BREAKING NEWS

गुजरात में भाजपा की होगी जीत! सीएम बोम्मई ने कहा- इसका सीधा सकारात्मक प्रभाव कर्नाटक में पडे़गा◾महाराष्ट्र के ट्रकों को बलगावी के पास रोक्कर की गई पत्थरबाजी, फडणवीस कर्नाटक के सीएम पर भड़के◾PM मोदी ने तेजस्वी यादव से की बात, राजद सुप्रीमो के स्वास्थ्य का जाना हाल ◾सावधान! अगर अब भी नहीं सुधरें तो 35 से कम उम्र में आ सकता है Heart Attack◾राहुल गांधी के सामने 'मोदी-मोदी' नारे पर भड़के कन्हैया कुमार, कहा- दिन 'महंगाई-महंगाई' चिल्लाएंगे ◾वीर सावरकर पर टिप्पणी करना राहुल गांधी को पड़ा भारी, सुप्रीम कोर्ट ने मांगी पूरी रिपोर्ट, दो दिन बाद सुनवाई ◾UP News: हिन्दू महासभा के ऐलान से हाई अलर्ट पर मथुरा, धारा 141 लागू, जानें क्या है मामला ◾श्रद्धा मर्डर केस : दुनिया के सबसे महंगे केस से आफताब ने सीखे पुलिस को गुमराह करने दांव-पेच◾लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आशीष मिश्रा सहित 14 पर आरोप तय, 16 दिसंबर से कोर्ट ट्रायल शुरू ◾Electric Vehicle लेने वालों को जल्द सरकार देगी तोहफा, नितिन गडकरी का ऐलान◾लालू की बेटी रोहिणी को लेकर गिरिराज का ट्वीट, भर-भर कर डाली तारीफ... अगली पीढ़ी के लिए बनोगी उदहारण◾एशिया के सबसे बड़े दानवीरों की लिस्ट में गौतम अडानी समेत तीन भारतीयों के नाम हुए शामिल◾PFI case: इसरार अली और मोहम्मद समून को मिली राहत, अदालत ने दी सशर्त जमानत ◾Babri Masjid Demolition Anniversary : बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर बोले ओवैसी◾AYODHYA ;बाबरी मस्जिद गिराए जाने के तीन दशक बाद तीर्थनगरी का माहौल कैसा?◾Yamuna Expressway: दुर्घटनाएं रोकने के लिए 15 दिसंबर से गति सीमा में होगा बदलाव, नहीं दौड़ पाएंगे तेज वाहन◾CANADA MURDER : कनाडा में भारतीय महिला के सिर पर गोली मारकर शूटर हुआ फ़रार, पुलिस कर रही तलाश ◾अधीर रंजन चौधरी ने केंद्र की नीतियों को लिया आडे़ हाथों, संसद के शीतकालीन सत्र की तारीख को लेकर कही यह बात◾MCD चुनाव 2022: तारीख, समय और परिणाम◾इंडोनेशिया में नया कानून, प्री-मैरिटल सेक्स बैन, अपराध श्रेणी में Live-in-relationship◾

नागालैंड फायरिंग: सेना ने दिया ‘कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी’ का आदेश, जानिए क्या है पूरा घटनाक्रम

सेना ने नागालैंड के मोन जिले में उग्रवाद रोधी अभियान के दौरान कई आम लोगों की मौत होने के मामले की ‘कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी’ का रविवार को आदेश दिया। कोहिमा में पुलिस ने बताया कि सुरक्षाबलों की कथित गोलीबारी में आम लोगों की मौत हो गई और वह यह पता लगाने के लिए जांच कर रही है कि क्या यह गलत पहचान किए जाने से जुड़ी घटना है।

गोलीबारी की इस घटना में मरे गए लोगों के आंकड़ों में वृद्धि हुई है, अब यह संख्या बढ़ कर एक जवान समेत 14 हो गयी है। कथित तौर पर घटनास्थल पर 6 लोगों की मौत के बाद ग्रामीण सुरक्षाबलों से भिड़ गए थे। इसी पर सुरक्षाबलों की जवाबी कार्यवाही में अधिक लोग मारे गए। 

असम राइफल्स ने घटना को बताया अत्यंत खेदजनक

असम राइफल्स ने बताया कि म्यांमा की सीमा से लगने वाले मोन जिले में उग्रवादियों की संभावित गतिविधियों की विश्वसनीय खुफिया जानकारी के आधार पर अभियान चलाया गया था। सेना ने एक बयान में कहा, ‘‘यह घटना और इसके बाद जो हुआ, वह अत्यंत खेदजनक है। लोगों की मौत की इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना के कारणों की ‘कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी’ के जरिए उच्चतम स्तर पर जांच की जा रही है और कानून के अनुसार उचित कार्रवाई की जाएगी।’’

उन्होंने कहा कि सुरक्षाकर्मी अभियान में गंभीर रूप से घायल हुए हैं और एक जवान की मौत हो गई है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे को घटना की जानकारी दी गई है। 

जानिए पूरा घटनाक्रम 

बता दें कि पूरी घटना में मारे गए लोग एक पिकअप मिनी ट्रक से कहीं से आ रहे थे। जब वे लोग समय से नहीं पहुंचे तो गांव के वॉलंटियर्स उन्हें खोजने निकल पड़े, जहां उन्हें ग्रमीणों के शव मिले इसके बाद वहां हड़कंप मच गया। गुस्साए ग्रमीणों ने सुरक्षाबल का घेराव किया उनके वाहनों को आग के हवाले कर दिया और जवाबी कार्रवाई के परिणामस्वरूप लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

नागालैंड: सुरक्षाबलों की फायरिंग में 13 लोगों की मौत, ग्रामीणों ने फूंकी गाड़ियां, CM ने दिए SIT जांच के निर्देश