुंडों का कब्जा : बृजेश पाठक ◾J&K : आजाद बोले- धार्मिक राजनीति ने देश को पहुंचाया गहरा नुकसान, वोट डालने से पहले जांचे 'ट्रैक रिकॉर्ड'◾पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- विनिर्माण की दुनिया में लगातार आगे बढ़ रहा है भारत◾Assam: सीएम शर्मा ने कहा- डिब्रूगढ़ विवि ने रैगिंग की घटना छिपाने की कोशिश की या नहीं, जांच पुलिस करेगी◾'मोदी सरकार' पर निशाना साधते हुए राहुल बोले- नोटबंदी, GST ने लोगों और छोटे व्यापारियों की कमर तोड़ी◾Gujarat: गुजरात में मिली जहरीली शराब पर भड़के राहुल गांधी- राज्य में फैल हुआ 'मोदी मॉडल'◾ लड़की के साथ दरिंदगी, तीन लोगों ने मिलकर किया दुष्कर्म, पुलिस ने आरोपियों को दबोचा, जानें पूरा मामला ◾Goa: सीएम प्रमोद सांवत ने कहा- ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर इफ्फी के जूरी प्रमुख का बयान कश्मीरी हिंदुओं का अपमान◾

केरल में कोरोना के कमबैक पर मुरलीधरन का बयान- केस बढ़ने के पीछे राज्य सरकार की लापरवाही जिम्मेदार

केरल में लगातार बढ़ रहे कोरोना के आतंक के बीच केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री और संसदीय मामलों के मंत्री वी मुरलीधरन ने गुरुवार को यानी आज कहा कि केरल सरकार की ‘‘लापरवाही’’ राज्य में कोविड-19 के मामलों और संक्रमण दर में वृद्धि की वजह है जबकि राज्य सरकार का ध्यान मोपला विद्रोह की वर्षगांठ मनाने पर है। दक्षिणी राज्य में बुधवार को कोरोना वायरस के 31,445 नए मामले सामने आए। 

राज्य में कल 215 मरीजों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 19,972 पर पहुंच गयी जबकि संक्रमण दर बढ़कर 19.03 प्रतिशत है। केरल में 3 महीने के अंतराल के बाद 30,000 से अधिक मामले आए हैं। यहां आखिरी बार कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान 20 मई को 30,000 के पार मामले दर्ज किए गए थे।

नयी दिल्ली में संवाददाताओं से मंत्री ने कहा कि संक्रमण के नए मामलों में वृद्धि, बढ़ती जांच संक्रमण दर (टीपीआर) और मृतकों की संख्या यह दिखाती है कि राज्य महामारी के बहुत बुरे दौर से गुजर रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘राज्य सरकार की लापरवाही इसकी वजह है।’’ उन्होंने कहा कि वाम सरकार का ध्यान मोपला दंगों की वर्षगांठ मनाने पर केंद्रित है। उन्होंने कहा, ‘‘यह प्राथमिकता नहीं है। कोविड-19 से निपटना प्राथमिकता होनी चाहिए।’’

कांग्रेस विधायक रमेश चेन्नीथला ने भी ऐसे ही विचार प्रकट किए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार राज्य में महामारी को फैलने से रोकने में नाकाम रही है और उन्होंने मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन से लोगों से माफी मांगने को कहा। उन्होंने यह भी कहा कि केरल में कोविड-19 के मामले बढ़ने के पीछे राज्य की ‘‘लापरवाही’’ वजह है।

मुरलीधरन ने कहा कि केरल का दौरा करने वाले केंद्रीय दल ने भी हाल में राज्य में कोविड रोकथाम उपायों में कमियों का जिक्र किया। उन्होंने आरोप लगाया कि केरल सरकार की घर पर पृथक वास की नीति संक्रमण को फैलने से रोकने में नाकाम रही है और इसके परिणामस्वरूप अस्पतालों पर बोझ बढ़ गया।

उन्होंने कहा कि राज्य को कोविड-19 को और फैलने से रोकने के लिए कड़े कदम उठाने की आवश्यकता है। चिकित्सा विशेषज्ञों ने अनुमान जताया कि ओणम पर्व के बाद टीपीआर 20 प्रतिशत के पार जाएगी और संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़ेगी।